Breaking News

देवरिया – बसपा प्रदेश अध्यक्ष ने नियाज अहमद से जाना राजनीतिक समीकरण

सदर लोकसभा सीट पर पार्टी की है नजर
देवरिया। बसपा के प्रदेश अध्यक्ष आर एस कुशवाहा जिले में लगातार दो दिन कैम्प कर पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ समीक्षा बैठक किया। इस मौके पर सभी बसपा के क्वाडनेटर भी मौजूद रहे। कार्यकर्ताओ की बैठक के बाद प्रदेश अध्यक्ष सदर लोकसभा सीट के पूर्व प्रत्याशी रहे नियाज अहमद खान से सदर सीट का राजनीतिक समीकरण की जानकारी अकेले में लेते नजर आये। सूत्रों की माने तो बसपा की नजर सदर सीट जितने पर लगी है। इस परिवेश में पार्टी नियाज अहमद खान से पूरी जानकारी लेने के साथ पार्टी के कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारी देकर बूथ बूथ की समीक्षा करने में जुटी है।
यहाँ याद दिलाना जरूरी होगा कि 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा की लहर और कलराज मिश्र के बड़े कद के बावजूद सदर सीट पर बसपा के लोकसभा उम्मीदवार नियाज अहमद खान ने कड़ी टक्कर देने के बाद चुनाव में पराजित हुए। उस चुनाव में पूरे मण्डल में देवरिया सीट पर बसपा को काफी मत मिलने के साथ पार्टी को दूसरा स्थान मिला था। जिले में प्रदेश अध्यक्ष के कार्यक्रम के बाद बसपा कार्यकर्तओं में जोश भी बढ़ा है। अंदर खानों की चर्चा पर गौर किया जाए तो बसपा उम्मीदवार के रूप में दावेदारी कर रहे नियाज अहमद खान के मैदान में आने के संकेत से भाजपा के खेमे में भी बैचेनी है। इसके पीछे तर्क यह है कि नियाज अहमद खान लगातार 20 वर्ष से अपने राजनीतिक सफर में तीन चुनाव लड़कर हारने के बावजूद जनता के हमदर्द बनकर लगातार छेत्र में जुटे है। इतिहास गवाह रहा है कि देवरिया की जनता बेचारे प्रत्याशियों पर अनेको बार भरोसा जता चुकी है ऐसे में नियाज अहमद खान भी कही बेचारा बनकर चुनावी तपिश को बढ़ा सकते है। इस मामले पर बसपा भी नजर रख लगातार नियाज अहमद को छेत्र में जुटने के लिए निर्देशित कर चुकी है। अब चुनावी गणित कहा बैठेगी यह तो आने वाला समय ही तय करेगा, लेकिन सभी दलों ने अपनी तैयारी की योजना में जुट चुके है। आने वाला 2019 का लोक सभा चुनाव ही सारे राजनीतिक गणित की गवाही बनेगा।

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

गैंगेस्टर एक्ट में दो अभियुक्त गिरफ्तार।

रिपोर्ट ब्यूरो गोरखपुर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद द्वारा वांछित अपराधियों के विरूद्ध गिरफ्तारी के सम्बंध …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *