Breaking News

इटावा: पक्षियों की गणना आवाज से ही की जा सकती

रिपोर्ट  अंकुर त्रिपाठी ibn24x7news इटावा

इटावा: उत्तर प्रदेश के इटावा मे इटावा सफारी पार्क, उत्तर प्रदेश वन विभाग एवं टर्टल सर्वाइवल एलायंस द्वारा इटावा सफारी पार्क में एक तीन दिन की पक्षियों का संरक्षण एवं शोध पर कार्यशाला का आयोजन किया गया। कुल 18 प्रतिभागियों ने इस कार्यशाला में प्रतिभागिता की जिसमें वन विभाग के कर्मचारी, विद्यार्थी, एनजीओ, बर्ड वॉचर आदि शामिल थे। मुख्य वक्ता मशहूर पक्षी वैज्ञानिक डाक्टर असद आर रहमानी ने तीन दिनों तक चिड़ियों के विभिन्न विषयों पर क्लास एवं विस्तृत फील्ड दोनों प्रकार से प्रशिक्षण दिया। कार्यशाला में डाक्टर रहमानी द्वारा पक्षियों को पहचानने के तरीके, उनकी गणना, उनके माइग्रेशन एवं विभिन्न पक्षियों पर विभिन्न प्रकार के रिंगिग , ट्रांसमीटर, सेटेलाइट टैग आदि के विषय में विस्तार से जानकारी दी।

यह जानकारी डाक्टर रहमानी द्वारा न केवल लेक्चर के माध्यम से दी गई बल्कि उन्होंने लाइन एवं प्वाइंट ट्रांजिट काउंट को प्रेक्टिकल भी करवाया, साथ ही इस पक्षियों के संरक्षण एवं शोध के लिए गुर भी सिखाए। कार्यशाला में आए प्रतिभागियों ने बताया कि इस कार्यशाला द्वारा उनको बहुत लाभ पहुंचा है खास तौर पर परास्नातक एवं पीएचडी के विद्यार्थियों को बहुत सी बातों की जानकारी मिली।

वनविभाग के फ्रंट लाइन स्टाफ को भी इस कार्यशाला में पक्षियों को पहचानने के गुर बताए गया। सबसे खास बात ये है कि डाक्टर रहमानी ने पक्षियों को उनकी आवाज से पहचान कर गणना करना भी सिखाया।

कार्यशाला के समापन में सभी प्रतिभागियों से उनके फीडबैक लिए गए और उन्हें इस प्रशिक्षण में जानकारी पाने का एक प्रमाणपत्र भी दिया गया। टर्टल सर्वाइवल एलायंस की तरफ से राज बहादुर उत्तम जो पार्क में एक वैज्ञानिक हैं, को स्मृति चिन्ह भेंट किया गया। संचालन टर्टल सर्वाइवल एलायंस के डाक्टर अपूर्व राय और भास्कर दीक्षित एवं इटावा सफारी पार्क के सभी कर्मचारियों के सहयोग से किया गया।

About IBN24X7NEWS

Check Also

बहराइच : जम्मू- कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद सीआरपीएफ जवानों के सम्मान में व आतंकवाद के विरुद्ध सोमवार को जरवलरोड बाजार पूर्ण रूप से बंद रहा

जरवलरोड बहराइच बहराइच जिले में जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *