Breaking News

फरीदाबाद : डॉक्टरों समेत 7 पर नर्स की हत्या का केस

रिपोर्ट बी. आर. मुराद ibn24x7news  फरीदाबाद,हरियाणा

फरीदाबाद:सेक्टर-10 स्थित पार्क अस्पताल में कार्यरत एक नर्स की बुधवार रात नाइट शिफ्ट के दौरान अस्पताल में ही संदिग्ध हालत में मौत हो गई | नर्स के परिजनों ने इस मामले में दो डॉक्टरों सहित 7 लोगों के खिलाफ हत्या किए जाने का केस दर्ज कराया है | पुलिस ने इस मामले में हत्या का केस दर्ज कर जांच शुरु कर दी है | मृतक का बिसरा व कुछ अंग जांच के लिए गुरूग्राम लैब में भेजे गए हैं | रात को मां से की थी बात: सेक्टर-7 थाना पुलिस के अनुसार होडल के निकट करमन गांव निवासी ओमप्रकाश ने शिकायत में बताया कि उसकी 24 साल की बेटी संतोष उर्फ रजनी पिछले डेढ़ साल से सेक्टर-10 स्थित पार्क हास्पिटल में बतौर नर्स कार्यरत थी |

घर दूर होने की वजह से संतोष अस्पताल परिसर में बने क्वार्टर में ही रहती थी | इन दिनों उसकी नाइट ड्यूटी चल रही थी, जिसके चलते वह बुधवार रात 8 बजे अस्पताल में ड्यूटी पर आ गई थी | ड्यूटी पर आने के बाद उसने वॉर्ड में दाखिल मरीजों को दवाएं आदि भी दी | इसके बाद उसने मां इंदिरावती से बातचीत की |

तब उसने खुद को मानसिक रूप से परेशान बताया था | अस्पताल पहुंचने पर हो चुकी थी मौत : ओमप्रकाश का कहना है कि रात को करीब 10 बजे उन्हें अस्पताल से सूचना मिली कि संतोष की हालत अचानक बिगड़ गई है | जिसके चलते उसे आईसीयू में रखा गया है | इस सूचना के बाद ओमप्रकाश अपने बेटे रोहताश व साले श्याम के साथ अस्पताल में पहुंच गए | जहां पर उन्होंने पाया कि संतोष की मौत हो चुकी थी और उसके मुंह से झाग निकल रहा था |

बेटी को दी गई गलत दवाएं: उन्होंने अस्पताल के डॉक्टरों से बात की तो बताया गया कि संतोष के पेट में अचानक दर्द हुआ था | उसे इंजेक्शन लगाया गया था | इसके बाद उसकी हालत बिगड़ गई | ओमप्रकाश का आरोप है कि अस्पताल में गलत दवा दिए जाने से उनकी बेटी की मौत हुई है | उसकी बेटी को किसी प्रकार की बीमारी नहीं हुईं ,बल्कि अस्पताल के कर्मचारियों की प्रताड़ना व लापरवाही के कारण हुई है | इस मामले में डॉ.दीपक,डॉ.मुश्ताक के अलावा महेश व कृष्ण नामक कर्मचारी भी शामिल हैं | मामले की सूचना पुलिस को दी गई |

साथी कर्मचारी कर रहा था परेशान: पिता का कहना है कि अस्पताल में कार्यरत वॉर्ड बॉय जलवीर पिछले कुछ समय से उनकी बेटी को अश्लील मैसेज व विडियो भेजकर परेशान कर रहा था | संतोष ने उसे ऐसा करने से मना भी किया, लेकिन वह मान नहीं रहा था | संतोष ने यह बात अपनी मां को बताई, तो उसकी मां ने जलवीर को धमकाया भी था | जलवीर के अलावा उसका रिश्तेदार कमल व अस्पताल में कार्यरत युवक जय बहादुर भी मैसेज भेजकर तंग करता था | इस वजह से उनकी बेटी मानसिक रूप से परेशान रहती थी |

जांच अधिकारी सब इंस्पेक्टर प्रदीप मोर ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद बोर्ड ने बिसरा व अन्य अंगों को जांच के लिए गुरूग्राम लैब में भेजा है | सीएमओ को पुलिस की ओर से एक पत्र दिया गया है | जिसमें डॉक्टरों की टीम पार्क अस्पताल में भेजकर जांच की मांग की गई है |

About IBN24X7NEWS

Check Also

फरीदाबाद:-खेलें फूलों और प्राकृतिक रंगों की होली पानी खराब न करें,मनचंदा

फरीदाबाद से बी.आर.मुराद की रिपोर्ट फरीदाबाद :होली हर्ष और उल्लास का रंग भरा त्यौहार है …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *