देवरिया – सघन दस्त नियंत्रण पखवाडा का हुआ शुभारम्भ

Ibn24x7news रिपोर्ट सुभाष चन्द्र यादव

देवरिया (सू0वि0) 27 जुलाई। आज 27 जुलाई 2018 को जिला महिला चिकित्सालय देवरिया के प्रांगण में सघन दस्त नियंत्रण पखवाडा का शुभारम्भ कमलेश शुक्ल, विधायक रामपुर कारखाना, द्वारा किया गया। उदघाटन अवसर पर डा0 धीरेन्द्र कुमार मुख्य चिकित्सा अधिकारी, डा0 माला सिन्हा मुख्य चिकित्सा अधीक्षिका, डा0 एस0एन0सिंह अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, डा0 सुरेन्द्र सिंह अपर मुख्य चिकित्साधिकारी, डा0 संजय चन्द्र अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, श्रीमती पूनम जिला कार्यक्रम प्रबंधक, राजेश गुप्ता डी0शी0पी0एम0, चन्द्रिका प्रसाद एवं राकेश चन्द सहायक शोध अधिकारी, ब्रजेश पाण्डेय स्टोर कीपर, मुकेश चन्द्र मिश्र, अभिषेक सिंह, श्रीनाथ आदि उपस्थित रहेे।
अपने सम्बोधन में कमलेश शुक्ल ने कहा कि इस कार्यक्रम के प्रति अधिकारी/कर्मचारी को जागरूक होना चाहिये तथा गांव गंाव प्रचार प्रसार होना चाहिये। उन्होने बताया कि पहले डायरिया से बहुत बच्चे मर जाते थे, जिसका समय से इलाज नही होता था, किन्तु अब प्रत्येक चिकित्सा ईकाइयों पर इसका इलाज हो रहा है। ओ0आर0एस0 पैकेट एवं जिंक टैबलेट डायरिया रोग के लिये बहुत अच्छी औषधि है।
समापन सम्बोधन पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 धीरेन्द्र कुमार ने बताया कि सघन दस्त नियंत्रण पखवाड़ा का उद्देश्य है कि कोई भी बच्चा जो डायरिया से ग्रसित है, को इस बीमारी से कदापि मरने न दिया जाय। डायरिया का उपचार ओ0आर0एस0 एवं जिक की गोली मात्र से किया जा सकता है। इसके लिये 14 दिन का कार्ययोजना बनाई गयी है एवं सा0/प्रा0स्वा0केन्द्र पर जिंक कार्नर की स्थापना सुनिश्चित की गयी। आशाओं एवं आंगनवाडी कार्यकर्तियों के माध्यम से ऐसे परिवारो को चिन्हित किया गया है कि जिसमें 0-5 वर्ष तक के लगभग 338657 बच्चे है एवं कार्ययोजना के अनुसार क्षेत्र का भ्रमण कर स्वास्थ्य कार्यकर्ति द्वारा डायरिया से ग्रसित बच्च़ों को ओ0आर0एस0 एवं जिंक टैबलेट दिया जाना है, साथ ही साथ परिवार के लोगों को डायरिया के लक्षण के साथ ओ0आर0एस0 घोल बनाने की विधि भी बताई गई है तथा सड़े-गले फल बासी भोजन न खाने एवं स्वच्छ पानी पीने की सलाह भी दिया गया।
डा0 एस0एन0सिंहअपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने डायरिया के लक्षण पर बताया कि जल्दी-जल्दी दस्त होना, पेट में तेज दर्द होना, पेट में मरोड होना, उल्टी आना, बुखार आना, कमजोरी महसूस होना आदि लक्षण पाये जाते है तो डायरिया कहलाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp For any query click here