Breaking News
Home / उत्तरप्रदेश / गोरखपुर विश्वविद्यालय की ओर से आयोजित शोध पात्रता परीक्षा (रेट 2020-21) परिणाम शुचितापूर्ण तरीके से संपन्न कराया गया।

गोरखपुर विश्वविद्यालय की ओर से आयोजित शोध पात्रता परीक्षा (रेट 2020-21) परिणाम शुचितापूर्ण तरीके से संपन्न कराया गया।

 

गोरखपुर। दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय की ओर से आयोजित शोध पात्रता परीक्षा (रेट 2020-21) का परिणाम घोषित किया जा चुका है । शोध पात्रता परीक्षा (रेट 2020-21) का आयोजन परीक्षा के उच्च स्तरीय मॉडल होम बेस्ड प्रोक्टर्ड सिस्टम का इस्तेमाल करते हुए शुचितापूर्ण तरीके से संपन्न कराया गया।शुचितापूर्ण तरीके से संपन्न कराया गया।सभी उत्तीर्ण अभ्यर्थियों का विश्वविद्यालय के पुराने वर्ष 2018 के अध्यादेश के अनुसार अनुमोदित सदस्यों द्वारा हाइब्रिड सिस्टम के अन्तर्गत वीडियो रिकॉर्डिंग के साथ साक्षात्कार लिया गया। कोविड कालखंड में एक अनूठी व आधुनिक पद्धति से रेट के सफल आयोजन पर अपने विचार रखते हुए कुलपति प्रो राजेश सिंह जी ने कहा है कि सभी विश्वविद्यालयों को अपने यहां रेट के आयोजन के लिए इस मॉडल को अपनाने पर ध्यान देना चाहिए। ये बेहद पारदर्शी व्यवस्था है। इससे जहां गुणवत्तापूर्ण शोध का मार्ग प्रशस्त होगा। वहीं शिक्षण की गुणवत्ता में भी सुधार होगा क्योंकि 2018 की यूजीसी की गाइडलाइंस के तहत शिक्षण के पीएचडी अनिवार्य होने जा रही है। कुलपति ने कहा कि शोधार्थियों के लिए तैयार प्री-पीएचडी कोर्स को देश के ख्यातिलब्ध विश्वविद्यालयों में शामिल जेएनयू, बीएचयू के तर्ज पर तैयार किया गया है जो अंतरराष्ट्रीय स्तर का है। इसका मकसद शोधार्थियों को वैश्विक स्तर के लिए तैयार करना है ताकि वो अपने मेधा की चमक पूरी दुनिया में बिखेर सकें। रेट परीक्षा के समन्वयक प्रो अजय सिंह ने कहा कि विश्वविद्यालय के 2018 के आर्डिनेंस के अनुसार साक्षात्कार में 15-20 सदस्यों की समिति का गठन किया गया जिससे पूरी प्रक्रिया में शुचिता और पारदर्शिता सुनिश्चित किया गया। उन्होंने कहा कि साक्षात्कार के लिए हर विभाग/ विषय के लिए समिति का गठन किया गया। जिसकी अध्यक्षता बाह्य विषय विशेषज्ञ ने की और इसमें संबंधित संकायाध्यक्ष, विभागाध्यक्ष और विभाग की शोध समिति के सभी सदस्य भी शामिल थे। इसमें ओबीसी, अनुसूचित जाति/ जनजाति के प्रतिनिधि को भी शामिल किया गया था। इंटरव्यू के बाद मिले अंको से आरक्षण के नियमानुसार परीक्षा परिणाम घोषित किये गए। ऑनलाइन लिखित परीक्षा के दौरान अभ्यर्थियों द्वारा सेकंड स्क्रीन, स्क्रीन शॉट, इनएक्टिव स्क्रीन व संदेहपूर्ण गतिविधि आदि की ऑनलाइन पर्यवेक्षकों द्वारा मॉनिटरिंग की जा रही थी जिसमें लिखित परीक्षा में कुल 40 फीसदी अभ्यर्थी सफल रहे। इन प्रक्रियाओ की पूरी रिकार्डिंग‌ विश्वविद्यालय प्रशासन के पास सुर‌क्षित है। कुछ विषयों के वीडियो वेबसाइट पर भी अपलोड किये जा रहें है । सफल अभ्यर्थियों के अंकवार विवरण एवं साक्षात्कार के वीडियो संबंधित विभागों को भेजे जा रहे हैं। जहाँ से अभ्यर्थी इसे प्राप्त कर सकते है । जो अभ्यर्थी अनुर्त्तीण हुए हैं वो भी विश्वविद्यालय द्वारा RTI के माध्यम से अपने प्राप्तांक (मार्क्स) की जानकारी ले सकते हैं।

About IBN NEWS

Check Also

गाजीपुर:दूसरी बार पार्टी से हटाये गये दागी नेता विनोद बागडी जिलाध्यक्ष पर भी कारवाई

  ब्यूरो रिपोर्ट राकेश पाण्डेय IBN NEWS गाजीपुर गाजीपुर:बहुजन समाज पार्टी के गाजीपुर नेतृत्व पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *