Breaking News

दलालो और कुत्तो की आरामगाह बना करोडो की लागत से बना अस्पताल

 

रिपोर्ट राकेश पाण्डेय IBN NEWS गाजीपुर

गाजीपुर:अपनी कारस्तानी को लेकर सालो से सुर्खियो मे रहने वाला करोडो की लागत से बने जिला अस्पताल आजकल बेखौफ दलालो और कुत्तो का ठिकाना बन गया है.

इसकी परवाह न तो विभागीय जिम्मेदारो को है न ही मुख्य चिकित्सा अधिकारी को मरीज कोबिड के बाद अस्पताल मे पांव पसार रहे इन दोनो संक्रमणों का शिकार हो रहा है.

तीन साल से जारी है निर्माण व सप्लाई लगातार बंट रही मलाई

शहर से 2 किमी दूर जिला अस्पताल का निर्माण कराकर नेताओं और सरकारी अफसरो ने बाहबाही लूटने के साथ ही पिछले दो सालों मे यहाँ होने वाली सप्लाई की मलाई का स्वाद भी लिया. करोडो रूपये के बेड, कुर्सिया, औजार, मशीने संसाधन सब कुछ खरीदा गया. लेकिन यहा 2 दर्जन चिकत्सको के सापेक्ष महज आधा दर्जन चिकत्सको के भरोसे सारी व्यवस्था चलाने का भगीरथ प्रयास मौजूदा सीएमओ जीसी मौर्य पिछले कई सालो से कर रहे है.

हर बार चिकित्सक की कमी का रोना रो कर सीएमओ ने हमदर्दी तो बटोरी ही अपने कार्यकाल मे 100 करोड के निर्माण व खरीद मे सीधे तौर पर शामिल रहे. हालात तो इतने खराब है कि इस नये नवेले अस्पताल से अब तक 70 पंखे गायब हो चुके है.कई एसी अपनी जगह से या लापता है.

वार्डो मे चिकित्सक व दलालो का खुला गठजोड़

जिला अस्पताल मे मरीजों की रूटीन चेकअप के दौरान तीमारदारों से अधिक पैथोलॉजी संचालको के गुर्गो की हो जा रही है. जब मीडिया की टीम पहुची तो वार्ड के काउंटर पर चार दलाल बेखौफ खडे थे डा स्वतंत्र व तनवीर भी उसी वार्ड मे मरीज देख रहे थे. हालांकि कैमरा देख सरकने लगे.

चिकित्सक है दलालो की मौजूदगी के मूल आधार

नाम न छापने की शर्त पर एक दलाल ने बताया कि वह तथा अन्य दो दर्जन लडके यहा मौजूद रहते है. और यहा तैनात डा स्वतंत्र सिंह के कहने पर मौजूद रहते है. दूसरी तरफ ओबैसी बंधु के नाम से विख्यात डा नेसार अहमद बुजुर्ग होने का हवाला देकर सरकार व अफसरों के साथ पत्रकारों से भी कार्य मुक्ति की गुहार लगा रहे है.
जबकि इनके सहयोग डा तनवीर सैकडो मरीजो और समस्या से जूझने मे ही परेशान हाल है.

एम्बुलेंस चालको से भी गाली गलौज कर चुके है सीएमओ

कुछ दिन पूर्व पुलिस कप्तान के लिए एसी एम्बुलेंस आने मे देरी के चलते चालको से गाली गलौज पर उतर चुके बुजुर्ग सीएमओ जीसी मौर्य कोबिड का शिकार भी हो गये थे अब टीकाकरण के लिए इतना तत्पर है कि उन्हें कुछ सूझ ही नही रहा.

जिले भर मे खुल गये सैकड़ों अपंजीकृत अस्पताल

जिले की सभी ब्लॉक व तहसील मुख्यालयो पर खुल चुके सैकडो बिना पंजीकृत अस्पताल और जांच केन्द्र लोगो को खुलेआम लूटने मे लगे है. हालत यह है कि जिले मे पंजीकृत अस्पताल 135 से अधिक नही है लेकिन चल 1000 से अधिक रहे है.

कोरोना के बाद से ही तमाशबीन है प्रगति मौर्य

अस्पताल के पंजीकृत होने और कराने का दारोमदार डा प्रदीप मौर्य का है लेकिन कुछ कारवाई के बाद वह भी कोरोना के बाद निष्क्रिय हो गये और इसका लाभ चिकित्सा माफिया बखूबी उठा रहे है.

About IBN NEWS

It's a online news web channel running as IBN24X7NEWS.

Check Also

मॉडल गाँव बनाएंगे – घर-घर खुशहाली लाएंगे

  ब्यूरो  रिपोर्ट ओमप्रकाश श्रीवास्तव IBN NEWS चंदौली चंदौली : गाँव में बदलाव की बयार …

515 स्वास्थ्य कर्मी लोगों को लगा कोविड-19 टीका ,715 बुजुर्गों व गंभीर रोगियों को भी लगा टीका

  ब्यूरो  रिपोर्ट ओमप्रकाश श्रीवास्तव IBN NEWS चंदौली चंदौली : जनपद में कोविड-19 टीकाकरण के …

चंदौली : नाजायज सम्बन्ध की आशंका में पति ने की थी पत्नी श्वेता विश्वकर्मा की गला दबाकर हत्या, आरोपित पति गिरफ्तार…

  ब्यूरो  रिपोर्ट ओमप्रकाश श्रीवास्तव IBN NEWS चंदौली खबर जनपद चंदौली के चकिया थाना क्षेत्र …

चंदौली : एसपी द्वारा ली गई परेड की सलामी, किया गया निरीक्षण एवं पुलिस लाइन में कराया गया बलवा ड्रिल रिहर्सल

  ब्यूरो  रिपोर्ट ओमप्रकाश श्रीवास्तव IBN NEWS चंदौली खबर जनपद चंदौली से है जहां एसपी …

IAS अनीता यादव पहुँची अयोध्या संभाला कार्यभार, DM से मिली

  ब्यूरो रिपोर्ट सत्यम सिंह IBN NEWS अयोध्या IAS अनीता यादव अयोध्या पहुँच कर अपना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page