Breaking News
Home / उत्तरप्रदेश / मुजफ्फरपुर-जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा पर कार्यशाला का हुआ आयोजन

मुजफ्फरपुर-जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा पर कार्यशाला का हुआ आयोजन

मुजफ्फरपुर/ 9 जुलाई : परिवार कल्याण कार्यक्रम के तहत जनसंख्या स्थिरता पखवाड़े को लेकर जिले के एक होटल में एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गयी. इस दौरान दंपति संपर्क पखवाड़े की समीक्षा के साथ जनसंख्या स्थिरता पखवाड़े की कार्य योजना पर विस्तार से चर्चा की गयी. साथ ही इसके कुशल क्रियान्वयन के लिए इस दौरान होने वाली विभिन्न गतिविधियों की जानकारी संबंधित अधिकारियों को दी गयी.
इस अवसर पर परिवार नियोजन के नोडल अधिकारी डॉ. हरेन्द्र कुमार ने बताया कि जिले में 27 जून से दंपति संपर्क पखवाड़े की शुरुआत की गयी जिसे आगामी 10 जुलाई तक चलाया जाएगा. इस पखवाड़े में आशा एवं एएनएम 15 से 49 वर्ष के योग्य दंपतियों को परिवार नियोजन के लाभ के बारे में जागरूक कर रही हैं. साथ ही प्रचार-प्रसार के माध्यम से लोगों को सही उम्र में शादी, शादी के कम से कम दो साल बाद पहला बच्चा, दो बच्चों में 3 साल का अंतराल एवं परिवार नियोजन के स्थायी एवं अस्थायी साधनों के बारे में जानकारी दी जा रही है. आशा एवं एएनएम परिवार नियोजन के स्थायी साधनों को अपनाने वाले लोगों का पंजीकरण भी कर रही है.
जिला सिविल सर्जन डॉ शैलेश प्रसाद सिंह ने दंपति संपर्क पखवाड़े के बाद जनसंख्या स्थिरता पखवाड़े की शुरुआत की जानकारी देते हुए बताया कि जिले में परिवार नियोजन पर जागरूकता एवं परिवार नियोजन उपायों के इस्तेमाल को बढ़ाने के लिए 11 जुलाई से 23 जुलाई तक जिले में जनसंख्या स्थिरता पखवाडा चलाया जाएगा. इसमें आशा, एएनएम, महादलित विकास मित्र एवं जीविका कार्यकर्ता भी सहयोग करेंगे. साथ ही इन्हें महिला नसबंदी के लिए उत्प्रेरित करने के लिए प्रति महिला 300 रूपये एवं पुरुष नसबंदी के लिए प्रति पुरुष 400 रूपये की प्रोत्साहन राशि भी दी जाएगी. उन्होंने बताया कि जनसंख्या स्थिरता पखवाड़े के दौरान परिवार विकास मेला का जिला एवं प्रखंड स्तर पर आयोजन होगा, जिसमें परिवार नियोजन के साधनों की जानकारी दी जाएगी एवं परिवार नियोजन के स्थायी साधनों को अपनाने वाले इच्छुक दंपतियों को निःशुल्क सुविधा उपलब्ध करायी जाएगी.
कार्यशाला के दौरान जिला कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ वीपी वर्मा ने बताया कि पखवाड़े के दौरान जिला सदर अस्पताल सहित अन्य प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में परिवार नियोजन संसाधनों की उपलब्धता के साथ सर्जन भी उपलब्ध रहेंगे. उन्होंने बताया सभी प्रखंडो में सारथी रथ के द्वारा पोस्टर एवं बैनर की सहायता से प्रचार प्रसार कराया जाएगा. उन्होंने बताया कि परिवार नियोजन के लक्ष्यों की प्राप्ति में सामुदायिक जागरूकता का अहम योगदान होता है. इसे ध्यान में रखते हुए जन-जागरूकता पर विशेष बल दिया जाएगा. सभी की समान सहभागिता से ही नियोजित परिवार का सपना पूर्ण हो सकता है.
इस दौरान जिला स्तरीय स्वास्थ्य कर्मियों के साथ प्रखंड स्तरीय चिकित्सक एवं ब्लॉक कम्युनिटी मोबिलाइजर उपस्थित थे.

About IBN24X7NEWS

Check Also

इंसेफेलाइटिस की पुष्टि हो जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग सक्रिय

रिपोर्ट अरविंद यादव ibn24x7news महाराजगंज महराजगज – पनियरा ब्लॉक क्षेत्र ग्रामसभा विसुनपुरा में नवकी बीमारी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *