Breaking News

प्रदूषण जांच केंद्र द्वारा वाहन मालिकों से अवैध वसूली करते कर्मी

रिपोर्ट चंदन गोयल ibn24x7news नरकटियागंज

दोपहिया वाहन के लिए 80 रुपए की 100 की वसूली

प्रदूषण प्रमाण पत्र बनवाने के समय नही चेक की जाती वाहन

नरकटियागंज श्रीराम प्रदूषण जांच केंद्र प्रमाण पत्र के लिए संचालक हर वाहन मालिक से निर्धारित दरों से 20-20 रुपये अधिक वसूल रहे हैं।
प्रत्येक वाहन मालिक को सड़क पर वाहन चलाने के लिए हर छह महीने में प्रदूषण नियंत्रण जांच प्रमाणपत्र बनवाना होता है।

इसके लिए वह अधिकृत जांच केंद्रों से प्रदूषण स्तर का जांच प्रमाणपत्र बनवाते हैं। चेकिंग के दौरान परिवहन व यातायात विभाग के साथ ही पुलिस कर्मी भी प्रदूषण नियंत्रण प्रमाणपत्र सबसे पहले मांगते हैं। अधिकारियों की मानें तो करीब 10 फीसदी वाहन मालिक प्रदूषण प्रमाणपत्र नहीं बनवाते हैं।
जांच प्रमाणपत्र जारी करने वाले दोपहिया वाहन के लिए 80 रुपये की जगह 100 रुपये ले रहे है

पैसे दो और प्रमाणपत्र लो गाड़ी में कितना भी ज्यादा धुआं निकल रहा हो, इससे प्रदूषण प्रमाणपत्र बनाने वालों पर कोई फर्क नहीं है। उन्हें अपनी फीस से मतलब है,चेकिंग के दौरान सबसे ज्यादा जुर्माना प्रदूषण नियंत्रण जांच प्रमाणपत्र न होने पर किया जाता है।

प्रमाणपत्र बनवाने जब इसका विरोध करते है तो ऑपरेटर के द्वारा कहा जाता है की रसीद से कोई वास्ता नही मुझे अतिरिक्त पैसा दे अन्यथा मेरे पास बनावाने के लिए नही आये जिससे लोगो मे काफी रोष भी व्याप्त है एक तरफ तो लोगो को प्रशाशन का फाइन का डर तो दूसरी तरफ प्रदूषण जांच केंद्रों के द्वारा अवैध वसूली से वाहन मालिक परेशान है आखिर जाए तो कहा जाए चारो तरह शोषण ही मिलता है वही जब अनुमंडल पदाधिकारी चदन चौहान ने बताया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *