फरीदाबाद: डीसी आफिस पर गुस्साई वर्करों ने किया प्रदर्शन

डीसी आफिस पर गुस्साई वर्करों ने किया प्रदर्शन

फरीदाबाद:आंगनबाड़ी वर्कर्स एंव हैल्पर्स के साथ किये समझोते को लागू न करने से गुस्साई वर्करों ने डीसी आफिस पर आक्रोश प्रदर्शन किया । प्रदर्शन के बाद मुख्यमंत्री को नाम  8 सुत्री मांगों का ज्ञापन डीसी की गैर मौजूदगी में एसडीएम (ना.) फरीदाबाद  को सौंपा गया । यूनियन की प्रदेशाध्यक्ष देवेन्द्री शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित प्रदर्शन में सभी सर्कलों की वर्करों एंव हैल्परों ने भाग लिया। प्रदर्शन में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के महासचिव सुभाष लाम्बा, जिला प्रधान अशोक कुमार, जिला सचिव युद्वबीर सिंह खत्री, सीटू के महासचिव लाल बाबू शर्मा, आशा वर्कर यूनियन की जिला प्रधान हेमलता व सचिव सुधा, हुड्डा विभाग के नेता धर्मबीर वैष्णव व बिजली यूनियन के प्रधान करतार सिंह आदि उपस्थित थे ।

प्रदर्शनकारी वर्करों एंव हैल्परों सम्बोधित करते हुए    यूनियन की प्रदेशाध्यक्ष देवेन्द्री शर्मा ने सरकार को चेतावनी दी कि अगर सरकार ने 10 मार्च को किये समझोते को लागू नही किया तो 52 हजार आंगनबाड़ी वर्कर एंव हैल्पर पुनः प्रदेशव्यापी हड़ताल करने पर मजबूर होगी । जिसके लिए सरकार जिम्मेदार होगी । उन्होने आईसीडीएस में टेक होम राशन के स्थान पर प्रत्यक्ष नकदी हस्तांतरण लाने, आईसीडीएस में पैकेट फूड और आईसीडीएस के केन्द्रीय आवंटन में कटौती करने की कड़ी आलोचना की । उन्होने कहा कि  हड़ताल के बाद 10 मार्च को हुए 12 सुत्री मांगों पर समझोता हुआ था । जिसमें आज तक केवल सिर्फ वेतन बढोतरी, हेल्पर्स की वर्दी ओर गैस सिलेंडर, सेंटरों के किराए का पत्र जारी हुआ है ।

परंतु अन्य स्वीकृत मांगों के आज तक पत्र जारी न होने से वर्करों एंव हैल्परों में भारी आक्रोश है । यूनियन की नेता गीता, बिधू प्रभा, सुरेन्द्री ने गर्मी व सर्दी की छुटियां वर्कर्स व हैल्पर को कम से कम 15 दिन देने, हैल्पर को 5715 रूपये मानदेय के अलावा 10.20.30 वर्ष के सेवाकाल की तीन कैटेगरी बनाकर पहली को 5,दुसरी को 10 व तीसरी को 15 प्रतिशत अतिरिक्त वेतन देने, हैल्पर से वर्कर व वर्कर से सुपरवाइज़र की परमोशन 50 प्रतिशत केवल वरिष्ठता के आधार पर करने  आदि मांगो को  प्रमुखता से उठाया।

 

रिपोर्ट बी. आर. मुराद ibn24x7news  फरीदाबाद,हरियाणा

Please follow and like us:facebook,twitter,instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *