परदेशीपुरा क्षेत्र का शातिर बदमाश आशीष पाल, राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत निरूद्ध

बदमाश के विरुद्ध कुल दो दर्जन अपराध विभिन्न धाराओं के तहत हैं पंजीबद्ध

इंदौर-दिनांक 03 सितम्बर 2020- पुलिस महानिरीक्षक इंदौर ज़ोन इंदौर एवं पुलिस उप महानिरीक्षक (शहर) इंदौर द्वारा शहर में अपराध एवं अपराधियों पर नियत्रंण हेतु निर्देश दिये गये है कि, क्षेत्र में सक्रिय गुण्डे बदमाशों पर सतत निगाह रखी जावे एवं जो अपराधिक गतिविधियों में सक्रिय है उनके विरूध्द कडी कार्यवाही की जावें।

इसी तारतम्य में पुलिस अधीक्षक पूर्व श्री विजय खत्री एवं अति.पुलिस अधीक्षक पूर्व जोन – 03 श्री शशिकांत कनकने के मार्गदर्शन व नगर पुलिस अधीक्षक परदेशीपुरा श्री निहित उपाध्याय के नेतृत्व में कार्यवाही करते हुए, थाना प्रभारी थाना परदेशीपुरा अशोक पाटीदार व उनकी टीम द्वारा क्षेत्र के कुख्यात बदमाश आशिष पिता दिलीप पाल उम्र 30 साल नि. 113/2 फिरोजगांधी नगर इन्दौर थाना परदेशीपुरा को राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया गया है।

आरोपी आशीष पिता दिलीप पाल उम्र 30 साल नि. 113/2 फिरोजगांधी नगर इन्दौर थाना परदेशीपुरा का शातिर व कुख्यात बदमाश होकर, थाना परदेशीपुरा क्षेत्र में लगातार अपराधिक गतिविधियों को अंजाम दे रहा था। आरोपी के विरूद्ध हत्या का प्रयास करना, लूट, साथियो के साथ मिलकर घर में घुसकर चाकूबाजी, मारपीट,सामान तोड़कर नुकसान करना, धौस दपट गालिया देने जान से मारने की धमकी देने, तथा क्षेत्र मे दहशत फैलाना, अवैध वसूली करना, अवैध नशा बेचना, अवैध हथियार रखना आदि जैसे कुल 24 अपराधिक प्रकरण पंजीबद्ध होकर न्यायालय में विचाराधीन है । पुलिस द्वारा इसके विरूद्ध लगातार प्रतिबंधात्मक कार्यवाही भी की गई है तथा फिर भी इसकी अपराधिक गतिविधियों में कोई सुधार नहीं आने से आरोपी के विरूद्ध रा.सु.अ. की कार्यवाही हेतु प्रकरण तैयार कर जिला दण्डाधिकारी इन्दौर को भेजा गया था । जिस पर जिला दण्डाधिकारी इन्दौर द्वारा उक्त गुण्डा बदमाश को राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत निरूद्ध करते हुए केन्द्रीय जेल इंदौर में परिरूद्ध रखने का आदेश दिया गया , जिसके परिपालन में बदमाश को गिरफ्तार कर केंद्रीय जेल इंदौर में निरुद्ध कराया गया ।

उक्त शातिर बदमाश को पकड़ने में वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी परदेशीपुरा श्री अशोक पाटीदार व उनकी टीम उनि. आर.एल. मिश्रा ,उनि. अमित कटियार ,आर.3997 गिर्राज नरवरिया, आर.1099 पंकज मिश्रा की सराहनीय भूमिका रही ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

WhatsApp For any query click here