Breaking News
Home / मध्यप्रदेश / अनूपपुर / अनूपपुर (मध्यप्रदेश): जय किसान फसल ऋण माफी योजना संबंधी समस्या शिकायत के लिए अनुविभाग एवं जिला स्तर पर समिति गठित

अनूपपुर (मध्यप्रदेश): जय किसान फसल ऋण माफी योजना संबंधी समस्या शिकायत के लिए अनुविभाग एवं जिला स्तर पर समिति गठित

रिपोर्ट तीरथ पनिका ibn24x7news मध्यप्रदेश

अनूपपुर 17 मई 2019 – कलेक्टर चन्द्रमोहन ठाकुर ने जय किसान फसल ऋण माफी योजना अन्तर्गत किसानों की ऋण माफी की कार्यवाही प्रक्रिया में समस्या अथवा शिकायत हेतु अनुविभाग एवं ज़िला स्तर पर समिति गठित की है। संबंधित कृषक समस्या होने पर सम्बंधित अनुविभाग स्तर पर गठित समिति के समक्ष अपील कर सकतें है। अनुविभाग जैतहरी हेतु गठित समिति में अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) जैतहरी ऋषि सिंघई अध्यक्ष तथा अनुविभागीय कृषि अधिकारी पुष्पराजगढ़ एम.पी. चैधरी एवं शाखा प्रबंधक जि.स.के. बैंक मर्या. शाखा-जैतहरी जयराम त्रिपाठी सदस्य है।

इसी प्रकार अनुविभाग अनूपपुर हेतु गठित समिति में अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) अनूपपुर नदीमा शीरी अध्यक्ष तथा अनुविभागीय कृषि अधिकारी पुष्पराजगढ़ एम॰पी॰चौधरी एवं शाखा प्रबंधक जि.स.के. बैंक मर्या. शाखा-अनूपपुर डी.के. साहू सदस्य है।अनुविभाग पुष्पराजगढ़ हेतु गठित समिति में अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) के. बालागुरू अध्यक्ष तथा अनुविभागीय कृषि अधिकारी पुष्पराजगढ़ एम.पी. चौधरी एवं शाखा प्रबंधक जि.स.के. बैंक मर्या. शाखा-पुष्पराजगढ़ ए.पी. मिश्रा सदस्य हैं।

अनुविभाग-कोतमा हेतु गठित समिति में अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) कोतमा मिलिन्द नागदेवे अध्यक्ष तथा अनुविभागीय अधिकारी पुष्पराजगढ़ एम.पी. चौधरी एवं शाखा प्रबंधक जि.स.के. बैंक मर्या शाखा-कोतमा आनंदमणि पाण्डेय सदस्य है।तहसील स्तर पर गठित समिति के निर्णय से संतुष्ट न होने की स्थिति में सम्बंधित कृषक जिला स्तरीय अपील समिति के समक्ष अपील कर सकेगे। जिला स्तरीय अपील समिति के अध्यक्ष कलेक्टर चन्द्रमोहन ठाकुर हैं तथा उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास एन.डी. गुप्ता, प्रभारी उप पंजीयक सहकारी संस्थाएं अनूपपुर अभय सिंह एवं अग्रणी जिला प्रबंधक पी.सी. पाण्डेय सदस्य हैं।

इन समस्याओं पर की जा सकेगी शिकायत

कृषक का नाम तथा ऋण खाते को कर्ज माफी के लिए प्रक्रिया में नही लिया गया जबकि योजना प्रावधान अनुसार पात्रता बनती हो। कृषक को योजनान्तर्गत राशि योजना प्रावधान अनुसार पात्रता से कम स्वीकृत की गई हो। योजना में स्वीकृति की प्रक्रिया में बैंकों को आपत्ति के कारण ऋण माफी की कार्यवाही स्थगित अथवा निरस्त कर दी गई हो। योजना में अपीलार्थी के एक से अधिक ऋण खाते होने की स्थिति में स्वीकृति के समय योजना प्रावधानों में नियत प्राथमिकता क्रम के विपरीत ऋण खाते में ऋणमाफी की स्वीकृति हो गई हो।

बैंक शाखा द्वारा एनपीए/कालातीत ऋण के योजना में लाभान्वित ऋण खाते पर ऋण मुक्ति प्रमाण-पत्र (नो ड्यूज सर्टीफिकेट) बैंक शाखा में ऋण ग्रस्तता की स्थिति शेष नहीं बचने पर भी जारी नहीं किया गया हो। बैंक शाखा द्वारा ऋण खाताधारी की मृत्यु पर वारिसान (legal heir) नियत किए जाने में प्रक्रियात्मक त्रुटि की जा रही हो। योजना में लाभान्वित किसान के ऋण खाते में आरटीजीएस/एनईएफटी से प्रदाय राशि स्वीकृत हुए प्रकरण में नहीं पहुंची हो। योजना में स्वीकृत प्रकरणों में आरटीजीएस/एनईएफटी से प्रदाय राशि गलत बैंक खाते में जमा हो गई हो। योजनान्तर्गत ऋण प्रकरण पर ऋण माफी निरस्त किए जाने में त्रुटि हुई हो।

About IBN24X7NEWS

Check Also

लोकसभा चुनाव 2019

  जीत+बढ़त नाम 277 भाजपा+ 85 कांग्रेस+ 72 अन्य 542 कुलसरकार बनाने के करीब पहुँची …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *