Breaking News

फरीदाबाद : प्राइवेट स्कूलों में आरक्षित सीटों पर दाखिले के लिए कुल चार हजार छात्रों ने दिया एग्जाम

रिपोर्ट बी. आर. मुराद ibn24x7news  फरीदाबाद,हरियाणा

625 छात्रों ने छोड़ा एडमिशन एग्जाम

फरीदाबाद:हरियाणा शिक्षा के नियमानुसार 134 ए के तहत प्राइवेट स्कूलों में खाली सीटों पर एडमिशन के लिए परीक्षा कराई गई | कक्षा दूसरी से बारहवीं तक एडमिशन के लिए हुए एग्जाम में दोनों सेंटरों पर 44 सौ परीक्षार्थी शामिल हुए | वहीं कुल 625 परीक्षार्थियों ने एग्जाम छोड़ दिया | फरीदाबाद,बल्लभगढ़ खंड में एग्जाम के लिए तकरीबन 48 सौ परीक्षार्थी पंजीकृत थे | परीक्षा के दौरान कुछ सेंटरों पर गंदे हालात देखने को मिले हैं |

एग्जाम दिलाने के लिए बच्चों के साथ दर-दर की ठोकरें खाते रहे अभिभावक

एनआईटी नंबर-05 राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के पार्क में एग्जाम दिलाने आए अभिभावकों ने अपने बच्चों के एग्जाम के लिए सेंटर ढूंढने में परेशानी का सामना किया मिशन तालीम के अध्यक्ष एकरामुल हक के पास पहुंच कर शिकायत की है |

अभिभावकों का कहना था कि हम सुबह के समय 7:30 बजे घर से निकले हुए हैं पर हमें कहीं भी सेंटर नही मिला तो हमने मिशन तालीम के अध्यक्ष एकरामुल हक के पास फोन करके जानकारी ली है | तो वहीं मिशन तालीम के अध्यक्ष एकरामुल हक का कहना है कि हमारे गरीबों के बच्चों प्राइवेट स्कूलों में सीट खाली होने पर भी नही बैठाते हैं और जब हम कहते हैं कि इस बच्चे का सीट नंबर आपके स्कूल में है तो प्रिंसिपल और टिचरों का साफ कहना होता है कि हमारी यहां अब कोई भी सीट खाली नही है आप अपने बच्चे को किसी ओर स्कूल ले जाओ ये बातें कह कर निकाल देते हैं |

टेबल पर बैठाकर परीक्षा नही ली गई

एग्जाम सेंटरों में छात्रों को बैठाने के लिए कोई सही व्यवस्था भी शिक्षा विभाग ने नही की थी | ऐसे में सभी परीक्षार्थियों को जमीन पर बैठकर परीक्षा देनी पड़ी | माहौल सबसे शर्मनाक था कि बच्चों के लिए साफ-सफाई तक नहीं थी और साथ जमीन पर बिछाने के दरी तक का इंतिजाम तक नहीं रहा है |

परीक्षा के लिए नौ सेंटर बनाए गए थे

जिला शिक्षा अधिकारी सतेंद्र कौर वर्मा ने शहर में कुल नौ सेंटरों पर परीक्षा सम्पन्न हुई | इसमें फरीदाबाद के कुल सात और बल्लभगढ़ के दो सेंटर शामिल थे | फरीदाबाद जिले में करीब 3 हजार परीक्षार्थी ने पंजीकृत कराया था | इनमें से करीब 25 सौ परीक्षार्थी एग्जाम में शामिल हुए हैं |

सबसे बड़ा बुरा हाल एनआईटी नंबर-03 के राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में देखने को ये मिला कि अभिभावक स्कूल के गेट पर खड़े होकर हल्ला-हुल्ला करने में कोई नही छोड रहे थे | इसी सोर में ये सुनाई पड़ा कि पेपर लिक हो गया है पर ऐसा कुछ नही हुआ था | जबकि स्कूल के अंदर हरियाणा पुलिस के जवान भी तैनात किए गए थे फिर भी माहौल को शांत करने में बहुत बड़े आसमर्थ दिखाई दिए |

एग्जाम के समय बच्चों को पानी तक पीने तक मौका नही दिया

जब एग्जाम का समय समापन हुआ तो बच्चे बहार आते के साथ ये कहने लगे पापा पहले पानी पीला दो इस बात को सुनकर ये पता चला कि बच्चों को स्कूल के अंदर पानी तक नही पीने दिया गया है |

About IBN24X7NEWS

Check Also

हरियाणा :-त्रिमासिक परेड का अभ्यास और फर्स्ट एड पोस्ट लगाई गई

Ibn24x7news फरीदाबाद से बी.आर.मुराद की रिपोर्ट फरीदाबाद:राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सराय ख्वाजा की सैंट …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *