Breaking News

इंदौर के इंजीनियर को केन्द्र सरकार में नौकरी के नाम पर 17 लाख ठगने वाले मुंबई के हाइटेक दंपत्ति सायबर सेल की गिरफ्त में

रिपोर्ट कंवलजीत सिंह सैनी ibn24x7news इंदौर

इंदौर-  इंदौर की सायबर सेल ने एक बड़ी सफलता हासिल की है जिसमें उसने ऐसे मुंबई के हाईटेक दंपत्ति को गिरफ्तार किया है जो केंद्र सरकार की नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी कर रहे थे। इंदौर के एक युवा इंजीनियर से भी इनके द्वारा नौकरी के नाम पर 17 लाख की ठगी की गई।

पकड़े गए आरोपी के नाम सोहेल अहमद पिता अफज़ल अहमद निवासी- लखनऊ हाल मुकाम- मुम्बई तथा जाहिरा रफीक पति सोहेल अहमद है।

सायबर एसपी इंदौर जितेंद्र सिंह ने बताया कि जनवरी में राष्ट्रीय दैनिक अंग्रेजी समाचार पत्र में विज्ञापन छपा था। उड़ीसा (भुवनेश्वर) की रक एडवरटाइजिंग एजेंसी के माध्यम से छपे इस विज्ञापन में मिनिस्ट्री ऑफ HRD के सेंटर फार डेवलपमेंट स्टडीज के असिस्टेंट प्रोजेक्ट मैनेजर के पद पर नियुक्ति के लिए आवेदन बुलवाए गए।

विज्ञापन मे जारीकर्ता की जगह तथाकथित आइएएस अधिकारी डॉ अवनिश कुमार का नाम व पदनाम डला था। आरोपियों नर ईमेल के माध्यम से असिस्टेंट प्रोजेक्ट मैनेजर के पद का अपाइंटमेंट लेटर भेजा जाता था और ठगाए गए लोगो को ज्वाइनिंग एवं प्रशिक्षण हेतु कलेक्टर कार्यालय इंदौर, वल्लभ भवन भोपाल, शास्त्री भवन दिल्ली, सचिवालय जयपुर, कलेक्टर कार्यालय चूरू, नागौर, सीकर, पी.एस. कार्यालय स्कील डेवलपमेंट तेलंगाना, एमएसएमई कार्यालय तेलंगाना, पी.एस. हायर एजुकेशन गोवाहाटी, एमएसएमई कार्यालय गोवाहाटी आदि स्थानों पर भेजा जाता रहा।

इनमे ठग सोहेल अहमद- एडीशनल डायरेक्टर रणविजय सिंह बनकर व उसकी पत्नि जाहिरा अहमद- प्रोग्राम डायरेक्टर कीर्ति तिवारी बनकर पीड़ितों से बात करती थी आरोपी सोहेल के स्वर्गीय पिता अफजल अहमद जेएनयू देहली में समाज शास्त्र के प्रोफेसर थे।
आरोपी ने सेंटर फार डेवलपमेंट स्टडीज मिनिस्ट्री ऑफ एचारडी के नाम से फर्जी वेबसाइट बना रखी थी ।

उसने गवर्नमेंट डोमेन(gov.in) का उपयोग कर फर्जी वेबसाइट website(www.cds-gov.in) बनाई। आरोपी इंदौर के बेलमोंट पार्क व ओशियन पार्क में 2 – 3 माह किराये से भी रहा है।

यह है मामला

इंदौर के युवा इंजीनियर हर्षित भारद्वाज पिता आनंद भारद्वाज निवासी 51, द्वारकापुरी फूटी कोठी इंदौर द्वारा इस मामले में शिकायत की गई थी। छानबीन के बाद उक्त दम्पत्ति को गोरेगांव मुंबई से पकड़ा गया। आरोपियों से अपराध मे प्रयुक्त दो लेपटाप, मोबाइल फोन व मोबाइल सिम, बैंक पासबुक तथा बैंक खाते सीज़ कराए गए हैं। अन्य पीड़ितों के बारे में पता लगाया जा रहा है।

उक्त एसआईटी में निरीक्षक अंबरीश मिश्रा व अभिषेक सोनेकर, उनि. आशुतोष मिठास, जितेन्द्र चौहान,अंबाराम बारूड़, विनय नरवरिया, स्वाति अहलावत तथा आर.आशिष शुक्ला, रमेश भिड़े, धर्मेन्द्र, रितिका द्विवेदी, की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

सायबर एडवाइजरी, इन बातों का रखें ध्यान

1. ऑनलाइन जॉब सर्च करते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि संबंधित वेबसाइट कही फर्जी तो नहीं ।
2. किसी भी सरकारी विभाग द्वारा सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर रूपयें नही लिए जाते।

3. सरकारी नौकरी हेतु संबंधित विभाग के शासकीय पोर्टल/ वेबसाइट अथवा समाचार पत्रों मे नौकरी हेतु विज्ञप्ति दी जाती है।

4. किसी भी शासकीय विभाग द्वारा शासकीय नौकरी हेतु लुभावने प्रलोभन नहीं दिए जाते है।

5. प्राइवेट एजेंसियों में ऑनलाइन नौकरी सर्च करते समय संबंधित एजेंसी की वेब साइट के पोर्टल से ही ऑफिशियली फोन नंबर/ मोबाइल नंबर लेकर बात करना चाहिए।

About IBN NEWS

It's a online news web channel running as IBN24X7NEWS.

Check Also

कोरोना से मानसिक रोगियों को सुरक्षित रखने का होगा प्रयास स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने जारी किये नए दिशा निर्देश

  रिपोर्ट : ओ पी श्रीवास्तव IBN NEWS  चंदौली: केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने …

कोतवाली रुदौली पुलिस ने अवैध शस्त्र व जिंदा कारतूस के साथ एक आरोपी किया गिरफ्तार

संवाददाता – मुदस्सिर हुसैन आईबीएन न्यूज मवई अयोध्या – रूदौली कोतवाली पुलिस ने एक आरोपी …

विश्व एड्स दिवस के अवसर पर कॉलेज के छात्रों द्वारा लोगों को किया गया जागरूक

  संवाददाता – मुदस्सिर हुसैन आईबीएन न्यूज मवई अयोध्या – विश्व एड्स दिवस के उपलक्ष्य …

चंदौली : बेकाबू कार ने सड़क पार कर रहे युवक को रौंदा, युवक की मौत…

कार पलटने से चालक जख्मी, मुआवजा की मांग कर रहे लोगों ने सड़क पर लगाया …

बिजुरी नगर पालिका में उपाध्यक्ष पद पर भाजपा फिर हुई काबिज

  अनूपपुर – भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष बृजेश गौतम के मार्गदर्शन में चुनाव …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *