Breaking News

चंदौली : प्रतिरोधक क्षमता बढाने को खानपान व योगा पर दें ध्यान..

 

– कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच जागरूकता पर पूरा जोर..

– मास्क, सेनेटाइजर और दो गज की दूरी अब है और जरूरी..

रिपोर्ट : ओ पी श्रीवास्तव IBN NEWS 

कोविड-19 के दिन-प्रतिदिन बढ़ते मामलों के बीच समुदाय को इससे सुरक्षित रखने के लिए जन जागरूकता पर खास जोर दिया जा रहा है । स्वास्थ्य विभाग के साथ ही शिक्षा, पंचायती राज, बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग की फ़ौज भी लोगों को खुद सुरक्षित रहने के साथ ही परिवार को भी सुरक्षित रखने की तरकीब समझाने में जुटी है । किसी भी विभाग के लोग किसी भी अभियान के उद्देश्य से समुदाय के बीच पहुँच रहे हैं तो कोविड-19 से बचने के बारे में जरूरी एहतियात बरतने की बात बताना नहीं भूल रहे हैं ।​पोषण माह, कृमि मुक्ति अभियान (28 सितम्बर 2020 से सात अक्टूबर 2020) और अब संचारी रोग नियंत्रण माह के दौरान आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के साथ ही शिक्षक भी समुदाय के बीच पहुँच रहे हैं । यह लोग पंचायत प्रतिनिधियों के जरिये सम्बंधित अभियान के साथ ही कोविड-19 से बचाव के बारे में भी घर-घर लोगों को बता रहे हैं कि कोरोना से बचना है तो तीन मूल मन्त्र को गाँठ बाँध लें, पहला – जब भी घर से बाहर निकलें तो मुंह और नाक को मास्क से अच्छी तरह से ढककर रखें, दूसरा- किसी से भी मिलें या बैठक करें तो दो गज की दूरी बनाकर रखें और तीसरा- हाथों को स्वच्छ रखें यानि साबुन-पानी से अच्छी तरह बार-बार धुलते रहें या सेनेटाइजर से साफ़ करें । उनको हाथों को धुलने का सही तरीका (सुमन-के) भी बताया जा रहा है । यह बात भलीभांति समझाई जा रही है कि जब तक इसकी कोई दवाई या वैक्सीन नहीं आ जाती है, तब तक किसी तरह की ढिलाई न बरतने में ही सभी की भलाई है । ग्रामीण क्षेत्रों में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत संचालित महिलाओं के स्वयं सहायता समूह मास्क बनाकर लोगों को मुहैया करा रहे हैं और पहनते और उतारते समय बरती जाने वाली सावधानी जैसे हाथों को अच्छी तरह धुलकर ही मास्क की डोरी पकड़कर ही पहनें और डोरी पकड़कर ही उतारें और अच्छी तरह से धुलकर ही दोबारा इस्तेमाल करें । मास्क को कभी सामने से न छुएं ।
​ग्रामीण क्षेत्रों में आयोजित होने वाले ग्राम स्वास्थ्य, स्वच्छता एवं पोषण दिवस पर स्वास्थ्य जाँच व जरूरी सेवाएं मुहैया कराने के साथ ही कोरोना से बचाव के लिए गुनगुना पानी पीने, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने के लिए रसोई में मौजूद हल्दी, धनिया, जीरा, लहसुन, अदरक आदि के इस्तेमाल की सलाह दी जा रही है । खानपान पर भी जरूरी टिप्स दिए जा रहे हैं ताकि रोग प्रतिरोधक क्षमता बनी रहे और कोरोना के वार से शरीर सुरक्षित रहे क्योंकि जिनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है उनको ही सबसे पहले यह अपनी चपेट में लेता है । बच्चों, गर्भवती और बुजुर्गों को विशेष सावधानी बरतने की सलाह दी जा रही है क्योंकि उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है । लोगों को शारीरिक श्रम के साथ ही योग और व्यायाम को भी अपनाने की सलाह दी जा रही है क्योंकि इससे भी प्रतिरोधक क्षमता बढती है और शरीर स्वस्थ रहता है ।
​कोरोना की चपेट में आने वालों के संपर्क में आने वालों की पहचान (कान्टेक्ट ट्रेसिंग) और उनकी जांच पर भी जोर दिया जा रहा है ताकि संक्रमण की श्रृंखला को आसानी से तोडा जा सके । इस तरह से अब सभी की एकजुटता से कोविड-19 को परास्त करने की रणनीति चल रही है जो कि इस पर काबू पाने में अहम् कड़ी साबित होगी ।
धानापुर ब्लाक के आवाजापुर गाँव की आशा कार्यकर्ता संगीता सिंह कहती हैं कि मार्च से लेकर अभी तक जब भी जिस भी घर पहुँचती हैं तो लोगों को उनकी जरूरत की बात बताने के साथ ही कोरोना से बचने के लिए जरूरी एहतियात बरतने की बात अवश्य बताते हैं । इसका समुदाय में असर भी देखने को मिल रहा है, लोग मास्क, दो गज की दूरी और हाथों को साफ़ रखने को लेकर जागरूक हुए हैं और उसका पालन भी कर रहे हैं ।
​ विकास खण्ड सदर की ग्राम प्रधान संगीता पांडेय
का कहना है कि सुबह से शाम तक जितने भी ग्रामीणों से मुलाक़ात होती है उनको कोरोना से बचाव के बारे में जागरूक किया जाता है और बीच-बीच में छोटे-छोटे समूहों में भी लोगों को कोरोना से बचने के टिप्स दिए जाते हैं, इसके पालन से लोग खुद के साथ ही अपने परिवार को भी सुरक्षित बना रहे हैं ।
चकिया ब्लाक क्षेत्र की आंगनबाड़ी उर्मिला देवी का कहना है कि पुष्टाहार वितरण के साथ ही पोषण माह या अन्य गतिविधियों के दौरान कोविड-19 के प्रोटोकाल के पालन के बारे में ग्रामीणों को अच्छी तरह से बताया जाता है ताकि इसके संक्रमण से वह सुरक्षित रहें ।
​चकिया ब्लाक कम्युनिटी प्रक्रिया प्रबंधक (बीसीपीएम) बृजेश चौहान ने कहा कि पिछले कुछ महीनों से जो भी सामुदायिक गतिविधियाँ हो रहीं हैं उसमें उस अभियान से सम्बंधित जागरूकता के साथ ही कोविड-19 के बारे में भी लोगों को जागरूक किया जा रहा है । इस तरह “एक पंथ दो काज” की कहावत को फ्रंट लाइन वर्कर के जरिये पूरा किया जा रहा है ।

 

About IBN NEWS

It's a online news web channel running as IBN24X7NEWS.

Check Also

मां के आगे अंग्रेजी हुकूमत ने भी घुटने टेक दिये थे

  प्रणव तिवारी की विशेष रिपोर्ट IBN NEWS यूपी देवरिया-तकरीबन आधी दुनिया जिस ब्रिटीश हुकूमत …

देवरिया: मां के आगे अंग्रेजी हुकूमत ने भी घुटने टेक दिये थे…

(प्रणव तिवारी की विशेष रिपोर्ट) यूपी देवरिया-तकरीबन आधी दुनिया जिस ब्रिटीश हुकूमत के आगे नतमस्तक …

भारत पैट्रोलियम ज्योति फ्यूल सेंटर का हुआ भव्य उद्घाटन

जरवल रोड बहराइच: जरवल विकासखंड के ग्राम सभा अली नगर में भारत पैट्रोलियम ज्योति फ्लोर …

थाना पटरंगा में मिशन शक्ति के तहत नारी सम्मान गोष्ठी का हुआ आयोजन, 54 महिलाओं ने लिया हिस्सा

19/10/2020 संवाददाता – मुदस्सिर हुसैन आईबीएन न्यूज मवई अयोध्या – उत्तर प्रदेश सरकार के यशस्वी …

पट्टे की जमीन पर कब्जेदारी को लेकर दो पक्षों की महिलाओं में विवाद

19/10/2020 संवाददाता – मुदस्सिर हुसैन आईबीएन न्यूज मवई अयोध्या – मवई थाना क्षेत्र के ग्राम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp For any query click here