Breaking News
Home / छत्तीसगढ़ / गरियाबंद / गरियाबंद देवभोग:-धान खरीदी के संबंध में फैलाई जा रही अफवाहों को दूर करने आज मुख्य सचिव आर पी मंडल झाखरपारा धान खरीदी केंद्र पहुंचे

गरियाबंद देवभोग:-धान खरीदी के संबंध में फैलाई जा रही अफवाहों को दूर करने आज मुख्य सचिव आर पी मंडल झाखरपारा धान खरीदी केंद्र पहुंचे

 

गरियाबंद

देवभोग:-

स्लाग:- धान खरीदी के संबंध में फैलाई जा रही अफवाहों को दूर करने आज मुख्य सचिव आर पी मंडल झाखरपारा धान खरीदी केंद्र पहुंचे।

एंकर:- मुख्यमंत्री श्री बघेल के निर्देश पर धान खरीदी की व्यवस्था को चाक-चौबंद करने राज्य के मुख्य सचिव आर.पी. मण्डल अधिकारियों के साथ आज सुबह पड़ोसी राज्यों की सीमा से लगे ईलाकों के साथ ही गरियाबंद जिले के झाँखरपारा धान खरीदी केंद्र पहुंचे।

विवो:- आर पी मण्डल ने प्रबंधन समिति एवं ब्लॉक के अधिकारीयों व जिले अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।ताकि आने वाले समय मे किसानों को किसी भी प्रकार की धान बिक्री सम्बंधी असुविधाए ना हो।प्रदेश के मुख्यमंत्री ने सभी जिला कलेक्टरों को यह ताकीद दी है कि किसानों को धान बेचने में कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए। धान खरीदी केन्द्रों में सभी आवश्यक व्यवस्था दुरूस्त रखी जाए और किसानों को भुगतान समय पर होना चाहिए।
गौरतलब है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर मुख्य सचिव आज हेलीकाप्टर से अधिकारियों के साथ सुबह 10 बजे से निरीक्षण प्रारंभ करते हुए गरियाबंद जिले के झाँखरपारा के धान खरीदी केन्द्रों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने सीधे किसानों से संवाद कर धान खरीदी व्यवस्था के बारे में जानकारी ली।

किसानों ने बताया कि धान खरीदी केन्द्रों में किसानों को पूरा सहयोग दिया जा रहा है।
श्री मंडल ने धान खरीदी केन्द्रों में किसानों के पंजीयन तथा भुगतान के संबंध में दर्ज की जा रही ऑनलाईन जानकारी भी देखी। झाँखरपारा में वयोवृद्ध किसान भी वहां पर टोकन पर धान बेचते मिले।

मुख्य सचिव श्री मंडल ने राज्य के किसानों से कहा कि धान खरीदी अभियान के तहत किसानों से केन्द्र द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी की जा रही है। केन्द्र शासन द्वारा कॉमन धान के लिए 1815 और ग्रेड-ए धान के लिए 1835 रूपए का समर्थन मूल्य निर्धारित किया गया है। खरीदी की रकम किसानों के खाते में सीधे जमा की जा रही है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने प्रदेश के किसानों को आश्वस्त किया है कि राज्य सरकार द्वारा अपने घोषणा पत्र में किए गए वायदे के अनुरूप प्रति क्विंटल 2500 रूपए धान की कीमत देगी। समर्थन मूल्य में धान की खरीदी के बाद अंतर की राशि का भुगतान नई योजना बनाकर किसानों के खाते में किया जाएगा। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि राज्य सरकार प्रति एकड़ 15 क्विंटल के मान से धान खरीद रही है। इसमें किसी भी प्रकार की लिमिट नहीं लगाई गई है। किसान किसी भी प्रकार के अफवाह या भ्रामक बातों में ना आए और निश्चिन्त होकर धान खरीदी केन्द्रों में धान बेचने जाए। उन्होंने किसानों से आग्रह किया है कि धान खरीदी केन्द्रों में धान लाते वक्त यह देख ले कि धान में नमी का प्रतिशत निर्धारित सीमा से अधिक ना हो। धान बेचने से पहले खलिहानों में ठीक से सूखा लें।

मुख्य सचिव श्री मंडल ने धान खरीदी केन्द्रों में अपने सामने ही किसानों का धान तौल करवाकर जांच किया और धान की गुणवत्ता को भी परखा और माइश्चर मीटर से धान की नमी भी माप कर देखी। उन्होंने छोटे और मध्यम श्रेणी के किसानों का धान पहले खरीदने के निर्देश उपार्जन केन्द्र प्रभारियों को दिए। निरीक्षण के दौरान श्री मण्डल ने राजस्व विभाग के अनुविभागीय अधिकारियों, खाद्य अधिकारियों, तहसीलदारों और समिति प्रबंधकों को स्पष्ट रूप से कहा है कि समितियों में धान विक्रय के लिए आने वाले किसानों को किसी भी प्रकार की परेशानी नही होनी चाहिए। धान खरीदी केन्द्रों में अवैध रूप से धान विक्रय करने वाले कोचियों और बिचौलियों पर सतत् निगरानी रखी जाए। सीमावर्ती ईलाकों से धान का अवैध परिवहन करते पाए जाने पर इस कार्य में लिप्त सभी लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाए।

धान खरीदी केन्द्रों में आने वाले किसानों की सुविधा के लिए आवश्यक इंतजाम भी करने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान खाद्य विभाग के सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह,राज्य विपणन संघ के प्रबंध संचालक श्रीमती शम्मी आबिदी,जिला कलेक्टर श्याम धावड़े,एस.पी.एम.आर. अहिरे,देवभोग एस डी एम भूपेंद्र साहु,भी साथ थे।

About IBN NEWS

It's a online news web channel running as IBN24X7NEWS.

Check Also

रमजान मे ज्यादा ईबादत करे ताकि कोरोना को हरा सके: मोदी

  एक तरफ जहा कुछ लोगो के द्वारा नफरतो की सियासत किया जा रहा है, …

आज सुबह 11 बजे मन की बात में मोदीजी ने लॉक डाउन और हर भारतीय के संयम की सराहना की

    बहराइच :- मन की बात में माननीय प्रधानमंत्री जी ने कहा——— हमारे पूर्वजों …

20 अप्रैल से चिन्हित स्थानो में मिलेगी राहत

20 अपील से चिन्हित स्थानो में मिलेगी राहत जहा हॉटस्पॉट नहीं बने हैं वहा 20 …

3 मई तक बढाया गया लॉक डाउन

सरकार ने उनकी मदद करने का हर संभव प्रयास किया है नई गाइडलाइन बनाते समय …

पीएम की 7 वातें लॉक डाउन 2.0 के लिए , 3 मई तक बढाया गया लॉक डाउन

1- पीएम की 7 वातें लॉक डाउन 2.0 के लिए 1- अपने घर के बुजुर्गों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp For any query click here