Breaking News

बगहा:- नैतिक जागरण मंच द्वारा देश की सेवा कर रहे जांबाज जवानों के माता-पिता को 2017 के सर्जिकल स्ट्राइक की बरसी पर अंगवस्त्र ,झोला, फूल और सागौन के वृक्ष देकर सम्मानित किया गया सम्मानित


बगहा संवाददाता दिवाकर कुमार
मंच के अध्यक्ष अरुण कुमार सिंह ने जांबाज सिपाहियों के माता पिता के सम्मान समारोह पर सेना के जवानों की भूरी भूरी प्रशंसा किए।
बगहा:- नैतिक जागरण मंच द्वारा देश की सेवा कर रहे जांबाज जवानों के माता-पिता को 2017 के सर्जिकल स्ट्राइक की बरसी पर सम्मानित किया गया ।आज के दिन ही 28 सितंबर 2017 में भारतीय सेना के जवान जवानों द्वारा बिना किसी नुकसान के पाकिस्तान की सीमा में घुसकर पाकिस्तानी आतंकवादियों को धूल चटाने वाले सेना की गौरव गाथा की बरसी पर बगहा नगर परिषद के पठखौली- मलकौली स्थित सनफ्लावर चिल्ड्रेंस एकेडमी के प्रांगण में जांबाज सिपाहियों के माता पिता का सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। सम्मान समारोह की शुरुआत राष्ट्रगान से शुरू हुआ ।सभी ने भारत माता की जय ,वंदे मातरम का नारा लगाए। मंच अध्यक्ष अरुण कुमार सिंह ने इस सम्मान समारोह पर सेना के जवानों की भूरी भूरी प्रशंसा की वहीं हृदयानंद दूबे कहा की सेना का सम्मान समूचे देश का सम्मान है। आज नैतिक जागरण मंच देश सेवा कर रहे जवानों को सम्मानित कर ,पूरे भारत के रक्षक जांबाज सिपाहियों का सम्मान कर रहा है। मंच के सचिव निप्पू कुमार पाठक ने यह कहा कि भारत का इतिहास सदियों से गवाह है ।जब भी कोई भारत की सरजमी ,मान, प्रतिष्ठा के साथ खेलने का प्रयास किया है। तो भारत के सच्चे सिपाही उनके सर जमी पर जाकर उसका मुंह तोड़ जवाब दिये है।वही निप्पू कुमार पाठक ने कहा कि सबसे पहला सर्जिकल स्ट्राइक संकट मोचन हनुमान ने किया था। सीता मैया को चुरा कर ले जाने वाले रावण के अशोक वाटिका में सीता का पता लगाकर रावण की लंका को खाक बनाने वाला हनुमान जीने उस समय सर्जिकल स्ट्राइक ही की थी। पृथ्वीराज चौहान को उनके पीड़ा से मुक्ति दिलाने के लिए मोहम्मद गौरी ने गोरी को पृथ्वीराज चौहान के द्वारा मार गिराने वाले चंद्रवरदाई को भी नहीं भूलना चाहिए। इसके बाद 13 अप्रैल 1919 को भारतीय खून से होली खेलने वाले जनरल डायर को इंग्लैंड में जाकर मारने वाले उधम सिंह आधुनिक सर्जिकल स्ट्राइक को जन्म दिया। इसलिए पाकिस्तान को यह याद रखना चाहिए कि उसे भारत को पिता के समान आदर देना चाहिए वरना भारतीय सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम देना एक मामूली सी बात है ।सम्मान समारोह में उपस्थित बगहा के मलकौली पठखौली के जांबाज सपूतों के माता-पिता पिता को अंग वस्त्र ,झोला, फूल और सागौन के वृक्ष देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर पत्रकार विजय प्रकाश पाठक प्रभात से और सुशील कुमार मिश्रा आजतक को क्रमशः चंपा व 50 सागवान के वृक्ष भी दिए।
… सम्मानित होने वालों में सबसे पहले रवि पाठक की माताजी कल्याणी देवी को जो स्वर्गीय नरेश पाठक की धर्मपत्नी हैं को सम्मानित किया गया तदोपरांत भेवेश पाठक जी के पिता रमन पाठक को ,मुनेन्द्र पाठक के पिता होशिला पाठक को ,मोनू पाठक के पिता बैजनाथ पाठक को,मनीष कुमार गुप्ता के पिता प्रदीप गुप्ता को, शैलेश कुमार के पिता सीताराम साह को, राकेश तिवारी के बड़े भाई रजनीकांत तिवारी को सम्मानित किया गया ।किसी कारण से अनुपस्थित रहे। स्थानीय जांबाज सिपाहियों के माता पिता कि गौरव कथाओं को भी याद किया गया जिसमें मोनू शुक्ला के पिता जनार्दन शुक्ल ,अभिजीत कुमार शुक्ला के पिता सुरेश कुमार शुक्ल,अनिल कुमार गुप्ता के पिता रविशंकर गुप्ता सत्यनारायण यादव के पिता बदलू यादव की भूमिका को भी भरपूर सराहा गया । कार्यक्रम में राष्ट्रगान और देश भक्ति गीतों की की खूब धूम रही। सभी ने देश सेवा के लिए अपने हृदय के टुकड़ों को सीमा पर भेजने के लिए बार-बार अभिनंदन किया गया। इस अवसर पर प्रधानाध्यापक रघुवंश मणि पाठक मंच के मीडिया प्रभारी मिथिलेश कुमार पांडे,अजीत कुमार सिंह,हरीकिशुन, टुनटुन, बेचू पाठक आदि के अलावा और स्कूली बच्चे उपस्थित रह आइए सेना को सम्मान दें।जो कठिन परिस्थिति में भी देश की रक्षा करते हैं ।उनका सम्मान देश देश का सम्मान है। साथ ही यह याद रखें कि देश सशक्त होगा तो हम सशक्त होंगे। संदेश:- ₹1 हर महीने सेना के नाम पर सिंडीकेट बैंक में जरूर जमा करें।

About IBN NEWS

It's a online news channel.

Check Also

बिहार में अब थाने जाने की जरूरत नहीं, मोबाइल एप से दर्ज कराएं शिकायत; बेहद आसान है प्रक्रिया

  रिपोर्ट अमन सिंह  पटना पटना, राज्य ब्यूरो- Bihar Police News: थाने में जाकर शिकायत …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *