Breaking News

बगहा प,च,बिहार: बेदर्द मौसम जानलेवा गर्मी के चलते पशु पक्षियों एवं जीव जंतुओं के जीवन संकट पर विशेष- सुप्रभात-सम्पादकीय

रिपोर्ट विजय कुमार शर्मा ibn24x7news प,च,बिहार

कहते हैं कि मौसमों में गर्मी का मौसम बड़ा बेदर्द और जानलेवा होता है जिसमें पानी अमृत की तरह लोगों की जान बचाने वाला होता है। गर्मी के मौसम में पानी न मिलने पर न जाने कितने पशु पक्षियों की जान चली जाती है चाहे आदमी हो चाहे जीव जंतु या पशु-पक्षी हो। इतना ही नहीं जरा सी चूक होने पर पानी के अभाव में पानी की कमी से होने वाली तरह-तरह की बीमारियां फैल जाती है और लोगों को पानी की कमी को पूरा करने के लिए अस्पतालों में ग्लूकोस के रूप में पानी की पूर्ति करनी पड़ती है। शायद इसीलिए कहा भी गया है कबि ने अपने भाव मे कहा है कि

रहिमन पानी राखिए बिन पानी सब सून—-

गर्मी का एक ऐसा मौसम होता है जिस में चतुर्दिक पानी का अभाव ही नहीं बल्कि पानी का अकाल जगह जगह में पड़ जाता है और प्यास बुझाने के लिए लाले पड़ जाते हैं।गर्मी का मौसम आते ही कुएं तालाब यहाँ तक कि छोटी नदियां नाले झीलें सब सूख जाती हैं और हैंडपंपों नलकूपों में पानी आना कम या बंद हो जाता है और चारों तरफ पानी के लिए हाहाकार मच जाती है। एक समय वह भी था जबकि लोग राहगीरों के लिये जगह जगह प्यास बुझाने के लिए प्याऊ खोलकर लोगों की प्यास बुझाकर पुण्य कमाते थे।

इतना ही नहीं पहले तालाबों नदियों पोखरों झीलों में साल के बारहों महीने पानी उपलब्ध रहता था लेकिन आज स्थिति यह हो गई है कि गर्मी आते ही हर जगह पानी का अकाल पड़ जाता है और गर्मी से जनजीवन ही अस्त-व्यस्त नही हो हो जाता है बल्कि जान बचाने केलिए लाले पड़ जाते हैं। गर्मी के मौसम में सबसे ज्यादा दिक्कत पशु पक्षियों एवं जीव-जंतुओं पर बिसेष कर पड़ती है क्योंकि उनके सामने प्यास बुझाने का कोई दूसरा विकल्प नहीं होता है।

यही कारण है कि हमारे यहां लोग गर्मियों में जंगली जानवरों एवं पशु पक्षियों की जान बचाने के लिए घरों गांवों के आसपास पानी की व्यवस्था करते थे ताकि पशु पक्षियों की जान पानी के अभाव में न जाने पाये। इतना ही नहीं इधर बरसात कम होने के कारण पिछले काफी दिनों से गर्मी के मौसम में पशु पक्षियों एवं जीव जंतु की प्यास बुझाने के लिए सरकार द्वारा तालाबों में पानी भरवाया जाता है लेकिन इस बार गर्मी के मौसम में लोकसभा चुनाव होने के नाते तालाबों में पानी नहीं भराया जा सका है जिसकी वजह से इस बार की गर्मी पशु पक्षियों जीव जंतुओं के लिये काफी दुखदायी साबित हो रही हैं|

पशु पक्षियों एवं जीव जंतुओं को जान बचाने के लाले पड़े हुए हैं। चुनावी गर्मी के साथ मौसमी गर्मी के चलते पारा सातवें आसमान पर चला गया है और दोनों गर्मियों ने लोगों को बेहाल कर रखा है।सभी लोगों से अपील करते हैं कि इस भीषण गर्मी में आवारा पशुओं जंगली जानवरों पक्षियों एवं जीव जंतुओं की प्यास बुझाने के लिए घरों के अंदर बाहर पानी की व्यवस्था कर पुण्य के भागीदार बने जीव हत्या होने से बचाया जा सके ।

About IBN24X7NEWS

Check Also

पटना के पॉश इलाके में ट्रिपल मर्डर की वारदात ने पूरे शहर में सनसनी फैला दी है

रिपोर्ट कुंदन कुणाल ibn24x7news पटना पटना के कोतवाली कॉलोनी थाना इलाके के किदवईपुरी में ट्रिपल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *