Breaking News
Home / उत्तरप्रदेश / झाँसी / मूलभूत सुविधाओं सहित पेयजल की भीषण समस्या से जूझ रहा है सुजानपुरा गाँव

मूलभूत सुविधाओं सहित पेयजल की भीषण समस्या से जूझ रहा है सुजानपुरा गाँव

मूलभूत सुविधाओं सहित पेयजल की भीषण समस्या से जूझ रहा है सुजानपुरा गाँव।

ब्यूरो चीफ झाँसी

रिपोर्ट – महेन्द्र सिंह सोलंकी।

झाँसी 22 मई। जिले की तहसील गरौठा मुख्यालय से लगभग 15 किमी० दूर धसान नदी किनारे स्थित ग्राम पंचायत सुजानपुरा शासन की उपेक्षा के कारण मूलभूत सुविधाओं से आज भी वंचित है। गांव से मोतीकटरा लहचूरा रोड तक जोड़ने वाली करीब 3 किमी० सड़क इतनी बदहाल है कि वाहन तो दूर पैदल चलना भी मुश्किल है। गड्ढों व उखड़ी गिट्टी के कारण यहां 3 किमी०का सफर भी मोटर साईकिल से आधा घंटे में पूरा होता है।
सुजानपुरा निवासी मुलायम सिंह, कल्लू श्रीवास, हरीसिंह, प्रेमनारायण, जीवन लाल,चेतराम, लालसिंह, मानसिंह, दीपक, रामू ने बताया कि यह सड़क करीब 5 वर्ष से इसी हालत में पड़ी हुई है। कई बार प्रधान व ग्रामीणों द्वारा उच्चाधिकारियों को अवगत कराने के बाद भी इस ओर किसी ने ध्यान नहीं दिया। गांव में बिजली 24 घंटों में मात्र 10 से 12 घंटे ही मिल पाती है। तार टूटने या खराबी होने पर गांव वाले ही मेहनत करके अपने संसाधनों के द्वारा ठीक करते हैं। पिछले हफ्ते खेतों में टूटा तार करीब 5 दिन तक पड़ा रहा।

जेई को जानकारी के बाद भी नहीं जोड़ा गया। अंत में ग्रामीणों द्वारा जैसे तैसे जोड़ कर लाइन चालू हो सकी। पेयजल हेतु सुजानपुरा में लगे हैण्डपम्पों मेँ से वर्तमान में आधे खराब पड़े हुए हैं तथा पेयजल परियोजना के तहत स्थापित ट्यूबवेल की मोटर पिछले मार्च महीने से खराब होने के कारण ग्रामीणों को बड़ी दूरी तय कर पानी की व्यवस्था करनी पड़ रही है। यही हाल इसी ग्राम पंचायत में सम्मिलित हरिजन वाहुल्य मजरा शंकरगढ़ का है।

जहां करीब दो हफ्तों पूर्व लगे दोनों ट्रासफार्मर फुंक जाने से विद्युत आपूर्ति ठप पड़ी हुई है। यहाँ पेयजल की विकट समस्या बनी हुई है। करीब 1200 की आबादी हेतु मात्र 2 हैण्डपम्प लगे हैं। जो गांव के एक छोर पर विद्यालय के पास हैं जहाँ से करीब दूसरे छोर तक पानी के लिए करीब 1किमी० का सफर तय करना पड़ता है। मजरा शंकरगढ़ निवासी मुकेश कुमार, रविन्द्र कुमार, सुन्दर लाल ने बताया कि गांव में अन्य जगह बोरिंग सफल न होने से केवल यही दो हैण्डपम्प सहारा हैं। शासन द्वारा यहाँ पेयजल परियोजना के तहत ट्यूबवेल स्थापित करने से परेशानी दूर हो सकती है। योगी सरकार द्वारा किए गए दावे गड्ढामुक्त सड़कें,18 घंटे बिजली आदि इन गांवों में वेमानी साबित हो रहे हैं।

About IBN24X7NEWS

Check Also

झाँसी: पर्सनल यूजर आईडी से फर्जी रेलवे ई-टिकिट बनाने वाले जन सेवा केन्द्र का हुआ भंडाफोड़, लेपटाप, प्रिण्टर बरामद

रिपोर्ट महेंद्र सिंह सोलंकी ibn24x7news झाँसी झाँसी 22 जनवरी। आरपीएफ स्टेशन पोस्ट व सीआईबी की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *