Breaking News
Home / उत्तरप्रदेश / झाँसी:-प्रशासन की लापरवाही की भेंट चढ़ी पेयजल परियोजना को चालू कराने की मांग

झाँसी:-प्रशासन की लापरवाही की भेंट चढ़ी पेयजल परियोजना को चालू कराने की मांग

ब्यूरो चीफ झाँसी

रिपोर्ट – महेन्द्र सिंह सोलंकी

झाँसी 30 मार्च। शासन द्वारा ग्रामीणों को पेयजल समस्या से निजात दिलाने के लिए पिछले करीब 8 वर्ष पूर्व ग्रामीण इलाकों में लाखों की लागत से पेयजल परियोजनाओं की स्थापना कराई गई थी। किन्तु योजना का सही क्रियान्वयन न होने पर इसका ग्रामीणों को कोई लाभ नहीं मिला। इस परियोजना में विशाल टंकी,बोरिंग पम्प हाउस व आपरेटर कक्ष बनाया गया। किन्तु प्रशासन की लापरवाही के चलते परियोजनाएं ठप पड़ीं हुईं हैं।
जानकारी के मुताबिक तहसील गरौठा के अंतर्गत ग्राम इमलौटा पेयजल परियोजना के ठप होने का कारण बोरिंग में पर्याप्त मात्रा में पानी न होना है। ग्राम पंचायत इमलौटा ग्राम प्रधान हाकिम सिंह यादव ने बताया कि इतनी बड़ी व महत्वपूर्ण परियोजना हेतु भू जल सर्वे कराये बिना विभागीय कर्मचारियों ने वोरिंग करा कर परियोजना की आनन फानन में स्थापना कर दी। कम गहराई की बोरिंग होने से चंद दिनों के बाद पानी की सप्लाई बंद हो गई जो आज भी उसी हाल में है। ऐसा ही हाल ग्राम खेरी में स्थापित पेयजल परियोजना का है। यह जिम्मेदार विभागीय अधिकारियों की उदासीनता व लापरवाही का जीता जागता उदाहरण है। जिसका खामियाजा ग्रामीणों को भुगतना पड़ रहा है। गर्मी के मौसम के शुरू होते ही पेयजल संकट को देखते हुए खेरी ग्राम प्रधान प्रतिनिधि महेन्द्र सिंह राजपूत व इमलौटा ग्राम प्रधान हाकिम सिंह यादव ने जिले के आला अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराते हुए अविलम्ब पेयजल परियोजनाओं को चालू कराने की मांग की है।

About IBN24X7NEWS

Check Also

मड़िहान : उपजिलाधिकारी के नेतृत्व में सड़क किनारे बने नाली से हटवाया गया अतिक्रमण

उप जिला अधिकारी मड़िहान सुरेंद्र कुमार सिंह के नेतृत्व में व खंड विकास अधिकारी दिनेश …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *