Breaking News

अवैध रेत से लदी दो ट्रेक्टर जप्त,रामनगर थाने की कार्यवाही

 

अनूपपुर/रामनगर- अनूपपुर जिले का रामनगर पुलिस को भ्रमण के दौरान मुखबीर से सूचना मिली कि दो ट्रेक्टर अवैध रेत लोडकर बरतराई तरफ से आमाडांड तरफ जा रही है मुखबीर कि बताये स्थान पर दबिश देने से दो ट्रैक्टर जप्त किया गया जिसमें एक बिना नं की नीले रंग का आयशर कंपनी का ट्रेक्टर मिला। जिसमें अवैध रेत लोड था जिसका चालक राजू कोल पिता कल्लू कोल उम्र 28 वर्ष निवासी कटकोना थाना बिजुरी अनूपपुर मध्यप्रदेश के द्वारा मौके से कोई कागजात नही दिखाए जाने पर धारा 18(1),18(5) मध्यप्रदेश खनिज भंडारण एवं परिवहन निवारण अधिनियम के तहत ट्रेक्टर में कार्यवाही कर जप्त किया गया |

इस्त0ग0 क्रमांक 7/19 एवम एक और बिना नं की लाल कलर की आयशर कंपनी का ट्रेक्टर लोड रेत का कोई कागजात रॉयल्टी पेपर नही दिखाये जाने पर चालक जयप्रकाश पनिका पिता सुब्बू पनिका उम्र 22 वर्ष निवासी हर्रि थाना रामनगर अवैध रेत जप्त कर धारा 19(1),19(5) मध्यप्रदेश खनिज भंडारण एवं परिवहन के निवारण अधिनियम के तहत कार्यवाही कर ट्रेक्टर जप्त की गया ।इस्त0ग0 क्रमांक 8/19 तैयार किया।

इस कार्यवाही में रामनगर थाना प्रभारी बी एन प्रजापति,सउनि0 रामभुवन शर्मा,प्र0आर0 लालदास चौधरी,आर0चा0 रिंकू गोले,नव आर0 244 दीपक,नव आर0 241 विनोद,नव आर0 240 सतीश,नव आर0 242 राकेश की अहम भूमिका रही ।पर वही खनिज विभाग के ऊपर प्रश्नचिन्ह लग जाता है कि खनिज विभाग क्या अपने कर्तव्यो का सही निर्वाहन करने में असफल है।

1/
छत्तीसगढ़ राज्य के सीमा से लगा हुआ है जँहा आये दिन बिजुरी के बेलगांव बछोली से, कोतमा के केवई एवम निगवानी से और रामनगर के कुल्हड़िया नाला से, पौराधर के जंगल से हर्रि के नदी से रेत अवैध रूप से एक स्थान से दूसरे स्थान तक बिना डर ख़ौफ़ ट्रेक्टर मालिक ट्रेक्टर एवं मिनीट्रक के माध्यम से पहुचाते देखे जा सकते है।

सबसे ज्याद रेत का उठाव पौराधार के जंगलों में आज भी देखे जा सकते है । कुछ गाड़ियो पर कार्यवाही कर खाना पूर्ति की जाती है जबकि ये सब जानकारी खनिज विभाग के सभी अधिकारियों को है पर ऐसा क्या कारण है कि खनिज विभाग छापेमारी एवम इन जगहों पर रेट नही करने से शासन को लाखों के राजस्व की हानि हो रही है अपने कार्यप्रणाली को लेकर खनिज विभाग आये दिन अखबारों की सुर्खियों में बनी हुई है ।

ऐसा नही है कि कोतमा विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत रेत का मात्र अवैध रूप से उठाव किया जा रहा है दिन दहाड़े गिटटी बोल्डर बिना रॉयल्टी पर्ची (पिटपास) के ट्रेक्टर,मिनीट्रक लोड कर एक स्थान से दूसरे स्थान तक जाते हुए देखे जा सकते है।ऐसा लग रहा है मानो खनिज विभाग के अधिकारियों के ऊपर राजनीतिक दबाव होने के कारण कार्यवाही करने में बोना साबित हो रहा है।

 

रिपोर्ट मुकेश कुमार राय IBN24X7NEWS anuppur

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

× For any query click here ( IBN )