Breaking News

सिवान बिहार: राहुल के मौत के बाद पुरे क्षेत्र में शोक की लहर

रिपोर्ट राजीव रंजन ibn24x7news सिवान (बिहार)

सीवान जीरादेई थाना क्षेत्र और सीवान मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के सीमावर्ती गाँव भांतपोखर में गुरुवार की सुबह परीक्षा देने जा रहे विधार्थी राहुल का एक सड़क दुर्घटना ने उसके परिवार पर मुसीबत का पहाड़ बनकर टूट गया।
बता दे कि राहुल परीक्षा देने के लिए साइकिल पर सवार होकर परीक्षा देने जा रहा था कि एक ट्रैक्टर के चपेट में आने से उसकी घटना स्थल पर ही मौत हो गई।

जिसको लेकर परिवार वालो में मातम छा गया।
साथ ही इस दुर्घटना ने पुरे क्षेत्र में शोकाकुल माहौल पैदा कर दिया हैं और राहुल के मौत को लेकर ग्रामीणों के साथ-साथ समाज के हर व्यक्ति के चेहरे पर उदासी छाई हुई नजर आया।

परिवार का सपना था कि राहुल को पढ़ा कर बड़ा आदमी बनाना

राहुल सीवान जीरादेई थाना क्षे्र ठेफाँन पूर्वांचल टोला निवासी हरिश्चन्द्र के 3 पुत्र और पुत्री में मंझिल था परिवार और उसका बड़ा भाई का प्यार जो अपना भाई को पढकर कोई अल्ला अधिकारी बना चाहता था।
जिसको लेकर वह हमेसा खेती करता था और परिवार वालो पर राहुल को बोझ नही बनने देता था।
और वह हमेशा चाहता था कि राहुल के पढाई में कोई तकलीफ ना हो बड़े भाई के प्यार को देखते हुए भी राहुल के परिवार वालों ने राहुल को पढ़ा लिखाकर बड़ा आदमी बनाना चाहते थे लेकिन एक गुरुर काल ने इस घटना के साथ ही इस परिवार वालों का सपना पल भर में बिखेर दिया।

राहुल आगे चल कर अभियन्ता बना चाहता था

राहुल के दोस्त मनीष का कहना है कि राहुल पढाई-लिखाई को लेकर हमेशा एक्टिव नजर आता था वह हमलोग से हमेसा चर्चा करता था कि हम पढ़-लिखकर अभियन्ता बनाना हैं।

राहुल के साथ उस दोस्त भी हुवा जख्मी

बतादे कि आज सुबह हिंदी के पेपर देने के लिए उसका दोस्त मनीष भी उसके साथ परीक्षा देने साइकिल से सीवान जा रहा था।
मनीष के माने तो मनीष का कहना हैं कि राहुल आगे चल रहा था उसके पीछे मैं था।
ट्रैक्टर का स्पीड कण्ट्रोल नही होने से राहुल का घटना स्थल पर ही मौत हो गया लेकिन उसका स्पीड मनीष तक भी जा पंहुचा लेकिन भगवान ने मनीष को सही सलामत रखने का कार्य किया।

अधिकारी ने मुयाजा देने कि किया घोषणा

इस घटना को लेकर जैसे ही सीवान मुफ्फसिल थाना को सूचना मिली कि थाना ने घटना स्थल पर पहुँचकर राहुल और मनीष को बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल भेजा लेकिन रास्ते में ही राहुल नही बच पाया और मनीष पर डॉक्टरों की टीम ने जल्दबाजी दिखाकर मनीष को सही से इलाज किया।

जैसे ही इसकी सूचना परिजनों को मिली पुरे सदर अस्पताल में लोगों की भीड़ का सैलाब उमड़ पड़ा।

जिसके बाद प्रशासन के आला अधिकारीयों द्वारा जिला और प्रखंड से 4.25 लाख रुपए मुआवजा का ऐलान किया।

राहुल के मौत के बाद राहुल कि माँ का बुरा हाल

राहुल कि मौत कि जैसे ही खबर उसकी माँ को मिली माँ ने रो-रो कर अपना बुरा हाल बना लिया।
राहुल कि माँ का कहना हैं कि हे भगवान हमार जान ले लह हमार बाबू के जान दे द।

क्षेत्र में शोक का लहर

राहुल के मौत के बाद क्षेत्र में शोक का लहर हैं जहाँ देखिये लोगो का कहना हैं राहुल अच्छा लड़का था भगवान इ तु का कईलह्।

इस घटना के खबर सुनते हि क्षेत्र के सभी जनप्रतिनिधियो द्वारा परिवार के लोगो को तसली और ढांढ़स बंधाने का कार्य शुरू हो गया है।

About IBN24X7NEWS

Check Also

बहराइच : जहरखुरानों ने 2 बच्चों को बनाया अपना शिकार

बहराइच थाना कैसरगंज के अन्तर्गत आने वाला ग्रामपंचायत बिराहिमपुर के दो लडके मोहम्मद युनुस और …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *