Breaking News
Home / उत्तरप्रदेश / पुत्र ने दी शहीद पिता संदीप को मुखाग्नि

पुत्र ने दी शहीद पिता संदीप को मुखाग्नि

पुत्र ने दी शहीद पिता संदीप को मुखाग्नि

फरीदाबाद से बी.आर.मुराद की रिपोर्ट

फरीदाबाद: शहीद संदीप अमर रहें’ के गगनभेदी नारों के बीच अटाली गांव के लाल संदीप कालीरमण बुधवार को पंचतत्व में विलीन हो गए |

अपने चाचा सोनू की गोद से ढाई साल के बेटे रक्षित ने संदीप को मुखाग्नि दी | हरियाणा पुलिस ने शहीद के सम्मान में गार्ड ऑफ ऑनर दिया | राजकीय सम्मान देते हुए शहीद संदीप का अंतिम संस्कार राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के ग्राउंड में किया गया,ताकि स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे हमेशा के लिए संदीप के बलिदान से प्रेरणा लेते रहेंगे |

तिरंगे में लिपटे संदीप के ताबूत को सेना के जवानों ने उनके घर से कंधा देते हुए अंतिम यात्रा की शुरुआत की | गांव की सड़क व गलियों से गुजरते हुए शहीद के सम्मान में हजारों लोग संदीप अमर रहे के नारे लगाते हुए साथ चले | करीब तीन किलोमीटर तक चलीं अंतिम यात्रा का समापन स्कूली के मैदान पर हुआ | यहां इलाके के विभिन्न नेताओं ने शहीद के सम्मान में नारे लगाए | परिवार की मान्यताओं के बीच सेना के अधिकारियों ने अंतिम संस्कार की रस्मों को पूरा कराया | स्कूल परिसर में हजारों की संख्या में लोगों की भीड़ रही |

शहीद की अंत्येष्टि में गांव व आसपास की हजारों महिलाएं व बेटियां शामिल हुईं | इससे पहले शहीद संदीप के अटाली स्थित पर सेना के जवान पार्थिव शरीर लेकर पहुंचे | यहां सेना के अधिकारियों ने सम्मान स्वरूप पुष्प चक्र अर्पित किए | साथ ही परिवार के सदस्यों,रिश्तेदारों व सगे संबंधियों ने शहीद संदीप के अंतिम दर्शन किए |

परिवार के विलाप के बीच हजारों युवा इस दौरान शहीद संदीप अमर रहे,के नारे लगाते रहे | वहीं, संदीप के दोस्त व सेना के अधिकारी इस शहादत पर आंसू न बहाने का अनुरोध लोगों से करते रहे | शहीद की अंत्येष्टि में अटाली गांव के अलावा मौजपुर,छांयसा,दयालपुल,पन्हैड़ा खुर्द,पन्हैड़ा कलां,कौराली,मच्छगर,चंदावली,तिगांव,मोहना,हीरापुर सहित दूर दराज क्षेत्र के लोग हजारों की संख्या में मौजूद रहे |

▶स्कूल व सड़क का नाम संदीप के नाम

केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर व डीसी अतुल कुमार ने प्रदेश सरकार की ओर से शहीद के परिजनों को पॉलिसी के मुताबिक 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की | साथ ही शहीद के भाई सोनू को उनकी शिक्षा के मुताबिक ग्रुप-3 की सरकारी नौकरी देने का वादा किया है | साथ ही गांव के सरकारी स्कूल का नाम शहीद संदीप के नाम पर रखने की घोषणा की, ताकि स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे लगातार इस बलिदान से प्ररेणा लेते रहें | वहीं गांव की मुख्य सड़क का नाम भी संदीप नाम किए जाने का वादा किया |

▶नेता भी मौके पर मौजूद रहे |

शहीद संदीप की अंत्येष्टि में केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर,प्रदेश के उद्योग मंत्री विपुल गोयल,विधायक टेकचंद शर्मा, चेयरमैन सुरेंद्र तेवतिया,टिपरचंद शर्मा,राजेश नागर,पूर्व विधायक आनन्द कौशिक,बलजीत कौशिक,सुखबीर मलेरना,अजय गौड,गोपाल शर्मा,बलदेव अलावलपुर,अरविंद भारद्वाज सहित विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता मौके पर मौजूद रहे |

▶जन्मदिन पर ही लगी सीने में गोली

सेना की टेन पेरा कमांडो के नायक संदीप कालीरमण अपने साथियों के साथ 11 फरवरी को पुलवामा के रत्तीपुरा में आतंकियों के खिलाफ एक ऑपरेशन के लिए निकले थे | 12 फरवरी को उनके जन्मदिन पर आतंकियों ने चार गोली मार दी | कश्मीरियों द्वारा इसी दौरान पत्थरबाजी शुरु कर दी गई,जिसकी वजह से गंभीर घायल संदीप को सेना के जवान तुरंत अस्पताल नहीं पहुंचा सके |

▶लगाते रहे पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे

शहीद संदीप की अंतिम यात्रा व अंत्येष्टि के दौरान हजारों लोग पाकिस्तान मुर्दाबाद,कश्मीर में धारा 370 खत्म हो,सेना के हाथ खोल दो, वंदेमातरम्, के नारे लगाते रहे | इस दौरान सुनाओ का हुजूम लगातार बिना थके जोश के साथ संदीप का बलिदान खाली नहीं जाएगा,भाई संदीप अमर रहें, हिन्दुस्तान जिंदाबाद के नारे लगाते रहे |

About IBN24X7NEWS

Check Also

बहराइच : 161वें बलिदान दिवस पर याद किये गये चहलारी नरेश बलभद्र सिंह

कैसरगंज।13 जून 1858 को 1857 की क्रांति के बलिदानी चहलारी नरेश बलभद्र सिंह ने इस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *