Breaking News
Home / Highlight's / बेटियां कब होंगी सुरक्षित… चंदौली पुलिस से बड़ा सवाल, सचेत होती पुलिस तो विवाद उग्र रूप धारण न करता…..

बेटियां कब होंगी सुरक्षित… चंदौली पुलिस से बड़ा सवाल, सचेत होती पुलिस तो विवाद उग्र रूप धारण न करता…..

 

जनपद चंदौली के चकिया थाना क्षेत्र अंतर्गत पड़ने वाले गांव मोहम्मदाबाद शेरपुर के सुलगते विवाद की जानकारी से कोई महरूम नहीं रहा, मामले में उग्रता एवं हिंसा की जड़ रही बेटियों की सुरक्षा। यदि चंदौली का खाकी प्रशासन घटना के दौरान सचेत होकर कार्य करती तो शायद भीड़ सड़क पर उतकर तोड़फोड़ को आमादा न होती।

घटना के पहले ही दिन छेड़खानी एवं मारपीट के जुर्म में पकड़े गए दोनों पक्ष के लोगों को सिर्फ हिदायत देकर छोड़ना चकिया कोतवाली को भारी पड़ गया। दूसरे पक्ष द्वारा बाहरी लोगों को बुलाकर युवती पक्ष के घर पर चढ़कर लाठी, डंडे और धारदार हथियार से हमला कर दिया गया जिसमें एक दर्जन के करीब लोगों को गम्भीर चोटें आईं।

जिसके पश्चात लोग लामबंद होकर सड़क पर उतर आए और हंगामा करते हुए तोड़फोड़ मचाने लगे। उक्त सूचना के बाद चार थानों की फोर्स एवं एडिशनल एसपी वीरेंद्र यादव, सीओ नीरज पटेल ने मौके पर पहुंचकर स्थिती को नियंत्रण करने की भरसक कोशिश की और घायलों को इलाज वास्ते संयुक्त चिकित्सालय चकिया ले आई। देर रात घायलों की स्थिती गम्भीर होने पर वाराणसी रेफर कर दिया गया। इसके पश्चात पीड़ित पक्ष पर मामला दर्ज किए जाने का दबाव बनाने लगी।

लेकिन सुबह पुनः ग्रामीणों द्वारा चकिया-इलिया मार्ग पर आवागमन अवरुद्ध कर दिया गया। आखिर जनता सड़क पर क्यों उतरी?? सबसे बड़ा सवाल की खाकी महकमा छेड़खानी के विवाद को इतने हल्के में क्योंकर ली…कि जनता को उग्र रूप धारण करना पड़ा। अभी तक प्राप्त सूचना के आधार पर गांव के चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात कर अधिकारियों की लगातार आवजाही एवं स्थिती पर नजर बनाए हुए हैं। रात और सुबह पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल में मौके पर पहुंचकर सख्त निर्देश के बाद पुलिस ने सख्ती का रुख अख्तियार किया।

लेकिन कोई भी अधिकारी मामले के बाबत जवाब देने में चुप्पी साधे हुए है। जबकि मामला इतना गम्भीर रूप धारण कर सामने आया कि दो समुदाय के पक्ष आमने-सामने आ गए और हिंसा पर उतारू हो गए।

इस घटना से पूर्व भी ऐसे मामले सामने आए हैं लेकिन इन घटनाओं से किंचितमात्र भी पुलिस ने सबक नहीं लिया और घटना की उग्रता में तोड़फोड़, मारपीट की जद में कई लोग आए, कई गाड़ियां छतिग्रस्त कर दी गईं।और, पुलिस को इतने बड़े पैमाने पर अभियान चलाना पड़ा। चूंकि घटना के मूल वजह की जानकारी उच्चाधिकारियों के संज्ञान में आ चुकी है लेकिन अब तक घटना के कृत्य में शामिल आरोपित अभी भी पुलिस की पहुंच से कोसों दूर हैं।

घटना के इतने बड़े उग्र रूप के बाद भी पुलिस की पकड़ से पीड़ित पक्ष द्वारा गई तहरीर के आधार पर आरोपित तक पुलिस का न पहुंच पाना सवालिया निशान लगाती है। वहीं घटना के बारे में अधिकारियों की चुप्पी भी बड़ा सवाल उठाती है…कि आखिर बेटियां कब महसूस करेंगी खुदको सुरक्षित…

 

ब्यूरो रिपोर्ट ओ पी श्रीवास्तव IBN NEWS चंदौली

About IBN NEWS

It's a online news web channel running as IBN24X7NEWS.

Check Also

लखनऊमें अज कोरोना बिस्फोट

लखनऊ में आज 78 पाजिटिव रोगी ( 27 महिला एवं 51 पुरूष ) पाये गये …

लखनऊ : कानपुर कांड के बाद प्रदेश की कानून-व्यवस्था को लेकर सीएम की अहम वीडियो कांफ्रेंसिंग

  आज शाम 07:30 बजे मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित होगी वीसी। यूपी के सभी पुलिस …

चंदौली : 65 पेटी अवैध शराब एवं एक रिवाल्वर,एक तमंचा के साथ दो तस्कर गिरफ्तार….

  जनपद चंदौली में पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल के निर्देशानुसार अपराध-अपराधियों एवं मादक पदार्थों की …

कोरोना ने मां भण्डारी के विदाई समारोह पर लगाया ग्रहण, राजा भैया नहीं कर पायेंगे भव्य अतिथियों का स्वागत

अहरौरा – मीरजापुर। कोरोना महामारी के कारण प्रत्येक तीसरे वर्ष होने वाले मां भण्डारी के …

कानपुर द्वारा बच्चों में अपने पर्यावरण के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए प्रदेश स्तर पर चित्रकला प्रतियोगिता का ऑनलाइन आयोजन किया गया

यूथ हॉस्टल्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया, उत्तर प्रदेश राज्य शाखा, कानपुर द्वारा बच्चों में अपने पर्यावरण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp For any query click here