Breaking News

इटावा : टीपू की सत्ता के साम्राज्य के रियासत की नीलामी बोली अब 17 को

रिपोर्ट  अंकुर त्रिपाठी ibn24x7news इटावा

इटावा की ग्रीष्मकालीन प्रदर्शनी में लगभग 11 बर्षो से अपना एकक्षत्र राज्य चलाने वाले टीपू सुल्तान के साम्राज्य की आज खुले में 4 बजे से लगने वाली नीलामी की बोली अब 17 तारीख को सदर एसडीएम/जनरल सेक्रेटरी की मौजूदगी में मुकर्रर की गई है,सूत्र बताते है कि टीपू के साम्राज्य में सेंध पूरी तरह लग चुकी थी,आज तीन लोगों के द्वारा नीलामी की धरोहर राशि को जमा किया गया लेकिन ऐन वक्त पर नीलामी की बोली को केंसिल कर नई तारीख का एलान किया गया,लेकिन अभी तक यह नही पता लग सका कि आखिर आज लगने वाली नीलामी की बोली को केंसिल कर आगे क्यों बढ़ाया गया,यह अभी गर्त में है

एक दशक बाद ग्रीष्मकालीन प्रदर्शनी में खुले में होनी थी नीलामी

पिछले कई दशकों से इटावा ग्रीष्मकालीन प्रदर्शनी पर टीपू की सल्तनत का साम्राज्य चलता चला आ रहा है,आज पहली बार प्रदर्शनी में एसडीएम सदर की मौजूदगी में नीलामी की बोली लगनी थी लेकिन अंतिम समय मे बोली को केंसिल कर 17 तारीख कर दी गयी,पहली बार लग रही बोली में कई ठेकेदारों में जोश भरा हुआ था लेकिन सल्तनत को फायदा पहुचाने के लिये प्रशासन द्वारा भाग लेने वाले ठेकेदारों पर शर्तो का बोझ डाल दिया गया,जिससे कई ठेकेदारों में रोष भी दिखाई दिया,प्रदर्शनी प्रशासन द्वारा विज्ञप्ति तो प्रकाशित करवाई जाती थी|

लेकिन किस अखबार में यह आज तक किसी को पता नही हो पाता था और कमेटी सदस्यो द्वारा बैठक कर टीपू की सल्तनत को फायदा पहुचाने के लिये ग्रीष्मकालीन की सत्ता सौंप दी जाती थी,लेकिन पिछले साल शीत कालीन प्रदर्शनी में प्रदर्शनी प्रशासन की काफी फजीहत होने के बाद इस साल गर्मियों में बच्चों के मनोरंजन के लिये एक महीने की लगने वाली ग्रीष्मकालीन प्रदर्शनी में प्रशासन ने कोई भी रिस्क लेना मुनासिब नही समझा और एसडीएम सदर ने 9 मई को नीलामी के नोटिस की विज्ञप्ति प्रकाशित कर सार्वजनिक रूप से खुलेआम बोली रखवाने का प्राविधान तय किया।

ग्रीष्मकालीन प्रदर्शनी में खर्च अठन्नी आमदनी दो रुपया

पिछले साल ग्रीष्मकालीन प्रदर्शनी का ठेका टीपू की सल्तनत को लगभग 7 लाख का दिया गया था,सॉफ्टी चौक, माधव चौक, इंद्रा चौक और पुर्वी चौक में लगने वाली इस प्रदर्शनी में लगभग 100 दुकाने लगाई जाती है जिसका किराया एक महीने का तीन घंटे के हिसाब से दस हज़ार लिया जाता है,सॉफ्टी की केवल एक दुकान लगवाने के ढाई से तीन लाख महीना लिया जाता है,झूलो का एक सेट जिसमे करीब 13 झूले लगवाये जाते है जो टीपू को पर डे कमाई का 60%दिया जाता है और 40%झूला मालिक लेता है।साइकिल स्टैंड का ठेका खुद टीपू के बारिसों का ही होता है,यह पूरी ग्रीष्मकालीन प्रदर्शनी टीपू और उनकी सल्तनत के इशारों पर नाचती है,

सल्तनत में सेंध लगना तय

सूत्रों के हवाले से पता चला है कि ग्रीष्मकालीन प्रदर्शनी की नीलामी बोली में आज ज्यादातर ठेकेदार भाग लेने पहुँचे लेकिन 3 बजे तक तीन लोगो ने धरोहर राशि जमा कर दी थी लेकिन शर्तो का बोझ ज्यादा होने से कुछ लोग मायुश भी नजर आये और अपने अपने कागजो को पूरा करने के लिये भागते रहे,अब 17 को टीपू की सल्तनत के साम्राज्य की रियासत की बोली का फैसला होगा,25 मई से 30 जून तक लगने वाली ग्रीष्मकालीन प्रदर्शनी का आयोजन किया जायेगा।

About IBN24X7NEWS

Check Also

सूरत के तक्षशिला कंपलेक्स में आग लग जाने से वहां ट्यूशन पढ़ रहे अब तक 12 बच्चों की मौत

रिपोर्ट -कैलाश नाथ राना ibn24x7news सूरत के तक्षशिला कॉम्पलेक्स में आग लग गई है और …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *