देवरिया: जिले में स्थापित हुआ कोविड़ 19 का एल 2, एल 3 अस्पताल

निर्धारित दर पर होगा इलाज

कृषि मंत्री ने फीता काटकर और दीप प्रज्ज्वलित कर किया शुभारम्भ

 

देवरिया(सू0वि0) 13 सितम्बर।* कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही की प्रेरणा, जिलाधिकारी अमित किशोर की पहल, वरिष्ठ नेत्र चिकित्सक डा0 के सिंह की संजीदगी मूर्त रूप ली और जनपद में अति आवश्यकता महसूस की जा रही कोविड-19 L 2 एवं L 3 हॉस्पिटल पूरी तैयारियों एवं साज सज्जाओ के साथ स्थापित हुई,जिसका शुभारंभ फीता काटने व दीप प्रज्वलन के साथ कृषि मंत्री श्री शाही ने किया।यह अस्पताल देवरिया नगर अवस्थित वेदांक मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल में स्थापित हुई है जो आस्था ग्रुप से संचालित होगा, इसमें कोविड विशेषज्ञों की टीम, पैरामेडिकल स्टाफ, नर्स आदि आवश्यक सुविधाओं के साथ कार्य करेंगे। यह अस्पताल शासन द्वारा निर्धारित दर पर मरीजो का इलाज करेगा।
कृषि मंत्री श्री शाही ने संबोधन में सबसे पहले डा के सिंह को धन्यवाद दिया।कहा कि पूर्व में इस अस्पताल को L 1 के रूप में स्थापित किए जाने का प्रस्ताव किया जा रहा था, परंतु अब इसे L 2 एवं L 3 कोविड-19 के रूप में संचालित किया जा रहा है। देवरिया भी अब उन जनपदों में शामिल हो गया जहां L 2 एवं L 3 स्तर का अस्पताल स्थापित है।उन्होंने कहा कि इस अस्पताल में गंभीर परिस्थितियों के मरीज का भी इलाज होगा। सभी सुविधाएं उपलब्ध होगी। अब इसके स्थापित होने से मरीजों की जान बचेगी तथा गोरखपुर व अन्य जगहों इलाज कराने के लिए भागदौड़ नहीं करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि कोविड-19 हेतु गठित टीम 11 की बैठक नियमित रूप से हो। क्या-क्या हो सकता है, उसकी समीक्षा करें।उन्होंने कहा कि जब तक दवा नहीं आया है तब तक सावधानी बरतनी होगी। उन्होंने डा राजीव रंजन को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि किसी भी स्तर पर असावधानी/ लापरवाही नहीं होनी चाहिए।उन्होंने इस अस्पताल में सी सी टी वी कैमरा लगाए जाने को कहा जिससे कि मरीजों के परिजनों को इलाज एवं वास्तविक स्थिति की जानकारी उन्हें प्राप्त हो सके।साथ ही उन्होंने शासन द्वारा निर्धारित दर पर ही इलाज के लिए एवं दर व पैकेट चार्ट को प्रदर्शित किए जाने को कहा।उन्होंने पूरी टीम को इस अस्पताल के सफलता की शुभकामनाएं देते हुए मरीजों के बेहतर इलाज किए जाने की अपेक्षा की।
जिलाधिकारी श्री किशोर ने कहा कि कृषि मंत्री जी की प्रेरणा डा के सिंह की सहृदयता से यह अस्पताल कोविड-19 के L 2 एवं L 3 अस्पताल के रुप में जनपद में स्थापित हुई है जहां शासन द्वारा निर्धारित दर पर मरीजों का इलाज होगा।इसमें सभी फैसिलिटी आवश्यकता अनुरूप उपलब्ध होंगे।उन्होंने कहा कि किसी तरह की समस्या आए तो उसे जिला प्रशासन को अवगत कराएं उसका समाधान किया जाएगा।उन्होंने बायो मेडिकल वेस्ट को प्राथमिकता के साथ प्रबंधन किए जाने का निर्देश दिया।
इस अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ अजय शुक्ला ने कहा कि जिलाधिकारी द्वारा बराबर पहल की जा रही थी कि आई एम ए के सहयोग से जिस तरह से गोरखपुर में कोविड अस्पताल संचालित है उसी तरह से जनपद देवरिया में कोविड-19 अस्पताल संचालित हो जहां सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध हो और गंभीर से गंभीर परिस्थितियों/बीमारियों का इलाज स्थानीय स्तर पर हो जिससे उनकी जान बच सके। जिलाधिकारी के इस पहल से देवरिया में भी इस अस्पताल को विकसित किया गया जहां लगभग 80 मरीजों का इलाज L 2 एवं L 3 स्तर का हो सकेगा। इसके लिए पर्याप्त स्टाफ एवं वेंटिलेटर, ऑक्सी सपोर्ट, दवाई आदि का व्यवस्था सुनिश्चित कराई गई है। मरीजों का इलाज शासन द्वारा निर्धारित दर पर होगी।उन्होंने लोगों में जागरूकता लाए जाने पर बल दिया कहा कि जैसे ही लक्षण दिखे तुरंत जांच कराएं।उन्होंने जिलाधिकारी से एंटीजन किट उपलब्ध कराए जाने को कहा जिससे कि यहां जांच की सुविधाएं भी सुनिश्चित हो और पॉजिटिव स्थिति में उनका इलाज हो एवं नेगेटिव आने पर उन बीमारियों के इलाज के लिए एडवाइज किया जा सके।
मुख्य चिकित्साधिकारी डा आलोक पांडेय ने बेहतर से बेहतर इलाज किए जाने एवं इस अस्पताल की सफलता की कामना किए। वरिष्ठ चिकित्सक डा के सिंह ने मा0 मंत्री जी, जिलाधिकारी एवं सभी के प्रति कृतज्ञता जाहिर की। अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा डी वी शाही ने इस अस्पताल को संचालित किए जाने के लिये स्वास्थ विभाग सहित सभी जुड़े लोगों, आई एम ए आदि के प्रति आभार जताया।
भाजपा जिलाध्यक्ष डा अंतर्यामी सिंह ने भी इस अस्पताल के संचालकों को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि अब जनपद देवरिया में भी कोविड़ 19 के गंभीर मरीजों का इलाज हो सकेगा और उसकी जान बच सकेगी।
इस अवसर पर मा0 मंत्री जी,जिलाधिकारी एवं उपस्थित विशिष्ट जनों को स्मृति चिन्ह व बुके प्रदान कर उनका स्वागत डा के सिंह, डाअजय शुक्ला,अनंत वर्मा आदि के द्वारा किया गया।
इस अवसर पर एसीएमओ डॉ सुरेंद्र सिंह, आई एम ए के अध्यक्ष डा रणधीर सिंह, स्वास्थ्य विभाग आस्था/वेदांक हॉस्पिटल के चिकित्सागण व जुड़े कर्मी आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

WhatsApp For any query click here