भूमि अधिग्रहण के विरोध में भारतीय किसान यूनियन के नेतृत्व में किसानों ने सौपा ज्ञापन।

 

रिपोर्ट – महेन्द्र सिंह सोलंकी झाँसी

झाँसी। भारतीय किसान यूनियन (भानु) के तत्वावधान में जिले के ग्राम सिमरधा में प्रस्तावित हवाई अड्डा निर्माण के नाम पर कृषि योग्य उपजाऊ भूमि के अधिग्रहण के विरोध में प्रेम नारायण द्विवेदी मण्डल अध्यक्ष के नेतृत्व में प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन अपर आयुक्त, झाँसी मण्डल झाँसी को सौंपा। जिसमें कहा गया कि विगत वर्षों में जिले की विभिन्न परियोजनाओं जैसे पहूज बांध,नेशनल हाई वे, रेल्वे लाइन, बिजलीघर, कृषि अनुसंधान केंद्र आदि के नाम पर ग्राम सिमरधा के किसानों की करीब 1100 एकड़ कृषि योग्य उपजाऊ भूमि अधिग्रहीत की जा चुकी है,

जिसके कारण लगभग 40-50% किसान भूमिहीन हो चुका है, अधिग्रहण के नाम पर जो मुआवजा मिला वह सब अन्य कार्यों में व्यय हो गया किन्तु कृषि योग्य भूमि नहीं मिल सकी, जिससे किसान भूमिहीन हो गए,अब पुनः शेष बची भूमि पर हवाई अड्डा निर्माण हेतु सर्वे कर प्रस्ताव शासन को भेजा गया है, जिससे ग्राम सिमरधा का सम्पूर्ण किसान भूमिहीन हो जायेगा। ऐसी स्थिति में अब ग्राम सिमरधा का कोई भी किसान किसी भी स्थिति में अपनी भूमि देने को तैयार नहीं है। इसके लिए जो भी कुर्बानी देनी पड़ेगी,देंगे। किन्तु जीते जी भूमि नहीं देंगे। इस सम्बन्ध में जिला प्रशासन के माध्यम से कई बार ज्ञापन दिए जा चुके हैं, किन्तु किसी भी स्तर से किसानों को कोई आश्वासन नहीं मिला है। किसानों ने कहा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार का नारा है कि सबका साथ, सबका विकास तो क्या केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा यही विकास किया जा रहा है कि पूरे ग्राम को भूमिहीन करने पर आमादा है,इसलिये अब किसी भी कीमत पर हम सब किसान अपनी भूमि नहीं देंगे। हमें हवाई अड्डे के निर्माण से कोई आपत्ति नहीं है।

ग्राम सिमरधा के अतिरिक्त और कहीं भी निर्माण कराया जा सकता है। किन्तु अब सिमरधा में किसी भी प्रकार की भूमि का अधिग्रहण स्वीकार नहीं है। मण्डल अध्यक्ष प्रेम नारायण द्विवेदी ने कहा कि इसी महीने में पितृ पक्ष की समाप्ति के पश्चात हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष ठा0 भानु प्रताप सिंह बुंदेलखंड के सातों जनपदों में रोड शो और नुक्कड़ सभाएं करेंगे , जिसमे उनकी एक नुक्कड़ सभा ग्राम सिमरधा में भी होगी और इस प्रकरण को लेकर जिलाधिकारी व मंडलायुक्त से वार्ता भी की जायेगी। फिर भी यदि कोई संतोषजनक हल नहीं निकला तो यह लड़ाई राष्ट्रीय स्तर पर ले जाकर माह अक्टूबर में राम लीला मैदान दिल्ली में प्रस्तावित विशाल राष्ट्रीय किसान महापंचायत में उठाएंगे। इस मौके पर देवेन्द्र सिंह चौहान जिलाध्यक्ष, राजकुमार यादव जिला संगठन मंत्री,अनिल कुमार यादव तहसील अध्यक्ष, अभय प्रताप सिंह युवा जिला संगठन मंत्री,बृजेन्द्र यादव,घनाराम, नरेन्द्र यादव, राम सहारे यादव, रोहित यादव, राजेन्द्र यादव,अर्जुन यादव, चंदन राजपूत ,महेन्द्रयादव ,पवन कुशवाहा, बबलू राजपूत, मुरारी कुशवाहा,राम सेवक पाल, राम बिहारी यादव, सोनू यादव,राम खिलावन, रामेन्द्र अहिरवार, दिनेश प्रताप आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp For any query click here