Breaking News

देवरिया – जिलाधिकारी अमित किशोर ने जिला अस्पताल महिला/ पुरुष वार्डो का बारीकी से किया निरीक्षण


Ibn24x7news रिपोर्ट सुभाष चन्द्र यादव
जिलाधिकारी अमित किशोर ने जिला अस्पताल महिला/ पुरुष का बारीकी से भ्रमण कर सभी स्वास्थ्य सेवाएं एवं वहां की अन्य व्यवस्थाओं सहित साफ-सफाई को देखते हुए कहा कि स्वस्थ रहने के लिए जितनी आवश्यकता दवा की है, उतनी जरूरी स्वच्छता की है, तभी हम अपने आप को स्वस्थ रख सकते हैं। उन्होंने कहा कि अस्पताल की व्यवस्थाओं को सभी लोग अपना दायित्व समझते हुए चाक-चैवन्द बनाएं जिससे अस्पताल में आने वाले लोगों को बेहतर से बेहतर सुविधा संभव हो सके और वह यहां से स्वस्थ होकर वापस जा सके। उन्होंने स्पष्ट किया कि यह तभी संभव है जब हम अपनी ड्यूटी को सेवा भाव मानते हुए संपन्न करें।
जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान टाॅयलेट की सफाई, कार्यालय स्टोर, रसोई, अस्पताल में स्थित पार्क सहित भवन की स्थिति को भी गंभीरता से लेते हुए कहा कि यदि इन कार्यों को शीघ्रता के साथ पूर्ण करा लिया जाए तो स्वच्छ भारत अभियान योजना के तहत कायाकल्प अवार्ड योजना का पुरस्कार भी जनपद को मिल सकता है। उन्होंने कहा कि इन कार्यो को पूर्ण कराने के लिये समय की अल्पता ध्यान में रखते हुए कार्य कराना होगा तभी हम सफल होगें। उन्होने वन विभाग के उपस्थित कर्मचारी को निर्देश दिए कि वे अस्पताल परिसर में स्थित पार्को का आकलन कर, उनमें वृक्षारोपण आदि लगाकर उनको सुन्दर बनवायें। नगर पालिका को निर्देश दिए कि वे सफाई कर्मियों के माध्यम से अस्पताल परिसर को स्वच्छ कराये और आवश्यकतानुसार कूडेदान भी उपलब्ध करायें, जिससे कूडा ईधर-उधर न फेका जा सके और कूडेदान में ही एकत्रित किया जायें।
श्री किशोर ने मुख्य चिकित्या अधीक्षक/अधीक्षिका से कहा कि परिसर में स्थित विभिन्न कक्षो में विभागवार वाल पेटिंग करायं, जिससे आने वाले मरीजो व उनके तीमादारों को इधर-उधर भटकना न पडे। उन्होने परिसर की रंगाई-पोताई के कार्यो को तत्काल प्रारम्भ कराये जाने को कहा। निरीक्षण के दौरान पाया गया कि मरीजो के साथ आने वाले तीमादारों की अधिक भीड रहती है, जिसपर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक द्वारा बताया गया कि सुरक्षा कर्मियों को तैनात कर दिया जाय तो भीड को रोका जाना संभव होगा, जिसपर जिलाधिकारी ने आश्वस्त किया कि मरीजो के पास अधिक भीड न हो इसके लिए आवश्यकतानुसार सुरक्षा कर्मी उपलब्ध करा दिये जायेगें। उन्होने यह भी कहा कि चिकित्सालय भवन काफी अच्छा व बडा है, इसका ले-आउट बनाकर होर्डिंग के रुप में भवन के गेट पर स्थापित कराया जाय, जिससे आने वालो को पूरी जानकारी प्राप्त हो सके और वे निर्धारित स्थान पर बिना किसी परेशानी के पहुॅच सके। उन्होने स्पष्ट निर्देश दिये कि मरीजो के साथ किसी भी तरह की कोई अभद्रता/अनियमितता न बरती जाय। यदि किसी के विरुद्ध कोई शिकायत प्राप्त होगी तो उसके खिलाफ कठोर कार्यवाही की जायेगी। उन्होने वार्ड के अन्दर से आने का रास्ता होने पर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक(महिला) को कहा कि यह सुनिश्चित करें कि अन्दर आने के लिये अन्य कोई रास्ता हो सकता है या नही, यदि हो सकता है तो प्रस्ताव दें, जिससे मरीजो के बीच से जाने की रास्ता बन्द कर अलग से रास्ता निर्धारित की जा सके।
निरीक्षण के दौरान डा0 यशवन्त मल्ल ने बताया कि स्वच्छ भारत अभियान के अन्तर्गत कायाकल्प अवार्ड योजना के तहत प्रदेश स्तर से आने वाली सर्वे टीम द्वारा जिला चिकित्सालयों प्रा0/सा0 स्वास्थ्य केन्द्रो को उनकी व्यवस्था के आधार पर यदि चयनित किया जायेगा तो प्रथम, द्वितीय व तृतीय पुरस्कार प्रदान किये जायेगें, जिसमें जिला चिकित्सालय को प्रथम स्थान आने पर 50 लाख, द्वितीय स्थान आने पर 30 लाख तथा तृतीय स्थान होने पर 20 लाख रुपये पुरस्कार स्वरुप प्रदान किये जायेगें। इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि इसके लिये आपलोगो का दायित्व महत्वपूर्ण है, आप अच्छी से अच्छी व्यवस्थाये व साफ-’सफाई का कार्य कराये जिससे जनपद को प्रथम स्थान प्राप्त हो और पुरस्कार ले सके जिससे जिले का नाम भी रोशन होगा और अन्य व्यवस्थाये भी सुदृढ हो सकेगी।
निरीक्षण के दौरान सी0एम0ओ0 डा0 धीरेन्द्र कुमार, सी0एम0एस0 पुरुष डा0छोटेलाल, सी0एम0एस0 महिला डा0माला सिन्हा सहित विभिन्न विभागो के अधिकारी व चिकित्सा विभाग के कर्मचारी उपस्थित रहे।

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

गैंगेस्टर एक्ट में दो अभियुक्त गिरफ्तार।

रिपोर्ट ब्यूरो गोरखपुर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद द्वारा वांछित अपराधियों के विरूद्ध गिरफ्तारी के सम्बंध …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *