चुनार मिर्जापुर: पर्यटक स्थल लिखनियां की आवाज सुनो

पर्यटक स्थल लिखनियां की आवाज सुनो
मिर्जापुर: अहरौरा थाना अंतर्गत कई विहंगम और पर्यटक स्थल है जिसमें पुरातात्विक दृष्टिकोण से लिखनियां दरी मुख्य और महत्वपूर्ण है। चूंकि फोर लेंथ रोड वाराणसी – मार्ग बनने के पूर्व यह हाइवे पर स्थित था सो इस सड़क मार्ग से यात्रा करने वाले यात्रियों की निगाहों को यह पर्यटक स्थल बरबस अपनी ओर खींच लेते थे। आज यह अहरौरा से आठ किलोमीटर दूर स्थित है जो अहरौरा थाना से पांच किलोमीटर दक्षिण यात्रा करने के बाद लिखनियां दरी मोड़ से तीन किलोमीटर अंदर रोड पर यात्रा करना होता है। इस पर्यटन स्थल का महत्व प्राकृतिक झरना, अंदर चूनादरी फाल, यत्र तत्र बहते पहाड़ी छोटे छोटे झरनों का संगम, वन फूलों से लदे जंगली तरह तरह के वृक्षों के समूह व चट्टानों में प्राकृतिक गुफाएं, जानवरों के रहने के कंदराओं के अतिरिक्त इन गुफाओं में बनी अजंता एलोरा की भाँति बनी चित्रभित्तियां हैं। पर्यटन विभाग की उदासीनता के कारण इन चित्रभित्तियों को पर्यटकों ने तमाम तरह से बर्बाद कर रखा है।
इस झरने में जगह जगह छोटे छोटे कुण्ड बने हुए हैं जहाँ कांच की बोतलों को मदिरापान करने वाले इसमें फोड़ देते हैं या इस पर्यटक स्थल के चट्टानों पर यत्र तत्र फेंक देते हैं जिससे तमाम निर्दोष पर्यटक घायल होते रहते हैं। अत्यधिक पर्यटकों आवागमन यहां होता है और अपने साथ लेकर आये प्लास्टिक के बर्तनों और बोतलों की भी भरमार देखने को मिलती है। गंदगी को कुछ हद तक प्राकृतिक हवाएं व बारिश नियंत्रित करती हैं मगर यह भी पर्याप्त नहीं दिखता है। इस पर्यटक स्थल पर अपराधिक गतिविधियों से बचाव, पर्यटकों के सुरक्षा के मद्देनजर शाम पांच बजे तक ही यह रहने की प्रशासनिक इजाजत है, खतरनाक क्षेत्र चूनादरी जाने की मनहाई है, मदिरा सेवन वर्जित है। फिर भी पर्यटक गुफाओं में जाकर आग जलाकर भोजन तैयार करते हैं जिससे भित्तिचित्र खराब हो चुके हैं। थाना प्रभारी मनोज कुमार सिंह ने प्रशासनिक आदेशों को गंभीरता से लेते हुए इस पर्यटक स्थल पर जाने वाले दो रास्तों पर घेरेबंदी कर रखी थी। बिना हेलमेट के बाइक सवारों, ध्वनि प्रदूषण करने वाली गाड़ियों, बाइक पर तीन सवारियों, मदिरापान कर गाड़ी चलाने वालों को चालानी कार्रवाई से पाबंद करने लगे। एस आई विमलेश सिंह कां रणविजय कुशवाहा, कां देवानंद, कां मृदुल सिंह के साथ साथ भारी पुलिस फोर्स के साथ ही साथ पी ए सी की एक ग्रुप भी सहयोग में रही।

पर्यटक स्थल जो पुरातत्व के दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण है, की सुरक्षा में जिम्मेदार विभागों व राज नेताओं को भी आगे आना होगा वर्ना भविष्य इनसे इनकी जिम्मेदारियों के निर्वहन पर सवाल उठायेगा।
 
रिपोर्ट हरिकिशन अग्रहरि ibn24x7news मिर्जापुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp For any query click here