Breaking News

Breaking कार ने बाइक को मारी टक्कर, नहर में गिरा मासूम

पीलीभीत : माधोटांडा हाईवे पर एक तेज रफ्तार कार ने बाइक सवार लोगों को पीछे से टक्कर मार दी, जिसमें बाइक पर सवार पांच वर्ष का एक मासूम और उसके पिता और मामा बाइक से उछलकर नहर में जा गिरे। हादसा देखकर मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने नहर में डूब रहे दोनों युवकों को बाहर निकाल लिया गया। पांच वर्षीय मासूम बालक का कुछ भी पता नहीं चल सका है। जानकारी मिलते ही पुलिस अफसर फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। फिलहाल तो एसएसबी की रेस्क्यू टीम नहर में मासूम को तलाश कर रही है। कुछ पता नहीं चल सका है।

बिलसंडा थाना के कनपुरिया गांव निवासी प्रभुदयाल अपनी पत्नी ललिता देवी बेटा पांच वर्षीय अनमोल उर्फ गयादीन और साले शाहजहांपुर जिले के पुवायां कोतवाली क्षेत्र के भरतापुर गांव निवासी पवन पुत्र रामभरोसे के साथ बाइक से बीते दिन सोमवार को न्यूरिया थाना क्षेत्र के बिथरा गांव में एक रिश्तेदार के घर किसी प्रोग्राम में शरीक होने के लिए गए थे।

कार्यक्रम निपटाने के बाद वह मंगलवार को बाइक से अपने घर लौट रहे थे। तभी वह जैसे ही न्यूरिया का लिक रोड पार कर माधोटांडा हाईवे पर स्थित गजरौला थाना क्षेत्र के गांव कल्यानपुर नौगंवा नहर पुलिया के पास पहुंचे तभी पीछे से आ रही तेज रफ्तार कार ने उनकी बाइक को टक्कर मार दी, जिसमें बाइक पर सवार उनका पांच वर्षीय बेटे अनमोल उर्फ गयादीन और पिता प्रभुदयाल और साला पवन हवा में लगभग पांच फुट ऊपर उड़ते हुए नहर में जा गिरा और बालक की मां नहर की पुलिया से टकराने के बाद बेहोश होकर गिर पड़ी।

हादसा देखकर मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने उन्हें बचाने के लिए नहर में कूद पड़े। किसी तरह से प्रभुदयाल और पवन को नहर से बाहर निकाल लिया गया। जब कुछ देर के बाद उक्त लोगों को होश आया तो रोते हुए अपने पांच वर्ष के अनमोल को तलाश करने लगे। तब पता चल सका कि बाइक पर उनके साथ में पांच वर्ष का उनका बेटा भी मौजूद था। लेकिन ग्रामीणों ने फिर भी कुछ देर बालक को तलाशने का प्रयास करती रही। सूचना मिलते ही गजरौला इंस्पेक्टर नरेश कुमार कश्यप मौके पर पहुंच गए। ग्रामीणों ने कार चालक को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया है।

उधर जानकारी मिलते ही सीओ सिटी धर्म सिंह मार्छाल, एसडीएम वंदना त्रिवेदी, तहसीलदार विवेक मिश्र अन्य अधिकारी मौके पर पहुंच गए। नहर में पानी का बहा अधिक देखकर मामले की जानकारी डीएम को दी गई। डीएम के निर्देश पर बाइफरकेशन से पानी को बंद कराया गया। जिसके बाद मौके पर एसएसबी की टीम और गजरौला पुलिस बालक को तलाश करने के लिए पिछले कई घंटो से नहर में रेस्क्यू कर रही है। इंस्पेक्टर गजरौला नरेश कुमार कश्यप ने बताया कि कार और चालक को पकड़कर थाना भिजवा दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *