बरेली: पत्नी ही निकली पति की हत्यारिन

पत्नी ही निकली पति की हत्यारिन
मीरगंज मर्डर का खुलासा पत्नी ही निकली पति की हत्यारिन पत्नी ने ही प्रेमी के साथ मिलकर घटना को दिया था अंजाम अपने प्रेमी के साथ मिलकर की हत्या हिमाचल में रची गई थी हत्या की साजिश।
हिमाचल प्रदेश की फैक्ट्री के मजदूर की हत्या का बरेली पुलिस ने 24 घंटे के अंदर खुलासा कर दिया। हत्या में शामिल उसकी अपनी पत्नी और पत्नी के प्रेमी को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे किया है । पुलिस ने आला कत्ल बरामद करने के साथ ही हत्या जैसे जघन्य वारदात को अंजाम देने के राज को बेपर्दा कर दिया है । प्रभारी एसएसपी के पर्यवेक्षण में यह बड़ा खुलासा आधी रात को ही हो गया था । यूपी के बरेली जनपद के मीरगंज सर्किल के फतेहगंज पश्चिमी थाना क्षेत्र के गांव जटपुरा मुगलपुर का रहने वाला जगदीश (45) पुत्र डोरीलाल हिमाचल प्रदेश की एक फैक्ट्री में मजदूरी कर रहा था । इसी दौरान रामपुर जनपद के शाहबाद थाना क्षेत्र के कस्बा सैफनी निवासी उसी फैक्ट्री के मजदूर सोरन सिंह उर्फ विजेन्द्र सिंह के साथ मृतक की पत्नी मीना के अवैध संबध हो गये। जब मृतक को अपनी पत्नी के अवैध संबंधों की जानकारी हुई तो उसने पत्नी मीना को काफी समझाने का प्रयास किया ।
लेकिन मीना नहीं मानी , जिसके चलते पति-पत्नी में मनमुटाव के साथ ही आए दिन विवाद होने लगा । इस बीच मीना ने अपने प्रेमी सोरन सिंह के साथ मिलकर जगदीश को रास्ते से हटाने की साजिश हिमाचल प्रदेश में ही रच ली। योजनाबद्ध तरीके से मीना अपने प्रेमी सोरन सिंह के साथ 9 जुलाई को हिमाचल प्रदेश से पति जगदीश को गांव ले आयी। यहां पहले तो जगदीश को खेत पर जमकर शराब पिलाई फिर दोनों ने मिलकर चाकू से गोदकर उसकी नृशंस हत्या कर दी । बुधवार रात पुलिस को खेत में अज्ञात शव पड़े होने की सूचना मिली तो आनन फानन में पुलिस ने मौके पर पहुंच शव को कब्जे में ले लिया । कुछ ही देर में शव की शिनाख्त जगदीश के रूप में हो गई ।
मीरगंज क्षेत्र में स्थित खेत में शव मिलने के बाद सनसनी फैल गई । प्रभारी एसएसपी डॉक्टर सतीश कुमार ने सीओ मीरगंज राम प्रकाश और इंस्पेक्टर अजय कुमार शर्मा के साथ मौका मुआयना किया। आज गुरुवार को प्रभारी एसएसपी डॉक्टर सतीश कुमार ने जगदीश हत्याकांड का बरेली पुलिस लाइन में खुलासा कर दिया । उन्होंने बताया कि पुलिस टीम को पुरस्कृत किया जाएगा । प्रभारी एसएसपी ने हत्यारोपी पत्नी और उसके प्रेमी को मीडिया के समक्ष पेश किया । पत्नी मीना ने बताया कि उसका पति घर का खर्च नहीं चला पा रहा था । शराब पीने के साथ ही आए दिन उसके साथ मारपीट करता था । वहीं प्रेमी सोरन सिंह का कहना था कि फैक्ट्री में करीब 2 महीने पहले मुलाकात के दौरान मीना से प्रेम प्रसंग हो गया था । सोरन ने बताया कि उसकी अपनी पत्नी शकुंतला की मौत हो गई थी , जिसके चलते वह मीना के प्रेम जाल में इस कदर पागल हो गया कि उसने जगदीश की हत्या में मीना का पूरी तरह से साथ देने की योजना पहले ही बना ली थी । फिलहाल छह बच्चों की मां मीना ने एक बार फिर रिश्ते को तार-तार कर दिया है ।
अवैध संबंधों में आड़े आ रहे पति को मौत के घाट उतारने से पहले मीना ने अपने 6 बच्चों की परवरिश की परवाह भी नहीं की । प्रेस कांफ्रेंस के दौरान भी उसके चेहरे पर पति की हत्या करने को लेकर कोई सिकन नहीं था । जगदीश के साथ मीना की यह दूसरी शादी थी । इस बीच 24 घंटे के अंदर हत्या जैसी जघन्य वारदात का खुलासा करने पर आईजी डीके ठाकुर तथा एडीजी प्रेम प्रकाश ने प्रभारी एसएसपी डॉक्टर सतीश कुमार और मीरगंज इंस्पेक्टर अजय कुमार शर्मा के साथ ही सर्विलांस प्रभारी उपनिरीक्षक जावेद खान की पीठ थपथपाई है । इस हत्याकांड में खास बात यह भी रही कि जगदीश की हत्या उसकी पत्नी मीना ने सोमवार की रात करीब 8 बजे के लगभग चाकू से ताबड़तोड़ प्रहार कर की थी ।
शराब पिलाने के कारण नशे में होने पर जगदीश के सीने पर मीना का प्रेमी सोरन बैठ गया था । जगदीश की लाश मंगलवार यानी एक दिन खेत पर ही पड़ी रही । बुधवार को शौच को गए लोगों ने अज्ञात शव देखा तो पुलिस को सूचना दी , जिसके बाद हत्या जैसी जघन्य वारदात के बारे में पुलिस को जानकारी हुई और फिर हत्या के राज से जो पर्दा उठा , वह हम सबके सामने है । एक बार फिर प्रेमी के लिए अपने ही पति का कत्ल करने वाली बीवी ने अपना नागिन रूप दिखा ही दिया ।
 
रिपोर्ट सौरभ पाठक ibn24x7news बरेली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

WhatsApp For any query click here