Breaking News

उत्तर प्रदेश में 23 नवंबर से खुलेंगे सभी विश्वविद्यालय

उत्तर प्रदेश में 23 नवंबर से विश्वविद्यालय खोले जाएंगे. इस संबंध में अपर मुख्य सचिव ने प्रदेश के सभी जिलों के जिलाधिकारियों, उच्च शिक्षा निदेशक, प्रयागराज, सभी राज्य और निजी विश्वविद्यालयों के कुलसचिव को पत्र लिखकर आदेश जारी कर दिए हैं.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में करीब 8 महीनों से बंद विश्वविद्यालय और कॉलेजों को 23 नवंबर से फिर से राज्य सरकार के अनुमति से  खोला जाएगा. राज्य सरकार ने मंगलवार को विश्वविद्यालय और कॉलेज खोले जाने को लेकर दिशानिर्देश भी अधिसूचित कर दिए.

जारी किए गए आदेश में कहा गया है कि कक्षाओं में अधिकतम 50 प्रतिशत विद्यार्थी ही उपस्थित रहेंगे.

कॉलेज स्टॉफ को कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने का आदेश दिया गया है. निर्देश में छात्रों से अपील करते हुए कहा है कि सभी छात्रों को फेस कवर/मास्क पहनना चाहिए और सभी निवारक उपाय करना चाहिए. इस संबंध में अपर मुख्य सचिव ने प्रदेश के सभी जिलों के जिलाधिकारियों, उच्च शिक्षा निदेशक, प्रयागराज, सभी राज्य और निजी विश्वविद्यालयों के कुलसचिव को पत्र लिखकर आदेश जारी कर दिए हैं.

 

कैंपस में छात्रों की भीड़ न लगे

गौरतलब है कि, कोरोना वायरस महामारी के चलते मार्च माह से राज्य में विश्वविद्यालय और कॉलेज बंद हैं. उच्च शिक्षा विभाग की अपर मुख्य सचिव मोनिका गर्ग ने सभी जिला मजिस्ट्रेट और विश्वविद्यालयों के रजिस्ट्रार को भेजे अपने आदेश में कहा है कि कक्षाएं चरणबद्ध तरीके से फिर से शुरू की जाएं. कक्षाएं इस तरह से लगें कि कैंपस में छात्रों की भीड़ न इकट्ठी हो.

इन बातों का रखना होगा ध्यान 
– मोबाइल में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना होगा.
– छात्रों को शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ्य रहना चाहिए.
– छात्रों को ऐसी गतिविधियां विकसित करनी चाहिए जो प्रतिरक्षा बढ़ाने में उपयोगी हों. इनमें व्यायाम, योग, ताजे फल खाना, स्वस्थ्य भोजन और समय से सोना शामिल है.
– छात्रों को कोविड- 19 महामारी के मद्देनजर स्वास्थ्य एवं सुरक्षा उपायों के संबंध में विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए.

 

यूपी सरकार ने किया सराहनीय काम
गौरतलब है कि, उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए जो इंतजाम किए अब वैश्विक स्तर पर उसे सराहना मिल रही है. डब्ल्यूएचओ ने कोरोना के कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार की तारीफ की है. साथ ही दूसरे राज्यों को भी उसी तरीके से कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग की सलाह भी दी है. प्रदेश में अब तक एक करोड़ 70 लाख से ज्यादा कोविड-19 के टेस्ट हो चुके हैं और यहां जो पॉजिटिविटी रेट है वो तकरीबन 1.4 फीसदी के आसपास ही बना हुआ है. वहीं, हाई रिस्क ग्रुप के लोगों के कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग पर सरकार का विशेष जोर है. जबकि, एक पेशेंट से जुड़े तकरीबन 15 से 25 लोगों की कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग की जा रही है.

 

जनवरी में उपलब्ध हो सकती है कोरोना वैक्सीन
बता दें कि, हाल ही में प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने कहा था कि कोरोना से निपटने के लिए सरकार ने जिस तरीके से टीमें गठित कीं और कोरोना कमांड सेंटर बनाए ये उसके बहतर नतीजे मिले हैं. सिंह ने ये भी कहा था कि मार्च से पहले जनवरी में भी कोरोना की वैक्सीन उपलब्ध हो सकती है इसलिए सरकार का सारा फोकस अब कोल्ड चेन डिवेलप करने और लोगों को वैक्सीन देने के लिए मेडिकल स्टाफ को ट्रेंड करने पर है.

About IBN NEWS

It's a online news web channel running as IBN24X7NEWS.

Check Also

यूपी में शादी समारोह के लिए पुलिस की अनुमति लेने की जरूरत नहीं

यूपी में शादी समारोह के लिए पुलिस की अनुमति लेने की जरूरत नहीं बैंड और …

भरथीपुर कोटे की दुकान हूई सस्पेंड अनियमितता की हूई थी शिकायत दर्ज होगी प्राथमिकी

बलिया उपजिलाधाकारी रसड़ा मोतीलाल यादव के निर्देश पर अनियमितता की शिकायत पर पूर्ति निरीक्षक रसड़ा …

भाकपा माले के प्रखंड सचिव मनोज कुमार पांडे के नेतृत्व में देशव्यापी धरना प्रदर्शन का आयोजन किया गया

  व्यूरो रिपोर्ट टेकनारायण कुमार यादव IBN NEWS जमुई अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के …

पटरंगा पुलिस अवैध शराब के साथ तीन को किया गिरफ्तार

  संवाददाता मुदस्सिर हुसैन IBN NEWS मवई अयोध्या 26/11/2020 मवई अयोध्या – पटरंगा थाना क्षेत्र …

अनियंत्रित कार विधुत पोल से टकराई तीन घायल

  संवाददाता मुदस्सिर हुसैन IBN NEWS मवई अयोध्या 27/11/2020 मवई अयोध्या – रुदौली कोतवाली क्षेत्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *