जलभराव को लेकर कांग्रेस नेता और स्कूली बच्चों ने बारिश के पानी में बैठ कर किया अनोखा प्रदर्शन,

फरीदाबाद: दो दिन से हो रही बारिश के चलते फरीदाबाद के पॉश एरिया कहे जाने वाले कई सेक्टरों में पानी निकासी न होने के कारण बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई। जलभराव के चलते जहां आम जन-जीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया। वहीं लोग अपने घरों में कैद होकर रह गए। शहर में जलभराव से हुए बद से बदत्तर हालत को देखकर कांग्रेसियों ने आज सेक्टर-9 मार्किट में बरसात के गंदे पानी में बैठकर सरकार के खिलाफ अनूठा प्रदर्शन करते हुए अपना रोष प्रकट किया। इस प्रदर्शन का नेतृत्व प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास चौधरी द्वारा किया गया प्रदर्शन में कांग्रेसियों के अलावा स्कूली बच्चों ने भी बढ़चढक़र भाग लिया। प्रदर्शन के दौरान सडक़ से गुजर रहे सेक्टरवासियों ने भी कांग्रेसियों के इस प्रदर्शन का समर्थन करते हुए उनकी जमकर सराहना की। प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी ने कहा कि भाजपा सरकार ने फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी का दर्जा को दिला दिया परंतु मात्र दो घण्टे की बारिश ने ही सरकार व प्रशासन के झूठे विकास के दावों की सच्चाई सामने ला दी |
कालोनियां, स्लम बस्तियां तो दूर शहर के वीआईपी सेक्टरों में भी थोड़ी सी बारिश के चलते इतना पानी भर गया कि लोगों को आपातकाल जैसी स्थिति का सामना करते हुए घरों कैद होना पड़ा। श्री चौधरी ने प्रदेश के उद्योगमंत्री व स्थानीय विधायक विपुल गोयल पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि चार साल पहले विधायक बनते ही मंत्री ने प्रेस कांफ्रेंस के माध्यम से कहा था कि अगर फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र में उनके कार्यकाल में कोई भी समस्या बाकि रह गई तो वह चुनाव नहीं लड़ेंगे और आज हालात जगजाहिर है, शहर की सडक़ें तो जर्जर पड़ी ही है, कूड़े के ढेर लगे हुए है और बरसात में गड्ढों के कारण लोग जख्मी हो रहे है वहीं उनकी वाहन भी क्षतिग्रस्त हो रहे है।उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष मंत्री जी ने दावा किया था कि करोड़ों रुपए खर्च करके पूरे क्षेत्र का डेनरेज सिस्टम दुरुस्त करवाया गया है वहीं सेक्टर-16 स्थित हीवो अपार्टमैंट के पास लाखों रुपए की लागत से जल निकासी से एक प्लांट शुरुकर लोगों से वायदा किया था कि आगामी बरसात में शहर की किसी सडक़ पर जलभराव नहीं होगा परंतु आज शहर की ऐसी कोई सडक़ ही नहीं बची, जिस पर पानी न भरा हो।
उन्होंने मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मांग करते हुए कहा कि ड्रेनेज सिस्टम को दुरुस्त करने के नाम पर करोड़ों खर्च किए जाने के बावजूद शहर में बाढ़ जैसे हालात कैसे बने है, इसकी जांच करवाई जाए कि वह पैसा ड्रेनेज सिस्टम में लगाया भी गया है या अधिकारियों व नेताओं की जेब में चला गया। इस मौके पर स्कूली बच्चों ने भी आज इस जलभराव के प्रति अपनी नाराजगी जताते हुए कहा कि स्कूलों के बाहर पानी भर जाने के चलते प्रबंधकों द्वारा उनकी छुट्टी कर दी गई, जिससे उनकी पढ़ाई बाधित हो रही है। श्री चौधरी ने सरकार व प्रशासन को चेताते हुए कहा कि अगर जल्द ही जलभराव से निपटने के लिए पुख्ता बंदोबस्त नहीं किए गए तो कांग्रेस कार्यकर्ता निगम मुख्यालय पर जोरदार विरोध प्रदर्शन करते हुए डेरेनजर सिस्टम के नाम पर हुए भ्रष्टाचार को उजागर करने का काम करेंगे। इस मौके पर अनुज शर्मा, विजय अरोड़ा, राजेश नागपाल, रंजीत रावल, महेश शर्मा, राजीव गुगलानी, कृष चौधरी, मम्मन सिंह, नीरज ठाकुर, मनीष मिगलानी, सोनू बडग़ुर्जर, सुखविंद्र सिंह, सुनील यादव, इंद्रीश खान सहित अनेकों लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp For any query click here