Breaking News

झारखंड में बड़ा नक्सली हमला, पांच पुलिसकर्मी शहीद; हथियार लूटकर भागे नक्सली

ibn24x7news

रांची-  झारखंड के सरायकेला-खरसावां बड़ा नक्सली हमला हुआ है। इसमें पांच पुलिसकर्मी शहीद हो गए। सरायकेला-खरसावां जिले स्थित तिरुलडीह थाना क्षेत्र के कुकड़ू साप्ताहिक हाट में माओवादियों ने एक दुस्साहसिक वारदात को अंजाम देकर यह साबित कर दिया कि अभी झारखंड से उनके पांव उखड़े नहीं हैं। शुक्रवार को कुकड़ू साप्ताहिक हाट में नक्सलियों ने गश्ती दल पर हमला कर दिया, जिसमें जिला पुलिस बल के पांच जवान शहीद हो गए।शहीद पुलिसकर्मियों दो सहायक अवर निरीक्षक (एएसआइ) और तीन जवान शामिल हैं। गश्ती दल विधि-व्यवस्था की पड़ताल करने गया था। नक्सली वारदात की सूचना पर कोल्हान के उपमहानिरीक्षक (डीआइजी) कुलदीप द्विवेदी समेत अन्य अधिकारी बड़ी संख्या जवानों के साथ मौके पर पहुंचे। उसके बाद पूरे इलाके में बड़े पैमाने पर सर्च अभियान शुरू हुआ, जो तड़के तक जारी था।

चाकू के बल पर पुलिसकर्मियों से हथियार छीना और उसी से दागीं गोलियां वारदात को अंजाम देकर हथियार समेत प. बंगाल की ओर भागे नक्सली सैकड़ों की भीड़ थी हाट में, अंधाधुंध फायरिंग के बाद मची भगदड़
शहीदों में दो एएसआइ और तीन कांस्टेबल, इनमें से एक रांची का जीप के ड्राइवर सुखलाल ने भागकर जान बचाई, रात तक नहीं मिला सुराग मौके पर पहुंचे आला अधिकारी, इलाके में सर्च अभियान तेज तिरुलडीह थाना के कुकड़ू हाट में बाइक पहुंचे थे आधा दर्जन नक्सली घटना शुक्रवार की शाम करीब छह बजे की है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि दो बाइक पर सवार होकर पांच-छह नक्सली अचानक हाट में पहुंचे। सभी ने गमछा लपेट कर मुंह ढंक रखा था। वहां पहुंचते ही चाकू और हथियार के बल पर पुलिसकर्मियों को अपने कब्जे में ले लिया और उनके हथियार छीन लिए। फिर उसी बंदूक से पुलिसकर्मियों को गोली मार दी। जबकि जीप में बैठा ड्राइवर किसी तरह भागने में कामयाब रहा। देर रात तक उसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिली थी। पुलिस उसे लापता मानकर उसकी खोज में जुटी थी। पुलिसकर्मियों से तीन इंसास राइफल और दो पिस्‍टल लूटे गए हैं।

घटना को अंजाम देकर नक्सली पश्चिम बंगाल की ओर भाग गए। हथियार भी लूट ले गए। गोलीबारी के बाद हाट में भगदड़ मच गई। वारदात से पहले सैकड़ों की भीड़ थी लेकिन ताबड़तोड़ फायरिंग के बाद देखते-देखते पूरा क्षेत्र खाली हो गया। तकरीबन दो दर्जन से अधिक नक्सली किसी भी स्थिति से निपटने के लिए आसपास के क्षेत्र में पोजिशन लिए हुए थे।

शहीद पुलिसकर्मियों में एक रांची का शहीद जवानों में एक की पहचान रांची के सोनाहातु थाना क्षेत्र के डिबाडीह सालसुद निवासी धनेश्वर महतो के रूप में हुई है। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में कुछ नक्सलियों को भी गोली लगने की सूचना है। फिलहाल नक्सलियों के खिलाफ सर्च अभियान चलाया जा रहा है।
थाना में ताला लगा भागे पुलिसकर्मी

देर शाम तक पुलिसकर्मियों के शव घटनास्थल पर ही पड़े हुए हैं। तिरुलडीह थाने के मेन गेट पर ताला लगाकर पुलिसकर्मी भाग गए हैं। कोई घटनास्थल तक जाने की हिम्मत नहीं कर रहा है। आसपास की सभी दुकानें बंद कर दुकानदार भी वहां से जा चुके हैं। बाद में बाहर से बड़ी संख्या में पुलिस जवानों के आने के बाद थाने का ताला
तीन-चार दिन पूर्व निलंबित किए जा चुके थाना प्रभारी
तिरूलडीह के थाना प्रभारी महावीर उरांव तीन-चार दिन पहले ही निलंबित किए जा चुके हैं। उन्हें सार्वजनिक स्थल पर शराब पीकर डांस करने के आरोप में निलंबित किया गया है।

नक्सली हमले में दो अफसर और तीन जवानों स‍मेत पांच पुलिसकर्मी शहीद हो गए। वारदात के बाद नक्सली अपने साथ जवानों के हथियार भी उठा ले गए। लापता ड्राइवर सुरक्षित लौट आया है। पुलिस के जवाबी फायरिंग में कुछ नक्‍सलियों के भी घायल हाेने की सूचना है। घटनास्‍थल की गहन पड़ताल के साथ ही नक्सलियों के खिलाफ पूरे इलाके में सर्च अभियान चलाया जा रहा है। कुलदीप दि्ववेदी, डीआइजी, कोल्हान।

नक्‍सली हमले में शहीद जवान
1. एएसआइ मनोधन हांसदा (48)
गांव : डोमनाडीह, पोस्ट : सागराजोर
थाना : पालाजोरी, जिला देवघर

2. एएसआइ गोवर्धन पासवान (47)
जिला- भोजपुर (बिहार)

3. कांस्टेबल युधिष्ठिर मालुवा
गांव : बड़ालागिया, पोस्ट-बड़ालागिया
थाना : मुफ्फसिल, पश्चिम सिंहभूम

4. कांस्टेबल डिबरू पूर्ति (49 )
गांव : जामवेड़ा मेली पांडुसाई,
पोस्ट : खेरिया टांगर, थाना : मंझारी, पश्चिम सिंहभूम

5. कांस्टेबल धनेश्वर महतो (51)
गांव : डिबाडीह, पोस्ट जडीया, थाना सोनाहातु, रांची

हाल के दिनों में बढ़ीं नक्सली वारदातें
सरायकेला जिले में हाल के दिनों में नक्सलियों की सक्रियता एकदम से बढ़ी है। कुचाई में विगत 28 मई को नक्सलियों ने आइइडी धमाका किया। इसमें कोबरा 209 बटालियन व झारखंड पुलिस के 15 जवान जख्मी हो गए थे। घायलों को एयरलिफ्ट कर इलाज के लिए रांची ले जाया गया। इसके पूर्व लोकसभा चुनाव के दौरान खूंटी लोकसभा क्षेत्र अंतर्गत खरसावां में मतदान बूथ पर नक्सलियों ने बम विस्फोट किया था।

गुमला में नक्सलियों ने हाट से भाजपा कार्यकर्ता का अपहरण कर की हत्या
गुमला के बिशुनपुर थाना क्षेत्र के कटिया गांव में गुरुवार की शाम माओवादियों ने साप्ताहिक हाट से भाजपा कार्यकर्ता ब्रजेश साहू (38) का अपहरण कर लिया और कुछ दूर ले जाकर गोली मारकर हत्या कर दी। ब्रजेश मुर्गे का कारोबार करते हैं। घटनास्थल पर माओवादियों ने पर्चा फेंक हत्या की जिम्मेवारी ली और ब्रजेश को पुलिस का एसपीओ बताया। यहां से कुछ दूर माओवादियों ने एक और वारदात को अंजाम दिया।

कटिया विद्यालय के समीप बीड़ी पत्ता से लदा ट्रक फूंक डाला। इन दोनों घटनाओं से ग्रामीणों में खौफ पसर गया और वे अपने घरों में कैद हो गए। आलम यह कि पुलिस को दूसरे दिन घटना की जानकारी मिल पाई।जानकारी के अनुसार कटिया के साप्ताहिक हाट में ब्रजेश साहू मुगरे की दुकान लगाए हुए थे। गुरुवार की शाम साढ़े पांच बजे तीन माओवादी उनके पास पहुंचे और हाथ बांध कर ले गए। बाजार से लगभग आधा किलोमीटर दूर माओवादियों ने उन्हें गोली मार दी।

घटना स्थल पर ही ब्रजेश ने दम तोड़ दिया। पुलिस शुक्रवार को घटनास्थल पर पहुंची और शव को पोस्टर्माटम के लिए गुमला सदर अस्पताल भेजा। ब्रजेश भाजपा के बूथ संयोजक थे। गुमला में तीन वर्ष बाद माओवादियों ने किसी बड़ी घटना को अंजाम दिया है।

About IBN24X7NEWS

Check Also

पलामू: लोकसभा चुनाव की तैयारी,तीन साल से जमे डीसी से लेकर दारोगा तक बदलेंगे

रिपोर्ट विजय कुमार शर्मा ibn24x7news बिहार राँची राज्य में एक स्थान पर तीन साल से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *