Breaking News
Home / उत्तरप्रदेश / गाजीपुर:-उदन्ड मार्तण्ड से शुक्ला जी ने रखी थी हिन्दी पत्रकारिता की नीव:पदमाकर

गाजीपुर:-उदन्ड मार्तण्ड से शुक्ला जी ने रखी थी हिन्दी पत्रकारिता की नीव:पदमाकर

राकेश पाण्डेय की रिपोर्ट

गाजीपुर:हिंदी पत्रकारिता दिवश पर आयोजित गोष्ठी की अध्यक्षता के दौरान अपने संबोधन मे श्रमजीवी पत्रकार यूनियन के राष्ट्रीय पार्षद व जिलाध्यक्ष पदमाकर पाण्डेय ने कहा कि जुगल किशोर जी शुक्ल वकील भी थे और कानपुर के रहने वाले थे। लेकिन उस समय औपनिवेशिक ब्रिटिश भारत में उन्होंने कलकत्ता को अपनी कर्मस्थली बनाया। परतंत्र भारत में हिंदुस्तानियों के हक की बात करना बहुत बड़ी चुनौती बन चुका था। इसी के लिए उन्होंने कलकत्ता के बड़ा बाजार इलाके में अमर तल्ला लेन, कोलूटोला से साप्ताहिक ‘उदन्त मार्तण्ड’ का प्रकाशन शुरू किया। यह साप्ताहिक अखबार हर हफ्ते मंगलवार को पाठकों तक पहुंचता था।

परतंत्र भारत की राजधानी कलकत्ता में अंग्रजी शासकों की भाषा अंग्रेजी के बाद बांग्ला और उर्दू का प्रभाव था। इसलिए उस समय अंग्रेजी, बांग्ला और फारसी में कई समाचार पत्र निकलते थे। हिंदी भाषा का एक भी समाचार पत्र मौजूद नहीं था। हां, यह जरूर है कि 1818-19 में कलकत्ता स्कूल बुक के बांग्ला समाचार पत्र ‘समाचार दर्पण’ में कुछ हिस्से हिंदी में भी होते थे।

हालांकि ‘उदन्त मार्तण्ड’ एक साहसिक प्रयोग था, लेकिन पैसों के अभाव में यह एक साल भी नहीं प्रकाशित हो पाया। इस साप्ताहिक समाचार पत्र के पहले अंक की 500 प्रतियां छपी। हिंदी भाषी पाठकों की कमी की वजह से उसे ज्यादा पाठक नहीं मिल सके। दूसरी बात की हिंदी भाषी राज्यों से दूर होने के कारण उन्हें समाचार पत्र डाक द्वारा भेजना पड़ता था। डाक दरें बहुत ज्यादा होने की वजह से इसे हिंदी भाषी राज्यों में भेजना भी आर्थिक रूप से महंगा सौदा हो गया था।

पंडित जुगल किशोर ने सरकार ने बहुत अनुरोध किया कि वे डाक दरों में कुछ रियायत दें जिससे हिंदी भाषी प्रदेशों में पाठकों तक समाचार पत्र भेजा जा सके, लेकिन ब्रिटिश सरकार इसके लिए राजी नहीं हुई। अलबत्ता, किसी भी सरकारी विभाग ने ‘उदन्त मार्तण्ड’ की एक भी प्रति खरीदने पर भी रजामंदी नहीं दी।

पैसों की तंगी की वजह से ‘उदन्त मार्तण्ड’ का प्रकाशन बहुत दिनों तक नहीं हो सका और आखिरकार 4 दिसम्बर 1826 को इसका प्रकाशन बंद कर दिया गया। आज का दौर बिलकुल बदल चुका है। पत्रकारिता में बहुत ज्यादा आर्थिक निवेश हुआ है और इसे उद्योग का दर्जा हासिल हो चुका है। हिंदी के पाठकों की संख्या बढ़ी है और इसमें लगातार इजाफा हो रहा है।

इस मौके पर संगठन के विजय शंकर तिवारी,रामचंद्र सिह, उदय गुप्ता, नीरज श्रीवास्तव, बिजय यादव पंकज राय, विनय दूबे, सतीश कुमार, रत्नाकर पाण्डेय राम प्रवेश राय,बिकास राय, नसीम सिद्धिकि,राकेश सिंह,रामअधार मिश्रा, शिवकुमार मिश्रा, वकील राम, सोनू गुप्ता, बिनय पासवान, अनिल प्रजापति, मनीष कुशवाहा आदि पत्रकारो, समाचार प्रतिनियो ने विचार ब्यक्त किया। संचालन वरिष्ठ पत्रकार व शिक्षक, कवि, विजय कुमार मधुरेश ने किया।

इस मौके पर जनपद के तमाम पत्रकार संगठनो की ओर से अलग अलग कई कार्यक्रम आयोजित किये गये। पत्रकार समिति की ओर से पुलिस अधीक्षक अरविंद व जनपद के कई समाज सेवियो को सम्मानित किया गया।

About IBN24X7NEWS

Check Also

संचारी रोग नियंत्रण अभियान व दस्तक पखवाड़ा का शुभारंभ सदर विधायक ने किया

रिपोर्ट अरविंद यादव ibn24x7news महाराजगंज महराजगंज:- जिला संयुक्त चिकित्सालय परिसर से संचारी रोग नियंत्रण अभियान …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *