Breaking News

करवा चौथ, जानें तिथि, शुभ मुहूर्त, व्रत विधि

 

IBN NEWS अयोध्या ब्यूरो चीफ सत्यम सिंह

इस साल करवा चौथ व्रत पर पूजन का शुभ मुहूर्त शाम 5:29 बजे से 6:48 बजे तक का रहेगा. इस दिन चंद्रोदय रात 8:16 बजे पर होगा. पांचांग के अनुसार, चतुर्थी तिथि का आरंभ 4 नवंबर को 03:24 पर होगा. चतुर्थी तिथि 5 नवंबर शाम 5:14 तक रहेगी.
4 नवंबर को करवा चौथ का त्योहार मनाया जाएगा. करवा चौथ हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को मनाया जाता है. इस दिन महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए पूरे दिन निर्जला व्रत रखती हैं और रात में चंद्रोदय के बाद पूजा कर अपना व्रत खोलती है. आइए जानते हैं इस बार करवा चौथ का चांद किस समय निकलेगा और क्या है पूजा करने का शुभ मुहूर्त.

करवा चौथ मुहूर्त

पूजा मुहूर्त- 17:33:28 से 18:39:14 तक
करवा चौथ चंद्रोदय समय 20:11:59 बजे
करवा चौथ पर राशि अनुसार पहनें साड़ी–
मेष-
मेष राशि वाली महिलाएं गुलाबी रंग की साड़ी पहनें एवं चंद्रमा के पूजन में गुलाब अवश्य चढ़ाएं
वृषभ-
वृषभ राशि वाली महिलाएं पीले रंग की साड़ी पहनें एवं चन्द्रमा के पूजन में पीला फूल चढ़ाएं।
मिथुन-
मिथुन राशि वाली महिलाएं हरे रंग की साड़ी पहनें एवं चंद्रमा के पूजन में आंकड़े के फूल चढ़ाएं।
कर्क-
कर्क राशि वाली महिलाएं लहरिया साड़ी पहनें जिसमे हेवी वर्क हो, चंद्रमा के पूजन में सफेद फूल चढ़ाएं।
सिंह-
सिंह राशि वाली महिलाएं लाल रंग की साड़ी पहनें एवं चंद्रमा के पूजन में लाल फूल चढ़ाएं।
कन्या-
कन्या राशि वाली महिलाएं हरी लाइन वाली साड़ी पहनें एवं पूजन में चावल अवश्य चढ़ाएं।
तुला-
तुला राशि वाली महिलाएं गुलाबी रंग की साड़ी (जिसमें सफेद धागे की कढ़ाई हो) पहनें एवं पूजन में सफेद गुलाब चढ़ाएं।
वृश्चिक-
वृश्चिक राशि वाली महिलाएं प्लेन साड़ी (जिसमें लाल फूल की बनावट हो) पहनें एवं पूजन में कुंकू का प्रयोग करें।
धनु-
धनु राशि वाली महिलाएं हल्की पीली साड़ी पहनें एवं पूजन में पीला व सफेद फूल चढ़ाएं।
मकर-
मकर राशि वाली महिलाएं कत्थई रंग की साड़ी पहनें एवं पूजन में आंकड़े एवं गेंदे के फूल चढ़ाएं।
कुंभ-
कुंभ राशि वाली महिलाएं मेहरून रंग की साड़ी पहनें एवं पूजन में लाल गुलाब व सफेद फूल चढ़ाएं।
मीन-
मीन राशि वाली महिलाएं नीले रंग की साड़ी पहनें एवं पूजन में दुर्वा चढ़ाएं।

इन नियमों का करें पालन–
करवा चौथ व्रत के दौरान अन्न जल ग्रहण नहीं किया जाता. सुहागिन द्वारा विवाहोपरान्त 12 या 16 वर्षों तक निरन्तर करवाचौथ व्रत करने का विशेष महत्व है. सुहागिन को श्रंगार का पूरा सामान पूजा के समय रखना चाहिये. एक मीठा करवा और एक मिट्टी का करवा होना चाहिये. मिट्टी के करवे से ही चंद्रमा को अर्घ्य दिया जाता है. चंद्र उदय होने के बाद जल अर्पित करें. छलनी से पति चांद के सामने पति का चेहरा देखके पति के हाथ से निवाला खाने के साथ व्रत पूर्ण किया जाता है. पति पत्नी को खुश करने के लिए उसकी इच्छा के अनुसार कोई प्रिय वस्तु भी उपहार में देता है. इसके बाद भगवान शिव, पार्वती और गणेश का स्मरण कर परिवार सहित भोजन ग्रहण किया जाता है.

About IBN NEWS

It's a online news web channel running as IBN24X7NEWS.

Check Also

स्टेशन के यार्ड मे गाडी से टकराकर युवक की मौत नही हो रही शिनाख्त

ब्यूरो रिपोर्ट राकेश पाण्डेय IBN NEWS ग़ाज़ीपुर गाजीपुर जिले के नन्दगंज स्टेशन पर गाडी की चपेट मे …

पुलिस अधीक्षक देवरिया द्वारा थाना मदनपुर में महिला हेल्प डेस्क का उद्घाटन किया गया

दिनांक 28.11.2020 जनपद देवरिया। पुलिस अधीक्षक देवरिया द्वारा थाना मदनपुर में महिला हेल्प डेस्क का …

देवरिया: अनियंत्रित ट्रक ने पुल की रेलिंग तोड़ा, चार पहिया वाहनों का आवागमन बंद

देवरिया जिले के लाहीलपार से पगरा बिहार मार्ग पर शुक्रवार की सुबह चीनी लदी 10 …

ट्रक का ब्रेक फेल होने से सलेमपुर ओवरब्रिज पर बाल-बाल बची दुल्हे की गाड़ी

ब्रेकिंग-ट्रक का ब्रेक फेल होने से सलेमपुर ओवरब्रिज पर बाल-बाल बची दुल्हे की गाड़ी।किसी के …

Exclusive धान के पुआल रखने लेकर हुए विवाद में युवक की गई जान

रिपोर्ट-सिद्धार्थ तिवारी IBN NEWS फ़िरोज़ाबाद गांव जायमई में धान के पुआल रखने को लेकर हुआ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *