Breaking News
Home / उत्तरप्रदेश / मड़िहान /मिर्जापुर – डायरिया से दो की मौत ग्रामीण रहे परेशान

मड़िहान /मिर्जापुर – डायरिया से दो की मौत ग्रामीण रहे परेशान

Ibn24x7news रिपोर्टर शरद मिश्र
मडिहान संवाददाता
कलवारी मड़िहान मिर्जापुर /मड़िहान थाना क्षेत्र के धुरकर गांव के कोल बस्ती में 10 दिनों से डायरिया फैला हुआ है लेकिन अस्पताल प्रशासन मौन बना हुआ है। डायरिया से अब तक 2 लोगों की मौत हो चुकी है फुलझारी पत्नी मुन्नर कोल70व भगनी पत्नी दुक्खी 68 वर्ष का मृत्यु और प्राइवेट अस्पताल में अभी भी बहुत लोग भर्ती हैं सोमारू पिता गोविंद कोल उम्र 65 रीता पत्नी रमाशंकर उम्र 25 गुड्डी पत्नी पकौड़ी उम्र 35 गोलू पिता महेश उम्र 3 साल महेश पाल पिता बड़ेलाल उम्र 28 अनीता और लोग का दवा चल रहा है लोग प्राइवेट में इलाज करा रहे हैं अभी दो दर्जन से ज्यादा लोग परेशान हैं जिससे नीम-हकीम इनका शोषण कर रहे हैं बरसात होने से जगह-जगह गड्ढों में पानी जमा होने से मच्छर पैदा हो गए हैं लेकिन ग्राम प्रधान को दवा छिड़काव करने में रुचि नहीं दिखा रहे हैं जिससे मरीजों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है एनम आशा और प्रधान गांव के बस्ती के लोगों को क्लोरीन की गोली ब्लीचिंग पाउडर अभी तक वितरित नहीं और इलाज कराने को विवश है किए हैं जिससे गरीबों का जीना दुश्वार हो गया है हैंडपंप गंदा पानी दे रहा है साफ पानी की व्यवस्था अभी तक नहीं की गई है लोग गंदा पानी पीने को विवश हो गए हैं गांव में अभी तक कोई भी चिकित्सा अधिकारी नहीं गया जिससे बस्ती के लोग अपने हिसाब से निजी चिकित्सक के यहां इलाज कराने को विवश हैं। अगर प्रशासन का यही रवैया रहा तो डायरिया से मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है लेकिन गांव के लोग प्रशासन के इस रवैए से काफी गुस्से में हैं गांव में केवल फ्यूरामेटऔर ओआरस घोल बाटा गया है। सुबह से शाम हो गया लेकिन मौके पर कोई भी चिकित्सा प्रभारी मरीजों को देखने नहीं गया जिससे मरीजों का बुरा हाल हो रहा है अभी तक क्षेत्र में कहीं भी दवा का छिड़काव नहीं किया गया है जिससे लोग बीमारी की चपेट में आ रहे हैं गांव में अनेकों प्रकार की बीमारियां पांव पसार रही है अगर यही रवैया अस्पताल प्रशासन का रहा तो काफी लोग परेशानी में रहेंगे।

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

भूगोल विभाग के पूर्व अध्यक्ष प्रोफेसर केएन सिंह को कुलपति नियुक्त किया गया।

रिपोर्ट ब्यूरो   गोरखपुर। भूगोल विभाग के पूर्व अध्यक्ष प्रोफेसर के एन सिंह जी, पूर्व …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *