Breaking News

भ्रम फैलाने वालो से रहे सावधान 23 का करे इंतजार, मतदाताओं का करे सम्मान : काठू सिंह

रिपोर्ट राकेश पाण्डेय ibn24x7news ग़ाज़ीपुर

बीते लोकसभा चुनाव में कानून व्यवस्था के साथ-साथ आयोग ने भी सकारात्मक भूमिका निभाने का काम किया है। हर इलाके के जन प्रतिनिधि व कार्यकर्ता जी-जान से अपने दलो की स्थिति मजबूत करने में लगे रहे। सैदपुर विधानसभा की राजनीति में अपनी पहचान रखने वाले कई ऐसे लोग भी थे जो चुनाव में अपनी भूमिका तटक्ष ही रखे।

सैदपुर विधानसभा हालात को देखते हुए शिवशंकर सिंह के पुत्र व जिले में लम्बे समय से भारतीय जनता पार्टी से जुड़े हुए डा0 मुकेश व दामाद एम0एल0सी0 चंचल सिंह समेत कई बड़े परिवार भारतीय जनता पार्टी के साथ खड़े दिखे। जबकि इलाके में अपनी अलग हैसियत रखने वाले त्रिभुवन सिंह का परिवार भी भाजपा के साथ खड़ा दिखा। त्रिभुवन सिंह के बड़े भाई रामनगीना सिंह बहुजन समाज पार्टी के नेता है लेकिन अफजाल के प्रत्याशी बन जाने के बाद नगीना सिंह ने अपने आपको चुनाव से अलग ही रखा है। एक तरीके से देखा जाय तो सैदपुर के समाजवादी खेमे की अगुवाई विजय यादव व सुभाष पासी ने ही की। इस बात की चुनाव में पूर्व प्रमुख रमाशंकर सिंह उर्फ काठू सिंह ने अपने आप को अलग ही रखा। उनका कहना है कि वह स्व0 रामकरन दादा के परिवार के सदस्य की तरह है और पूरा परिवार भाजपा के साथ-साथ ऐसे में वह खुद अपने सम्बन्धों व परिवारिक रिश्तों को कायम रखना चाहते है। चुनाव से बहुत कुछ लेना देना नही है। हम बिजनैसमैन आदमी है परिवार के लड़के राजनीति का काम करते है। हम पारिवारिक सम्बन्धों व रिश्तो तक ही सीमित है। हालांकि मेरा स्वास्थ्य भी खराब है। जिसके चलते घूमना फिरना कम हो रहा है।

उन्होनें कहा कि मतदान एक बड़ा पर्व हैं। इसमे सबको अपनी भागीदारी करनी चाहिए। मतदान के बाद एग्जिट पोल के आधार पर बहसबाजी करना या मतदान के बाद शान्त जनता व माहौल को भ्रमित करने के लिये लोगो पर आरोप लगाकर नाहक दुष्प्रचार से सभी को बचना चाहिए। जनता ने जो भी फैसला दिया है उसका सम्मान करना सभी लोगो को दायित्व है। सैदपुर में सभी मतदाताओं ने बिना डर व दबाव के अपने विवेक से अपने मत का प्रयोग किया है। इस इलाके में कोई गोलबन्दी व राजनीति कहीं हावी नही है। जनता ने मतदान किया है और उस पर उंगली उठाकर वोट देने वाली जनता का अपमान है। लोगो को 23 तारीख का इंतजार करना चाहिए।

About IBN24X7NEWS

Check Also

अमेठी हत्याकांड पर डीजीपी बोले- राजनीतिक रंजिश में हुई वारदात

अमेठी हत्याकांड पर डीजीपी बोले- राजनीतिक रंजिश में हुई वारदात अमेठी में भाजपा सांसद स्मृति …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *