बॉलीवुड, भोजपुरी और तेलुगू फिल्मों में अपने अभिनय का परचम लहराने वाले अभिनेता रवि किशन किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं

 
विजय कुमार शर्मा बगहा प,च,बिहार
भोजपुरी फिल्‍मों के सुपरस्‍टार रवि किशन का पूरा नाम रवि किशन शुक्ला है, इनका जन्म 17 जुलाई 1969 में उत्तर प्रदेश के जौनपुर में हुआ था। उनके पिता का नाम श्याम नारायण शुक्ला और मां का नाम जदावती देवी है। इन्‍होंने अपनी ज़िंदगी में काफी कठिनाइयों और गरीबी का सामना किया। आज रवि के जन्मदिन पर हम लाए हैं उनसे जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें-
रवि को बचपन से ही अभिनय का बहुत शौक था, वहीं उनके पिता को यह बिल्कुल पसंद नहीं था। पिता पहले दूध की डेयरी चलाते थे और चाहते थे कि रवि भी वही करे, लेकिन में वो काम बंद होने पर पूरा परिवार जौनपुर चला गया था।
जौनपुर जाने के बाद उनके परिवार की आर्थिक स्थिति और भी ज्यादा खराब हो गई। पूरा परिवार एक मिट्टी के घर में रहता था। रवि के पास इतने पैसे भी नहीं होते थे कि वो किसी त्योहार पर अपनी मां के लिए एक साड़ी खरीद सकें।
रवि एक बार अपनी मां के लिए साड़ी खरीदना चाहते थे जिसके लिए उन्होंने तीन महीने तक अखबार बेचने का काम किया था। पैसे जमा कर जब उन्होंने मां को 75 रुपए की साड़ी लाकर दी तो उनकी मां इतना गुस्सा हुई कि उन्हें थप्पड़ मार दिया। सच्‍चाई पता चलने पर उनकी मां बहुत पछताई और रोईं।
रवि शुरुआत में गांव की नौटंकी में फिल्म स्टार्स की मिमिक्री कर लोगों का मनोरंजन किया करते थे। नाटक मंडली में सीता का कैरेक्टर रवि से बेहतर कोई नहीं कर पाता था। पर उनके पिता को डर था कि रवि महिलाओं का किरदार निभाते-निभाते कहीं यौनकर्मी न बन जाए। इस कारण उन्‍हें पिता से कई बार मार पड़ी।
रवि अमिताभ बच्चन के बड़े फैन हैं। वो बचपन से ही उनकी फिल्में देखते थे। अमिताभ की फिल्म के डायलॉग ‘मैं फेंके हुए पैसे आज भी नहीं लेता’ से रवि काफी प्रेरित थे।
रवि ने शुरुआती दिनों में बी-ग्रेड फिल्मों में भी काम किया है। इससे उन्होंने 5000 रुपए कमाए थे और उन पैसों से बाइक खरीदकर स्ट्रगल करना शुरू कर दिया।
रवि ने फिल्म तेरे नाम में भी काम किया जिससे उन्हें काफी पहचान मिली। “बिग बॉस” में आने के बाद रवि की पब्लिसिटी में काफी इजाफा हुआ। उसके बाद उन्होंने कई टीवी शो को होस्ट किया जिससे उन्हें काफी वाहवाही मिली।
रवि किशन भोजपुरी फिल्मों के इकलौते ऐसे अभिनेता हैं जिनकी फिल्म “जला दे दुनिया तोहरा प्यार में” कांस फिल्म फेस्टिवल 2010 में दिखाई गई थी। इस फिल्म को एक अमेरिकन फिल्म कंपनी ने प्रोड्यूस किया था।
रवि की पत्नी का नाम प्रीति है। इन दोनों की मुलाकात तब हुई थी जब रवि 11वीं कक्षा में पढ़ते थे। सट्रगल के दिनों में प्रीति ने रवि का बहुत साथ दिया था।
रवि किशन को राजनीति में काफी रूचि है। उन्होंने कांग्रेस की सदस्यता भी ली। कांग्रेस में रह कर उन्होंने उत्तर प्रदेश के जौनपुर में चुनाव भी लड़ा था, लेकिन निराशा हाथ लगी। उसके बाद उन्होंने कांग्रेस का दामन छोड़ बीजेपी का हाथ थाम लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp For any query click here