Breaking News
Home / देश / आंगनबाड़ी केंद्रों पर आरोग्य दिवस का हुआ आयोजन, बच्चों व गर्भवती महिलाओं को लगाया गया टीका

आंगनबाड़ी केंद्रों पर आरोग्य दिवस का हुआ आयोजन, बच्चों व गर्भवती महिलाओं को लगाया गया टीका

आंगनबाड़ी केंद्रों पर आरोग्य दिवस का हुआ आयोजन, बच्चों व गर्भवती महिलाओं को लगाया गया टीका

• बच्चों की देखभाल व नियमित टीकाकरण के फायदे पर हुई चर्चा

• महिलाओं को दी गयी परिवार नियोजन की जानकारी

• आयरन की गोली का हुआ नि:शुल्क वितरण

सिवान। कोरोना संकटकाल में भी बच्चों व गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य का विशेष ख्याल रखा जा रहा है। इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग और आईसीडीएस की ओर से कई कार्यक्रम चलाये जा रहें है। इसी कड़ी में बुधवार के जिले के आंगनबाड़ी केंद्रों पर आरोग्य दिवस का आयोजन किया गया। आरोग्य दिवस पर आने वाले बच्चों व गर्भवती महिलाओं को प्रतिरक्षित किया गया तथा नियमित टीकाकरण के महत्व पर चर्चा की गयी। एएनएम और आंगनबाड़ी सेविकाओं द्वारा महिलाओं की काउंसलिंग भी की गयी। जिसमें नवजात शिशुओं के विशेष देखभाल पर जोर दिया गया। साथ हीं टीकाकरण स्थल पर आनेवाली महिलाओं को परिवार नियोजन के बारे में जानकारी दी गयी तथा स्थाई व अस्थाई साधनों को अपनाने के लिए प्रेरित भी किया गया। आंगनबाड़ी केंद्रों पर आनेवाली महिलाओं के बीच इच्छानुसार परिवार नियोजन के अस्थाई साधनों का नि:शुल्क वितरण भी किया गया।

टीकाकरण से कई तरह की बीमारियों से होता है बचाव:

सिविल सर्जन डॉ यदुवंश कुमार शर्मा ने बताया कि शिशुओं व गर्भवती महिलाओं के रूटीन इम्यूनाइजेशन उन्हें कई तरह की बीमारियों से बचाता है। इनमें कई बीमारियां शामिल है। टीकाकरण से बच्चों के शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाया जाता है ताकि उनके रोग से लड़ने की क्षमता विकसित हो सके। गर्भवती व नवजात को डिप्थीरिया से बचाने के लिए टीडी के दो टीके दिए जाते हैं। टीबी से बचाने के लिए बीसीजी, हेपेटाइटिस से बचाने के लिए हेप-बी, पोलियो से बचाव के लिए ओपीवी एवं आईपीवी, डिप्थीरिया, परट्यूसिस, टिटनेस, हेपेटाइटिस बी व हिमोफिलेस इंफ्लुएंजी से बचाव हेतु पेंटावेंट, डायरिया से बचाव हेतु रोटा वायरस का टीका, न्यूमोकोकस के संक्रमण से बचाव हेतु पीसीवी, खसरे व रुबेला से बचाव हेतु एमआर और जापानी बुखार से बचाव के लिए जेई का टीका लगाया जा रहा है।

परिवार नियोजन के साधनों की दी गई जानकारी:

आरोग्य दिवस पर परिवार नियोजन के स्थायी व अस्थायी साधनों के बारे में जानकारी दी गई तथा स्थायी साधनों में महिला बंध्याकरण तथा पुरुष नसबंदी व अस्थायी साधनों में कॉपर टी, गर्भ-निरोधक गोली (माला-एम व माला-एन), कंडोम व इमरजेंसी कंट्रासेपटीव पिल्स के बारे में बताया गया। साथ ही नवीन गर्भनिरोधक ‘अंतरा व ‘छाया’ के इस्तेमाल पर ज़ोर दिया जा रहा है। ‘अंतरा’ गर्भ निरोधक इंजेक्शन का इस्तेमाल एक या दो बच्चों के बाद गर्भ में अंतर रखने के लिए दिया जाता है। साल में इंजेक्शन का चार डोज दिया जाता है। वहीं ‘छाया’ गर्भ निरोधक एक साप्ताहिक टेबलेट है। इसे सप्ताह में एक बार सेवन करना होता है।

सोशल डिस्टेंसिंग का रखा जा रहा ख्याल:

टीकाकरण के दौरान सभी स्वास्थ्य कर्मियों लाभार्थियों को कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए सुरक्षात्मक यथा: सभी स्तर पर व्यक्तिगत दूरी, कम से कम 6 फीट की दूरी, मुंह को ढक कर रखने, हाथ धोने एवं स्वास्थ्य संबंधित दिशा निर्देशों का पालन किया जा रहा है।

लाभार्थियों को आमंत्रित कर रहीं हैं आशा:

सिविल सर्जन डॉ यदुवंश कुमार शर्मा ने बताया कि प्रत्येक टीकाकरण सत्र के पूर्व सभी लक्षित लाभार्थियों को टीकाकरण सत्र स्थल समय की सूचना आशा द्वारा दी जा रही है। लाभार्थियों को एक तय समय सारणी के अनुसार सत्र स्थल पर आने के लिए सूचित किया जा रहा है । ताकि किसी भी परिस्थिति में 5 से अधिक व्यक्ति एकत्र ना हो पाए। इसके साथ ही सत्र स्थल पर निश्चित दूरी पर घेरा का प्रतीक चिन्ह बना कर लाभार्थियों को रखा जा रहा है। लाभार्थियों लाभार्थी को लेकर आने वाले परिवार के सदस्य भी निश्चित रूप से अपने मुंह एवं नाक को कपड़े मास्क से ढककर आने के लिए प्रेरित कर रही है।

About IBN NEWS

It's a online news web channel running as IBN24X7NEWS.

Check Also

15 वचनों का पालन कर कोरोना संक्रमण की करें रोकथाम

IBN NEWS स्वास्थ एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने गाइलाइंस जारी कर की अपील संक्रमण की …

रेलवे का बड़ा फैसला: 12 अगस्त तक नहीं चलेंगी रेग्युलर ट्रेनें

रेलवे का बड़ा फैसला: 12 अगस्त तक नहीं चलेंगी रेग्युलर ट्रेनें, वापस होगा पूरा किराया …

ब्रेकिंग: सीबीएसई ने रद्द कि जुलाई मे होने वाली 10 वी व 12 वी कि परीक्षाएं

  केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी सीबीएसई के दसवीं और बारहवीं के 1 से 15 …

प्री मानसून ने दी गांवों में दस्तक, धरती पुत्रों के चेहरे खिले

जहाजपुर तहसील के रोपा पंचायत मुख्यालय सहित आसपास के गांवों बेरी, नराणा, बिश्निया, आमली, बंगला, …

प्रदेशवासियों के लिए अच्छी खबर.मानसून ने किया प्रदेश में प्रवेश

प्रदेशवासियों के लिए अच्छी खबर जयपुर:-मानसून ने किया प्रदेश में प्रवेश। प्रदेश के 16 जिलों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp For any query click here