Breaking News

चंबल नदी का सर्वाधिक जलस्तर इससे पूर्व वर्ष 1971 एवं 1996 का टूटा रिकॉर्ड बुधवार को चंबल नदी का बना नया रिकॉर्ड हुआ दर्ज

रिपोर्ट अंकुर त्रिपाठी  ibn24x7 news इटावा

इटावा:- उत्तर प्रदेश के इटावा में चम्बल नदी के बढ़े जलस्तर (बाढ़) ने बुधवार प्रातः 10 बजे 128.53 मीटर पर पहुँचने के साथ ही अब तक के सभी रिकार्ड ध्वस्त हो गए।चम्बल नदी में अधिकतम बाढ़ के लिए बुधवार का दिन अब दर्ज होगा।
ज्ञात हो कि चम्बल नदी का सर्वाधिक जलस्तर इससे पूर्व वर्ष 1971 एवं 1996 में पहुँचा था।इस वर्ष बुधवार को उक्त सभी रिकार्ड ध्वस्त हो गए।केंद्रीय जल आयोग केंद्र उदी (चम्बल नदी) से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार चम्बल नदी की बाढ़ के इतिहास में सर्वाधिक जलस्तर वर्ष 1971 में 128.06 मीटर दर्ज है जबकि उक्त रिकार्ड को तोड़कर 24 अगस्त 1996 को पहुंचा जलस्तर 128.35 मीटर दर्ज है जो कि अब तक का सर्वाधिक जलस्तर माना गया है।23 वर्ष बाद आज बुधवार को सभी उपरोक्त रिकार्ड को ध्वस्त करते हुए जलस्तर 128.53 मीटर दर्ज किया गया।जो कि अब तक के सर्वाधिक जलस्तर से 18 सेंटीमीटर ऊपर हो गया है।

चम्बल नदी में सर्वाधिक बाढ़ के इतिहास में अब दिन बुधवार, माह सितंबर, वर्ष 2019 दर्ज होने जा रहा है।अधिकतम जलस्तर 128.53 मीटर पहुँचने के बाद स्थिर हो गया तथा दोपहर एक बजे से दो सेंटीमीटर प्रतिघंटे जलस्तर गिरते हुए देर शाम 6 बजे 128.45मीटर हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

× For any query click here ( IBN )