Breaking News

सिवान: सिवान जिले में लगातार गिर रहा जलस्तर, लोगों में बनी परेशानी का सबब

रिपोर्ट आर्यन सिंह ibn24x7news राजपूत

सिवान:- बिना पानी के जीवन कैसा होगा यह सोच कर रूह कांप उठती है जरा सोचिए पुरे दिन के लिए अगर आपको मात्र एक मटका पानी मिलें तो कैसी हालत होगी यह महज कहानी नहीं बल्कि असलियत है सिवान जिले की यहां गर्मी में जीवन कितना कठिन हो जाता है, यह शायद सिवान जिले के लोग ही जान सकते हैं।

आपको बता दें कि पिछले कुछ सप्ताह से जैसे-जैसे पारे में उछाल आया है, उसी तरह जलस्तर भी तेजी से नीचे गिरने लगा है। और हैंडपंप का जलस्तर तेजी से नीचे जा रहा है जिसके कारण अब कठिनाई बढ गई है। फिलहाल जो हैंडपंप है अब उनमें पानी आना कम आ रहा है। सिवान में अधिक हैंडपंप ऐसे है जो गर्मी में हाफ रहे हैं, लेकिन उसमें से कुछ तो पूरी तरह से जिंदा है और भरपूर पानी दे रहे है, वहीं कुछ हैंडपंप में दिन प्रतिदिन पानी में कमी होती जा रही है। कुछ दिन पहले तक ये हैंडपंप भरपूर पानी देते थे, लेकिन अब इनमें पानी कम आने लगा है।

ग्रामीण क्षेत्र में कई हैंडपंप पूरी तरह से बंद हो गए हैं। ग्रामीण क्षेत्र में पास जो पुराने बोर हैं, उनसे पानी लिया जा रहा है, लेकिन वे भी अब कम पानी देने लगे हैं। यहां जलस्तर 140 से 150 फीट तक नीचे पहुंच गया है। आने वाले जुलाई माह में ये और भी नीचे जा सकता है। इस बारे में सिवान के जल संरक्षण व्यवस्था को बढावा देने वाले लोगों का कहना है हर बार इस समय में जलसंकट के आसार जल स्तर गिरने के कारण बढ़ जाते हैं, क्योंकि जो हैंडपंप तथा ट्यूबवेल 150 फीट गहरे होते हैं, वे पानी देना बंद कर देते हैं। इस कारण लोगों को पानी के लिए परेशान होना पड़ता है। हालांकि अभी इन हैंडपंप तथा ट्यूबवेल में पानी तो है लेकिन इनमें धीरे-धीरे पानी कम होने लगा है।

कई लोगों के निजी बोर से भी कई लोगों द्वारा अपने-अपने घरों में बोर खनन करवाकर पानी की पूर्ति की जाती है लेकिन गिरते जलस्तर के कारण जिन लोगों के बोर 200 फीट से कम है, वे बंद होने लगे हैं। कुछ में तो नाममात्र का पानी आ रहा है तो कुछ पूरी तरह से बंद हो गए हैं।

ग्रामीण क्षेत्र में भी बंद है कई हैंडपंप- गर्मी की दस्तक के साथ ही पीएचई विभाग द्वारा ग्रामीण क्षेत्र में हैंडपंप का ध्यान नहीं दे रहे हैं जिसके कारण जो हैंडपंप खराब थे, उन्हें ठीक करने का करने दिशा में काई सार्थक पहल भी नही हो रहा है। हालांकि अभी कुछ स्थान पर बंद हैंडपंप देखे जा सकते हैं। इस प्रकार की स्थिति सिवान के तमाम प्रखंडों के समीप देखी गई, यहां पर हैंडपंप तो लगे हैं, जिसमें कुछ चालू है तथा कुछ तो पुरी तरह से बंद हो गए है। इस संबंध में लोगों का कहना है कि इस बार बारिश तो अच्छी नहीं हुई जिसके कारण जलस्तर गिरने के कारण हैंडपंप तथा ट्यूबवेल पूरी तरह से बंद होने लगे हैं। जो गहरे बोर हैं, वे ही फिलहाल पानी दे रहे हैं। फिलहाल अगर पानी को नहीं बचाया गया तो स्थिति बहुत भयावह हो सकती हैं।

About IBN24X7NEWS

Check Also

एक्सक्लूसिव पटना: पटना के पीएमसीएच में डॉक्टर डॉक्टर के बीच जमकर हुई मारपीट

रिपोर्ट अमन सिंह  ibn24x7news पटना पटना के पीएमसीएच में डॉक्टरों के बीच जमकर मारपीट ।सूत्रों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *