Breaking News
Home / देश / देवरिया – जे0ई/ए0ई0एस के प्रभावी नियन्त्रण एवं रोक थाम हेतु आज विकास भवन के गाॅधी साभागार में जागरूकता कार्यशाला जिलाधिकारी सुजीत कुमार की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ

देवरिया – जे0ई/ए0ई0एस के प्रभावी नियन्त्रण एवं रोक थाम हेतु आज विकास भवन के गाॅधी साभागार में जागरूकता कार्यशाला जिलाधिकारी सुजीत कुमार की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ

Ibn24x7news रिपोर्ट सुभाष चन्द्र यादव

देवरिया (सू0वि0) 15 जुलाई। जे0ई/ए0ई0एस के प्रभावी नियन्त्रण एवं रोक थाम हेतु आज विकास भवन के गाॅधी साभागार में जागरूकता कार्यशाला जिलाधिकारी सुजीत कुमार की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। इस दौरान उन्होने अन्तर विभागीय समन्वय के साथ सभी विभागो से इस विमारी के रोक थाम हेतु पूरे मनोयोग से कार्य करने का निर्देश दिया। साथ ही उन्हे अपनी जिम्मेदारियो का निर्वहन करते हुये जनपद को जे0ई/ए0ई0एस मुक्त किये जाने में अपनी भागीदारी निभाने को कहा। उन्होने जन जागरूकता ,साफ-सफाई को नियमित रूप से अपनाये जाने पर भी बल दिया। उन्होने कहा कि ऐसा प्रयास हो की जनपद में इस विमारी सेें किसी भी बच्चे की मृत्यु न हो इसके लिये सभी को टीम भाव से कार्य करने की जरूरत है।
जिलाधिकारी ने आगे कहा कि इस विमारी का प्रभावी नियन्त्रण किसी एक विभाग से सम्भव नही है बल्कि इससे जुडे सभी विभागो के आपसी समन्वय से ही यह नियन्त्रित किया जा सकता है। उन्होने कहा कि बुखार से पीडित बच्चो का चिन्हित करण करते हुये ईलाज हेतु नजदीकी पी0एच0सी0 व जिला चिकित्सालय में उन्हे पहुॅचाना चाहिये। उन्होने टीकाकरण कार्य को भी तत्परता से पूर्ण किया जाना चाहिये ताकि कोई बच्चा इससे वंचित न रहें।
जिलाधिकारी ने मत्स्य विभाग को तलाबो में गम्बुजियाॅ मछली डालने तथा ग्राम प्रधान व ग्राम पंचायत अधिकारियो को अन्य तलाबो में भी इस मछली को डालने हेतु कहा। पंचायती राज विभाग एंन्टीलार्वा छीडकाव एवं फागिंग का रोस्टर तैयार कर इस विमारी से प्रभावित जनपद के 220 गॅावो में विशेष तौर से कराने के निर्देश के साथ ही अन्य गाॅवो में भी इसे कराने हेतु ग्राम प्रधानो से कहा। बेसिक शिक्षा विभाग कल से स्कूलो की रैली तथा प्रार्थना सभा में बच्चो में इससे जागरूक करने को कहा। उन्होने कहा की सुअर इस विमारी का विशेष सम्बाहक होते है। सुअर वाडो को आवादी से दूर रखा जाय। शहरी क्षेत्र के सुअर वाडो को एक सप्ताह के अन्दर हटवाया जाये। गाॅवो की खुली बैठक में जे0ई/ए0ई0एस का ऐजेण्डा विन्दु रखा जाये और उस पर चर्चा कर लोगो को जागरूक किया जाये। स्कूलो में लगातार 2 दिन सेे अनुपस्थित रहने वाले बच्चो के कारण को भी पंजिका में उल्लिखित किया जायें।आशा,ए0एन0एम0 आगनवाडी कार्यकत्र्ती बुखार से पीडित बच्चो को चिन्हित कर उन्हे अस्पताल में भेजवाये। आशा कार्यकर्ती घर-घर जाकर इसके पोस्टर को चस्पा करेगी। तथा इस विमारी के प्रति चर्चा भी करेगीे। आगनवाडी कार्यकर्ती गर्भवती महिलाओ को जागरूक करेगी और उसका उल्लेख कार्यवृत्ति पंजिका में करेगी। निरीक्षण में इसका अकंन नही पाये जाने पर उनके विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी।
जिलाधिकारी ने जल निगम विभाग को खराब हैण्ड पम्पो को ठीक करने तथा उनके चबुतरे भी बनवाये जाने का निर्देश दिया। उन्होने कहा कि सामान्य हैण्ड पम्पो के जल का प्रयोग पीने के लिये न करें । इन पर लाल निशान लगाया जाय। उन्होनेे शौचालय निर्माण एवं उसका उपयोग करने को कहा।
मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 धीरेन्द्र कुमार ने कहा कि यह विमारी मच्छर जनित है। इसका बचाव ही एक मात्र प्रमुख उपाय है। इसके लिये एन्टिलार्वा का प्रयोग कर मच्छरो को नियन्त्रित करना चाहिये तथा इस विमारी के रोक थाम के लिये जो भी हम कर सके उसे बेहतरी से करना चाहिये।
स्लाईड व प्रोजेक्टर के माध्यम से इस विमारी के नियन्त्रण हेतु कार्य उपायो को प्रदर्शित करते हुये उपस्थित लोगो को जागरूक किया गया तथा उनसे अन्य लोगो में भी जागरूकता लाये जाने हेतु बड-चढ कर कार्य करने की अपेक्षा की गयी।
इसके पूर्व जिलाधिकारी श्री कुमार ने अपने कैम्प कार्यालय पर कल 16 जुलाई से प्रारम्भ हो रहे संचारी रोग नियन्त्रण माह के दस्तक पार्ट 2 के तैयारियो को लेकर जुडे अधिकारियो के साथ बैठक किये। इस दौरान उन्होने इस अभियान के सफल क्रियान्वन हेतु कार्य योजना अनुसार कार्य करने का निर्देश दिया। सलेमपुर में छुटटा सुअरो को घूमने तथा आवादी के बीच में सुअरवाडे को हटाये नही जाने पर नाराजगी व्यक्त की तथा अधिशासी अधिकारी सलेमपुर को निर्देश दिया कि ऐसे लोगो को धारा 133 की नोटिस दे। और सुअर वाडो को हटवाये अन्यथा उनके विरूद्ध ही कार्यवाही की जायेगी। उन्होने निष्क्रिय आशाओ को भी हटवाये जाने का निर्देश दिया। टीकाकरण कार्य में शिथिलिता बरतने वाले ए0एन0एम के खिलाफ भी कार्यवाही करने को कहा। उन्होने अधिकारियो से कहा कि ऐसा प्रयास हो कि कार्य सतही तौर पर दिख्ेा और परिणाम अच्छा आये । उन्होने इससे जुडे विभागो में नोडल अधिकारी भी इसके लिये नामित करने का निर्देश दिया।
कार्यशाला में अपर जिलाधिकारी एफ0आर0 सीताराम गुप्त जिला विकास अधिकारी श्रीकृष्ण पाण्डेय, डी0सी0 मनरेगा गजेन्द्र तिवारी,स्वच्छता समन्वय बृजेश पाण्डेय,ग्राम पंचायत अधिकारी, सी0डी0पी0ओ0,खण्ड शिक्षा अधिकारी गण सहित ग्राम प्रधान व अन्य संबंधित विभागो के अधिकारी कर्मचारी आदि उपस्थित रहेंै संचालन अनिल त्रिपाठी द्वारा किया गया। कार्यशाला का शुभारम्भ जिलाधिकारी ने द्वीप प्रज्वलन के साथ किया।
बैठक मंे ए0सीएम0ओ0 डा0 डी0वी0 शाही,जिला मलेरिया अधिकारी एस0पी0 त्रिपाठी,जिला कार्यक्रम अधिकारी सत्येन्द्र कुमार सिंह,मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी, जिला कृषि रक्षा अधिकारी रतन शंकर ओझा सहित अन्य अधिकारी गण आदि उपस्थित रहें।
प्रचारित प्रसारित द्वारा सूचना विभाग-देवरियादेवरिया (सू0वि0) 15 जुलाई। जे0ई/ए0ई0एस के प्रभावी नियन्त्रण एवं रोक थाम हेतु आज विकास भवन के गाॅधी साभागार में जागरूकता कार्यशाला जिलाधिकारी सुजीत कुमार की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। इस दौरान उन्होने अन्तर विभागीय समन्वय के साथ सभी विभागो से इस विमारी के रोक थाम हेतु पूरे मनोयोग से कार्य करने का निर्देश दिया। साथ ही उन्हे अपनी जिम्मेदारियो का निर्वहन करते हुये जनपद को जे0ई/ए0ई0एस मुक्त किये जाने में अपनी भागीदारी निभाने को कहा। उन्होने जन जागरूकता ,साफ-सफाई को नियमित रूप से अपनाये जाने पर भी बल दिया। उन्होने कहा कि ऐसा प्रयास हो की जनपद में इस विमारी सेें किसी भी बच्चे की मृत्यु न हो इसके लिये सभी को टीम भाव से कार्य करने की जरूरत है।
जिलाधिकारी ने आगे कहा कि इस विमारी का प्रभावी नियन्त्रण किसी एक विभाग से सम्भव नही है बल्कि इससे जुडे सभी विभागो के आपसी समन्वय से ही यह नियन्त्रित किया जा सकता है। उन्होने कहा कि बुखार से पीडित बच्चो का चिन्हित करण करते हुये ईलाज हेतु नजदीकी पी0एच0सी0 व जिला चिकित्सालय में उन्हे पहुॅचाना चाहिये। उन्होने टीकाकरण कार्य को भी तत्परता से पूर्ण किया जाना चाहिये ताकि कोई बच्चा इससे वंचित न रहें।
जिलाधिकारी ने मत्स्य विभाग को तलाबो में गम्बुजियाॅ मछली डालने तथा ग्राम प्रधान व ग्राम पंचायत अधिकारियो को अन्य तलाबो में भी इस मछली को डालने हेतु कहा। पंचायती राज विभाग एंन्टीलार्वा छीडकाव एवं फागिंग का रोस्टर तैयार कर इस विमारी से प्रभावित जनपद के 220 गॅावो में विशेष तौर से कराने के निर्देश के साथ ही अन्य गाॅवो में भी इसे कराने हेतु ग्राम प्रधानो से कहा। बेसिक शिक्षा विभाग कल से स्कूलो की रैली तथा प्रार्थना सभा में बच्चो में इससे जागरूक करने को कहा। उन्होने कहा की सुअर इस विमारी का विशेष सम्बाहक होते है। सुअर वाडो को आवादी से दूर रखा जाय। शहरी क्षेत्र के सुअर वाडो को एक सप्ताह के अन्दर हटवाया जाये। गाॅवो की खुली बैठक में जे0ई/ए0ई0एस का ऐजेण्डा विन्दु रखा जाये और उस पर चर्चा कर लोगो को जागरूक किया जाये। स्कूलो में लगातार 2 दिन सेे अनुपस्थित रहने वाले बच्चो के कारण को भी पंजिका में उल्लिखित किया जायें।आशा,ए0एन0एम0 आगनवाडी कार्यकत्र्ती बुखार से पीडित बच्चो को चिन्हित कर उन्हे अस्पताल में भेजवाये। आशा कार्यकर्ती घर-घर जाकर इसके पोस्टर को चस्पा करेगी। तथा इस विमारी के प्रति चर्चा भी करेगीे। आगनवाडी कार्यकर्ती गर्भवती महिलाओ को जागरूक करेगी और उसका उल्लेख कार्यवृत्ति पंजिका में करेगी। निरीक्षण में इसका अकंन नही पाये जाने पर उनके विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी।
जिलाधिकारी ने जल निगम विभाग को खराब हैण्ड पम्पो को ठीक करने तथा उनके चबुतरे भी बनवाये जाने का निर्देश दिया। उन्होने कहा कि सामान्य हैण्ड पम्पो के जल का प्रयोग पीने के लिये न करें । इन पर लाल निशान लगाया जाय। उन्होनेे शौचालय निर्माण एवं उसका उपयोग करने को कहा।
मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 धीरेन्द्र कुमार ने कहा कि यह विमारी मच्छर जनित है। इसका बचाव ही एक मात्र प्रमुख उपाय है। इसके लिये एन्टिलार्वा का प्रयोग कर मच्छरो को नियन्त्रित करना चाहिये तथा इस विमारी के रोक थाम के लिये जो भी हम कर सके उसे बेहतरी से करना चाहिये।
स्लाईड व प्रोजेक्टर के माध्यम से इस विमारी के नियन्त्रण हेतु कार्य उपायो को प्रदर्शित करते हुये उपस्थित लोगो को जागरूक किया गया तथा उनसे अन्य लोगो में भी जागरूकता लाये जाने हेतु बड-चढ कर कार्य करने की अपेक्षा की गयी।
इसके पूर्व जिलाधिकारी श्री कुमार ने अपने कैम्प कार्यालय पर कल 16 जुलाई से प्रारम्भ हो रहे संचारी रोग नियन्त्रण माह के दस्तक पार्ट 2 के तैयारियो को लेकर जुडे अधिकारियो के साथ बैठक किये। इस दौरान उन्होने इस अभियान के सफल क्रियान्वन हेतु कार्य योजना अनुसार कार्य करने का निर्देश दिया। सलेमपुर में छुटटा सुअरो को घूमने तथा आवादी के बीच में सुअरवाडे को हटाये नही जाने पर नाराजगी व्यक्त की तथा अधिशासी अधिकारी सलेमपुर को निर्देश दिया कि ऐसे लोगो को धारा 133 की नोटिस दे। और सुअर वाडो को हटवाये अन्यथा उनके विरूद्ध ही कार्यवाही की जायेगी। उन्होने निष्क्रिय आशाओ को भी हटवाये जाने का निर्देश दिया। टीकाकरण कार्य में शिथिलिता बरतने वाले ए0एन0एम के खिलाफ भी कार्यवाही करने को कहा। उन्होने अधिकारियो से कहा कि ऐसा प्रयास हो कि कार्य सतही तौर पर दिख्ेा और परिणाम अच्छा आये । उन्होने इससे जुडे विभागो में नोडल अधिकारी भी इसके लिये नामित करने का निर्देश दिया।
कार्यशाला में अपर जिलाधिकारी एफ0आर0 सीताराम गुप्त जिला विकास अधिकारी श्रीकृष्ण पाण्डेय, डी0सी0 मनरेगा गजेन्द्र तिवारी,स्वच्छता समन्वय बृजेश पाण्डेय,ग्राम पंचायत अधिकारी, सी0डी0पी0ओ0,खण्ड शिक्षा अधिकारी गण सहित ग्राम प्रधान व अन्य संबंधित विभागो के अधिकारी कर्मचारी आदि उपस्थित रहेंै संचालन अनिल त्रिपाठी द्वारा किया गया। कार्यशाला का शुभारम्भ जिलाधिकारी ने द्वीप प्रज्वलन के साथ किया।
बैठक मंे ए0सीएम0ओ0 डा0 डी0वी0 शाही,जिला मलेरिया अधिकारी एस0पी0 त्रिपाठी,जिला कार्यक्रम अधिकारी सत्येन्द्र कुमार सिंह,मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी, जिला कृषि रक्षा अधिकारी रतन शंकर ओझा सहित अन्य अधिकारी गण आदि उपस्थित रहें।
प्रचारित प्रसारित द्वारा सूचना विभाग-देवरिया

About IBN24X7NEWS

It's a online news web channel running as IBN24X7NEWS.

Check Also

कर्नाटक के मंत्री केएस ईश्वरप्पा को फोन पर 48 घंटे में मारने की धमकी

कर्नाटक के मंत्री केएस ईश्वरप्पा: एक बदमाश ने मुझे फोन पर धमकी दी। उसने मुझे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp For any query click here