Breaking News

कटरा के माननीय श्री विक्रम सिंह विधायक को आया गुस्सा आधीरात कोआधी रात के बाद कटरा विधायक को आया गुस्सा

 

आधी रात के बाद कटरा विधायक को आया गुस्सा

अपने समर्थकों पर पुलिस द्वारा मुकदमा दर्ज करने से नाराज होकर बुधवार आधी रात कटरा विधायक वीर विक्रम सिंह सीओ के आवास पर पहुंचे।

बहुत देर तक सीओ ने दरवाजा ही नहीं खोला। विधायक ने जब नाम बताया तब सीओ बाहर आए। विधायक ने उनसे खूब नाराजगी जताई।

हंगामे की सूचना पर भारी पुलिस बल सीओ आवास पर पहुंच गया। इसके बाद विधायक अपने समर्थकों के साथ चले गए और जैतीपुर थाने में जाकर रिपोर्ट दर्ज करने को कहा।

तहरीर दी, बाद में विधायक के समर्थक की ओर से ब्लाक प्रमुख पति और उसके बेटों पर मुकदमा लिखा गया। इधर रात में हुए हंगामें की जानकारी सीओ ने उच्चाधिकारियों को दी।

जैतीपुर ब्लॉक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव आने के बाद 15 नवंबर को ब्लॉक प्रमुख चुनाव होना प्रस्तावित है। चर्चा है कि अपना ब्लाक प्रमुख बनवाने के लिए भाजपा विधायक जहां लगे हुए हैं, l

वहीं, सपा के पूर्व विधायक अपना पूरा जोर लगा रहे हैं। इसी चुनाव को लेकर 3 नवंबर को गढ़िया रंगीन के गांव घसा कल्याणपुर निवासी क्षेत्र पंचायत सदस्य विक्रम को रात में कुछ लोगों ने अपहरण कर लिया था।

विक्रम के पुत्र पवन ने पुलिस के उच्चाधिकारियों से पिता का अपहरण होने की शिकायत की थी। इसके कुछ घंटे बाद गाड़ी से कुछ लोग विक्रम को उसके घर छोड़ कर चले गए।अगले दिन 4 नवंबर को विक्रम ने कुछ लोगों के खिलाफ अपहरण करने की तहरीर गढ़िया रंगीन पुलिस को दी, लेकिन पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया।

उसके बाद उसने अपनी शिकायत सीओ मंगल सिंह रावत से की, जिस पर सीओ ने विक्रम को जांच कर कार्रवाई करनेे का आश्वासन दिया था। पुलिस द्वारा मुकदमा दर्जज न करने विक्रम ने इसकी शिकायत एसपी तथा उच्चाधिकारियों सेे की।

इसक बाद गढ़िया रंगीन पुलिस ने कटरा विधायक वीर विक्रम सिंह प्रिंस के खास पहाड़पुर गांव निवासी जगवीर सिंह, मरैना गांव निवासी पीयूष व घसा कल्याणपुर गांव निवासी अंतोष के खिलाफ कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया।


रात 3:30 बजे विधायक मंगल सिंह रावत सीओ आवास पर पहुंचे

विधायक को जब यह जानकारी मिली तो वह बुधवार रात लगभग 3:30 बजे अपने महिला तथा पुरुष समर्थकों के साथ सीओ आवास पर पहुंचे। देर रात जब भीड़ देखकर सीओ आवास पर तैनात सुरक्षा गार्डों ने दरवाजा नहीं खोला तो चर्चा है

कि विधायक समर्थकों ने जमकर हंगामा काटा और दरवाजे को पीटना शुरू कर दिया। गेट खुलवाने को लेकर समर्थकों की होमगार्ड से तीखी नोकझोंक हुई।

विधायक और सीओ में भी जमकर तीखी नोकझोंक

=चर्चा है कि विधायक ने जबरन होम गार्डों से सीओ आवास का दरवाजा खुलवा लिया। इसके बाद सभी समर्थक सीओ आवास में घुस गए और हंगामा काटने लगे।

होमगार्ड ने हंगामे की सूचना फोन पर सीओ को दी जिस पर सीओ ने कोतवाल सुनील अहलावत सहित भारी पुलिस बल आवास पर बुला लिया।

इसके बाद सीओ अपने कमरे से बाहर आए और विधायक से बात करने का प्रयास किया, लेकिन विधायक ने सीओ को खरी खोटी सुनाना शुरू कर दिया।

इस पर विधायक तथा सीओ में जमकर तीखी नोकझोंक हुई। कोतवाल तथा अन्य पुलिसकर्मियों के समझाने के बाद विधायक अपने समर्थकों को लेकर जैतीपुर थाने चले गए।

चर्चा है कि विधायक तथा उनके समर्थकों ने जैतिपुर थाने में भी जाकर जमकर हंगामा काटा और फर्जी मुकदमा दर्ज करने का दबाव बनाया।

देर रात विधायक तथा उनके समर्थकों ने मेरे आवास पर आकर आवास पर तैनात सुरक्षा गार्डों से अभद्रता की। विधायक तथा समर्थकों को मेरे द्वारा भी कई बार समझाने का प्रयास किया गया,l

लेकिन वह लोग नहीं माने। देर रात किसी के आवास पर इस तरीके से आना निंदनीय है। पूरी जानकारी उच्चाधिकारियों को दे दी गई है।

 

 

रिपोर्ट जितेंद्र कुमार ibn24x7news शाहजहांपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

× For any query click here ( IBN )