झाँसी: रेलवे स्टेशन झाँसी पर भाग कर जा रहे प्रेमी युगल पकड़े गए

रेलवे स्टेशन झाँसी पर भाग कर जा रहे प्रेमी युगल पकड़े गए
झाँसी 9 जुलाई– मुस्लिम युवकों द्वारा हिन्दू लड़कियों को अपने प्रेमजाल में फंसाकर गलत रास्ते पर ले जाने के मामले बढ़ते जा रहे है। ऐसा ही एक मामला उस वक्त पकड़ में आया जब नाबालिग हिन्दू लड़की को पानीपत से झांसी के रास्ते ले जाया जा रहा था। आरपीएफ की पैनी निगाहों में लड़की आ गयी। जिसके बाद पड़ताल में सामने आया कि लड़की के बारे में पानीपत में मुकदमा दर्ज है। इसके बाद आरपीएफ ने आरोपी मुस्लिम लड़के को भी पकड़ लिया है।
जानकारी के अनुसार हरियाणा के पानीपत जिले में मजदूरी कर अपना परिवार पाल रहे एक आदमी की नाबालिग बेटी मीनाक्षी ( परिवर्तित नाम) को झांसी स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 6 पर देखा गया। मीनाक्षी के हाव भाव समझने में आरपीएफ के तेज तर्रार अमित यादव और डी एस मीना को देर नहीं लगी। इसके बाद लेडी सिपाही बुलाकर मीनाक्षी को पुलिस अभिरक्षा में आरपीएफ थाने लाया गया। यहां मीनाक्षी ने बताया कि बिहार, पूर्णिया निवासी अबू बकर ने रंगीन दुनिया के सपने दिखाए और अपने साथ भगाकर ले जा रहा था।
5 जुलाई को मीनाक्षी को पानीपथ से निकाला गया। मीनाक्षी के अगवा होने की सूचना परिजनों द्वारा किला थाना में दर्ज करायी गई। जिसके बाद पुलिस ने धारा 363 व 366 ए के तहत जांच शुरू कर दी है। दो दिन तक साथ रहने के बाद जब मीनाक्षी के समझ में आया कि वह लव जेहाद जैसे मामले का शिकार हो रही है। तब उसकी अबू बकर के साथ अनबन होने लगी। मीनाक्षी ने आरपीएफ अभिरक्षा में आने के बाद अपने को सुरक्षित महसूस किया। मीनाक्षी को आरपीएफ के साथ जाते देख अबू बकर सहम गया और पास ही छिप गया। इसके बाद वह दिल्ली जाने वाले गाड़ी का इंतजार करने लगा, लेकिन अमित यादव और डी सी मीना की जोड़ी ने उस फोटो से अबू बकर को पहचान लिया जो मीनाक्षी ने पुलिस को दिखायी थी। हालांकि मीनाक्षी को चाइल्ड लाइन भेज दिया।
 
रिपोर्ट महेंद्र सिंह सोलंकी ibn24x7news झाँसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp For any query click here