Breaking News
Home / देश / बिहार: समस्तीपुर :राजद के प्रदेश प्रवक्ता व विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने बिहार के मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर समस्तीपुर प्रखंड सहित सम्पूर्ण समस्तीपुर जिला में बदहाल विद्युत् व्यवस्था को सुचारु करने की मांग की है 

बिहार: समस्तीपुर :राजद के प्रदेश प्रवक्ता व विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने बिहार के मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर समस्तीपुर प्रखंड सहित सम्पूर्ण समस्तीपुर जिला में बदहाल विद्युत् व्यवस्था को सुचारु करने की मांग की है 

समस्तीपुर :राजद के प्रदेश प्रवक्ता व विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने बिहार के मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर समस्तीपुर प्रखंड सहित सम्पूर्ण समस्तीपुर जिला में बदहाल विद्युत् व्यवस्था को सुचारु करने की मांग की है 
राजद प्रवक्ता ने अपने पत्र में कहा है की विद्युत् बिभाग के अधिकारियो की उदासीनता की वजह से सम्पूर्ण समस्तीपुर ज़िले में त्राहिमाम की स्थिति है l लोगो का जीवन नारकीय हो गया है l बिजली कटौती से बच्चे और बुजुर्ग को खाशकर बेहद परेशानियों का सामना करना पर रहा है l पेयजल संकट , स्नान , कपड़े धोने आदि में परेशानी हो रही है l ग्रामीण क्षेत्रों की स्थिति तो और भी दुखदाई है l
समस्तीपुर में हजारो विद्युत् उपभोक्ताओं के त्रुटिपूर्ण बिद्युत बिलो में सुधार नहीं हो रहा है l विद्युत् कर्मियों का व्यवहार उपभोक्ताओं तथा राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओ के साथ मधुर नहीं है l
समस्तीपुर शहरी के सहायक विद्युत् अभियंता (आपूर्ति ) अपने पद के अनुरूप अपने दायित्व का निर्वहन करने में पूर्णतः असफल है l उनकी उदासीनता व लापरवाही की वजह से समस्तीपुर शहर में विद्युत् व्यवस्था पूर्णतः बदहाल है उन्होंने कहा की समस्तीपुर में विद्युत् बिभाग उदासीनता , लापरवाही , अकर्मण्यता व अराजकता की पर्याय बन चुकी है l
उन्होंने अविलम्ब समस्तीपुर शहरी सहायक विद्युत् अभियंता के तबादले की मांग करते हुए बदहाल विद्युत् व्यवस्था को सुचारु करने की मांग की है l उन्होंने कहा की अविलम्ब बदहाल विद्युत् व्यवस्था को सुचारु किया जाय अन्यथा विद्युत् बिभाग के खिलाफ आक्रोशपूर्ण आंदोलनों की शंखनाद की जाएगी |
 
रिपोर्ट विजय कुमार शर्मा ibn24x7news पश्चिमी चंपारण बिहार

About IBN24X7NEWS

Check Also

10% आरक्षण बिल पास होने के तुरंत बाद ही सुप्रीम कोर्ट में मिली चुनौती

रिपोर्ट राजीव रंजन ibn24x7news सिवान (बिहार)   10% आरक्षण को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *