ग्रामीणों ने लगाया ग्राम प्रधान व पंचायत सचिव पर सरकारी धन का दुरुपयोग करने का आरोप, आलाधिकारी भी मौन

मवई अयोध्या – शासन द्वारा स्वीकृत प्रत्येक गांव में बन रहे पंचायत भवन में ग्राम प्रधान व पंचायत सचिव की मिली भगत से घटिया निर्माण सामग्री का प्रयोग करके सरकारी धन का आपसी बंदरबांट किया जा रहा है।अधिकतर ग्राम सभाओं में पंचायत भवन के निर्माण में पीली ईंट का प्रयोग किया जा रहा है।जिससे ग्रामीणों में भारी रोष व्याप्त है।जबकि जिम्मेदार अधिकारी मूक दर्शक बनकर तमाशा देख रहे हैं।
ताजा मामला रुदौली ब्लाक के ग्राम सभा टाण्डा सूफी के छुलहा व ग्राम सभा रहीमगंज का प्रकाश में आया है।जंहा शासन की मंशा के अनुसार लाखों रुपये की लागत से बन रहे पंचायत भवन के निर्माण में ग्राम प्रधान तथा पंचायत सचिव द्वारा घटिया सामग्री का इस्तेमाल कर खेल किया जा रहा है।छुलहा गांव में तो पूरे पंचायत भवन का निर्माण ही पीली ईंट से कराया जा रहा है।
लगभग यही हॉल रहीमगंज गांव का भी है जहां पंचायत भवन के लिए तैयार की गई नींव को पूरी तरह पीली ईंट से बनाया गया है ये कब तक टिकेंगे इनका कोई भरोसा नही है।आक्रोशित ग्रामीणों का आरोप है कि पंचायत भवन के निर्माण के लिए सरकार द्वारा भारी धनराशि आवंटित की गई है।लेकिन ग्राम प्रधान तथा पंचायत सचिव आपसी मिली भगत से सरकारी धन का बंदरबांट करने पर तुले हुए हैं और निर्माण में घटिया सामग्री का प्रयोग किया जा रहा है।इस सम्बंध में जब खंड विकास अधिकारी रुदौली अमित त्रिपाठी से बात करने की कोशिश की गई तो उनका फोन नही उठा।खंड विकास अधिकारी का फोन अधिकतर नही उठता है चाहे वह फरियादी द्वारा ही क्यों न किया गया हो।

संवाददाता – मुदस्सिर हुसैन आईबीएन न्यूज़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

WhatsApp For any query click here