चंदौली : बीएड प्रवेश परीक्षा में 24 सौ परीक्षार्थी लेंगे भाग, सुचितापूर्ण व नकलविहीन परीक्षा कराने को प्रशासन मुस्तैद….

 

ब्यूरो रिपोर्ट ओ पी श्रीवास्तव IBN NEWS चंदौली

आगामी 09 अगस्त 2020 दिन रविवार को आयोजित होने वाले उत्तर प्रदेश संयुक्त प्रवेश परीक्षा बी0एड0 2020 को शान्तिपूर्ण निष्पक्ष, नकलविहीन एवं सफलतापूर्ण सम्पन्न कराने हेतु जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में शुक्रवार को बैठक सम्पन्न हुयी। जिलाधिकारी ने बताया कि परीक्षा दो पालियों में होगी। जिसमें प्रथम पाली पूर्वान्ह 09 बजे से 12 बजे तक एवं द्वितीय पाली अपरान्ह 02 बजे से 05 तक परीक्षा सम्पन्न होगी। जनपद में कुल 24 सौ परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मलित होगें। परीक्षार्थियों के लिए कुल 06 परीक्षा केन्द्र बनाये गये है। परीक्षा केन्द्रों पर पर्यवेक्षण हेतु एक वरिष्ठ मजिस्ट्रेट की भी तैनाती की गयी है। संयुक्त प्रवेश परीक्षा बी0एड0-2020 के सुचारू संचालन के लिए प्रत्येक दो परीक्षा केन्द्रो हेतु एक केन्द्र प्रतिनिधि नियुक्त किये गये है इसके अलावा दो उड़ाका दल बनाये गये है।

जिलाधिकारी ने बताया कि नोबेल कोरोना वायरस से बचाव के लिए सभी केन्द्रों को सैनिटाइज करा दिया गया है। साथ ही प्रवेश परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए अभ्यर्थी के पास प्रवेश-पत्र के साथ फेस मास्क, सेनेटाईजर, दस्ताने का होना आवश्यक है। गेट पर परीक्षार्थियों की थर्मल स्केनिंग की व्यवस्था भी अनिवार्य रूप से सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए। परीक्षा केन्द्रों से 200 मीटर की परिधि में किसी भी फोटोकापी की दुकान, साइबर कैफे तथा पीसीओ आदि को संबंधित दुकानें उपजिलाधिकारी तथा केन्द्राध्यक्ष की सहायता से परीक्षा के दौरान बन्द रखना सुनिश्चित किया जायेगा। जिलाधिकारी ने केन्द्र व्यस्थापकों को निदेर्शित करते हुये कहा कि अभ्यर्थी को किसी भी दशा में प्रवेश पत्र, उसकी एक फोटोयुक्त प्रति तथा वैद्य फोटो पहचान पत्र एवं कोविड 19 के सुरक्षात्मक संसाधनों के बिना प्रवेश परीक्षा में सम्मलित नही होने दिया जायेगा।

केन्द्र व्यवस्थापक एवं पर्यवेक्षक यह भी सुनिश्चित करेंगे कि दिनांक 09 अगस्त, 2020 को होने वाली परीक्षा के लिए सभी व्यवस्थायें, जिसमें सुरक्षा व्यवस्था एवं कोविड-19 के सुरक्षात्मक उपाय भी सम्मिलित करते हुये सभी तैयारियाॅ कर पूर्ण कर लेगें। परीक्षा कक्ष में शासन के गाइडलाइन के अनुसार सोशल डिस्टनसिंग को ध्यान में रखते हुए परीक्षार्थियों को बैठने की व्यवस्था पूर्ण कर लेगें। पर्यवेक्षक यह सुनिश्चित करेंगे के कोई भी असामाजिक/अवांछनीय या संदेहास्पद व्यक्ति परीक्षा केन्द्र के बाहर उपस्थित नही रहेंगे।

साथ ही यह सुनिश्चित करेंगे कि परीक्षा केन्द्र पर अनुमन्य अधिकारियों के अतिरिक्त अन्य किसी कर्मी के पास मोबाइल फोन , इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस न हो।केंद्र व्यवस्थापक सभी आवश्यक प्रबंध पूर्ण कर लें।प्रशासन सूचितापूर्ण व नकलविहीन परीक्षा कराने हेतु कटिबद्ध है। यदि किसी स्तर पर लापरवाही/ गड़बड़ी पाये जाने पर संबंधित की जिम्मेदारी सुनिश्चित की जाएगी।
बैठक के दौरान अपर जिलाधिकारी, वरिष्ठ कोषाधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला समाज कल्याण अधिकारी सहित केन्द्र व्यवस्थापक एवं संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp For any query click here